ताज़ा खबर
 

वन मैन पार्टी की छवि, 1 बेटा और 5 बेटियों के पिता हैं नेफ्यू रियो

नागालैंड में बीजेपी और नेशनल डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) ने मिलकर सरकार बनाई है। दोनों पार्टियों के गठबंधन ने एनडीपीपी के वरिष्ठ नेता नेफ्यू रियो को मुख्यमंत्री चुना था। शपथ ग्रहण समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहे।

नेफ्यू रियो चौथी बार नागलैंड के मुख्यमंत्री बने हैं। (एक्सप्रेस फोटो)

कुछ देर तक लोकसभा सांसद रहे नेफ्यू रियो ने बुधवार (8 मार्च, 2018) को नागालैंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है। वह चौथी बार राज्य के मुख्यमंत्री बन गए हैं। विधानसभा चुनाव में 17 सीटें हासिल करने वाली नेशनल डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी ने भाजपा (12 सीटें) और अन्य दलों के सहयोग से एक बार फिर सरकार बना ली है। 60 सीटों वाली विधानसभा में बहुमत के लिए 31 सीटों की जरूरत थी। साल 1950 में पैदा हुए नेफ्यू ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत कांग्रेस के साथ की। 1989 में वह कांग्रेस के टिकट पर उत्तरी अंगामी-II से विधानसभा चुनाव जीते। बाद में उन्हें खेल, स्कूली शिक्षा, कला और संस्कृति, उच्च शिक्षा मंत्री बनाया गया। नेफ्यू रियो 1984 से 1987 तक उत्तरी क्षेत्र अंगामी काउंसिल के चेयरमैन रहे। 1993 में ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सदस्य बने।

1993 में ही उन्हें श्रम और आवास मंत्री बनाया गया। 1998 में नागालैंड के गृहमंत्री बने नेफ्यू ने साल 2002 के सितंबर महीना में पद से इस्तीफा दे दिया और इसी साल नवंबर में राज्य की विधानसभा सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया। नेफ्यू ने पहली बार साल 2003, 6 मार्च को नागालैंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। हालांकि 2008 में उन्हें पद से हटाकर राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया। इसके बाद 12 मार्च नेफ्यू एक बार फिर असेंबली के नेता चुने गए। साल 2013 में नेफ्यू तीसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री चुने गए। साल 2018 में नेफ्यू ने चौथी बार सूबे के सीएम पद की शपथ ले ली है। करीब 30 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक नेफ्यू रियो को वन मैन पार्टी की छवि का नेता माना जाता है। उनका एक बेटा और चार बेटियां हैं। उन्होंने साल 1975 में कैसा रियो से विवाह किया।

गौरतलब है कि नागालैंड में बीजेपी और नेशनल डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) ने मिलकर सरकार बनाई है। दोनों पार्टियों के गठबंधन ने एनडीपीपी के वरिष्ठ नेता नेफ्यू रियो को मुख्यमंत्री चुना था। शपथ ग्रहण समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहे। उनके अलावा केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू भी मौजूद रहे। इस समारोह में मणिपुर के मुख्यमंत्री बिरेन सिंह, अरुणाचल प्रदेश के सीएम पेमा खांडू, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और मेघालय के सीएम कॉनराड संगमा ने भी शिरकत की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App