scorecardresearch

दिल्लीः इंडिया गेट पर लगाई जाएगी नेताजी सुभाष की ग्रेनाइट की मूर्ति, 125वीं जयंती की खास तैयारी

इंडिया गेट पर नेताजी की मूर्ति लगाने के साथ ही करीब 50 साल से वहां मौजूद अमर जवान ज्योति को हटाने को फैसला किया गया है। सरकार के आदेश के बाद 1971 और अन्य युद्धों में शहीद होने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि देती अमर जवान ज्योति को नेशनल वॉर मेमोरियल में शिफ्ट किया जा रहा है।

23 जनवरी को नेताजी के जन्मदिन पर प्रधानमंत्री मोदी सुभाष चंद्र बोस के होलोग्राम वाला स्टैच्यू का लोकार्पण करेंगे। (फोटो: जनसत्ता ऑनलाइन)

प्रधानमंत्री मोदी ने शक्रवार को ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा कि इंडिया गेट पर स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की ग्रेनाइट की विशाल मूर्ति लगाई जाएगी। हालांकि मूर्ति के तैयार होने तक वहां सुभाष चंद्र बोस का होलोग्राम वाला स्टैच्यू मौजूद रहेगा।

शुक्रवार को पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ऐसे समय में जब पूरा देश नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती मना रहा है तो मुझे आपसे यह साझा करते हुए बेहद खुशी हो रही है कि ग्रेनाइट की बनी उनकी एक भव्य मूर्ति इंडिया गेट पर स्थापित की जाएगी। यह नेताजी के प्रति देश के आभार का प्रतीक होगा।  

एक और ट्वीट में प्रधानमंत्री मोदी ने यह लिखा कि जब तक नेताजी की ग्रेनाइट की प्रतिमा बनकर तैयार नहीं हो जाती तब तक उस स्थान पर उनका एक होलोग्राम वाला स्टैच्यू लगाया जाएगा। मैं 23 जनवरी को नेताजी के जन्मदिन पर इसका लोकार्पण करूंगा। बता दें कि जिस जगह नेताजी की मूर्ति लगाई जाएगी वहां 60 के दशक में जार्ज पंचम की मूर्ति लगी हुई थी। जिसे बाद में हटा दिया गया था।

इंडिया गेट पर नेताजी की मूर्ति लगाने के साथ ही करीब 50 साल से वहां मौजूद अमर जवान ज्योति को हटाने को फैसला किया गया है। सरकार के आदेश के बाद 1971 और अन्य युद्धों में शहीद होने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि देती अमर जवान ज्योति को नेशनल वॉर मेमोरियल में शिफ्ट किया जा रहा है। शुक्रवार करीब तीन बजे अमर जवान ज्योति की लौ को वॉर मेमोरियल की ज्योति में मिला दिया जाएगा।

अमर जवान ज्योति को बुझाने को लेकर विपक्षी दलों ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि बहुत दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा। कुछ लोग देशप्रेम व बलिदान नहीं समझ सकते- कोई बात नहीं, हम अपने सैनिकों के लिए अमर जवान ज्योति एक बार फिर जलाएंगे! वहीं आप नेता संजय सिंह ने भी ट्वीट कर लिखा कि मोदी जी आप न किसान के हैं न जवान के। 1971 के भारत-पाक युद्ध में हमारे जवानों ने अपनी शहादत दी उनकी याद में 50 वर्षों से ये अमर जवान ज्योति जल रही है। आप उस ज्योति को बुझाकर वीर जवानो की शहादत का अपमान कर रहे हैं। ये देश आपको माफ़ नहीं करेगा।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट