ताज़ा खबर
 

देखिए, नीमा बानो के पिता ने मांगी मदद, जवानों ने बर्फीली पहाड़ी में कंधे पर प्रेग्नेंट महिला को पहुंचाया अस्पताल

एक गर्भवती महिला को भारतीय सेना के जवानों ने भारी बर्फबारी के बीच मुश्किल परिस्थिति से निकालकर बेहतर इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया। इस घटना का वीडियो रिटायर्ड मेजर गौरव आर्य ने शेयर किया है।

indian army, Shefali Vaidya, Major Gaurav Arya, Neema Bano, jammu and kashmir, army, jansattaजवानों का यह वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। (video screenshot)

जम्मू-कश्मीर में बर्फीले तूफान के बीच भारतीय जवानों ने एक गर्भवती महिला को अस्पताल तक पहुंचाया। जवानों का यह वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। एक गर्भवती महिला को भारतीय सेना के जवानों ने भारी बर्फबारी के बीच मुश्किल परिस्थिति से निकालकर बेहतर इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया। इस घटना का वीडियो रिटायर्ड मेजर गौरव आर्य ने शेयर किया है।

रिटायर्ड मेजर ने अपने ट्विटर अकाउंट से इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा “नीमा बानो अपनी गर्भावस्था के अंतिम चरण में थीं। भारी बर्फबारी हो रही थी और सड़कें अवरुद्ध थीं। उन्हें पता नहीं था क्या करना है, उसके पिता ने मदद के लिए किलो फोर्स (राष्ट्रीय राइफल्स) को बुलाया। सैनिकों ने उन्हें घंटों अपने कंधों पर बैठाकर अस्पताल पहुंचाया। माँ और बच्चा दोनों ठीक हैं। ”

वीडियो में जवान महिला को खाट में लेटाकर बर्फीली पहाड़ी चढ़ रहे हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि ज्यादा बर्फ होने की वजह से जवानों को आगे बढ़ने में काफी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। रिटायर्ड मेजर गौरव आर्य के इस ट्वीट को कॉलमनिस्‍ट और भाजपा समर्थक शेफाली वैद्य ने भी शेयर किया है।

शेफाली वैद्य ने लिखा “हार्टवार्मिंग स्टोरी, लेकिन मुझे उम्मीद है कि नीमा बानो का बच्चा बड़ा होकर पत्थरबाज नहीं बनेगा!” वैद्य के इस ट्वीट पर यूजर्स उन्हें ट्रोल भी कर रहे हैं। एक यूजर ने लिखा “इतनी नफरत आप लाती कहा से हैं। यह कॉमेंट नहीं करती तो भी चल जाता।” एक ने लिखा “सांघी सोच कितनी गंदी हो सकती है इस बात का उदाहरण शेफाली वैद्य का यह ट्वीट है। शर्म कीजिये।”

यह पहली बार नहीं है जब ऐसी कोई खबर सामने आई है। इससे पहले बुधवार को गांदरबल और श्रीनगर में पुलिस ने हार्ट और किडनी की बीमारी से ग्रसित मरीजों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली कि लतिवाजा इलाके में एक हार्ट के मरीज को काफी तकलीफ थी और वह बुरी तरह दर्द से कराह रहा था। जिसके बाद पुलिस की एक टीम ने उस व्यक्ति को गांदरबल जिला अस्पताल में पहुंचाया।

इसी तरह से श्रीनगर में पुलिस टीम को सूचना मिली की एक किडनी के मरीज की तबियत बहुत खराब हो चुकी है उसे तत्काल डॉक्टरों की आवश्यकता है। तुरंत ही पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और मरीज को अस्पताल लेकर गई। स्थानीय लोग पुलिस की इस तरह की मदद से काफी खुश हैं।

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट ने कहा: किसानों के साथ बातचीत में जमीनी स्तर पर सुधार नहीं
2 यूपी में यूं ही नहीं पास हो गया ‘लव जिहाद’ कानून, गवर्नर बोलीं- ज्यादातर लड़कियां थीं परेशान
3 मोदी को मेहनत से मिली पीएम की कुर्सी, मुझे भाजपा सरकार की उम्मीद नहीं थी, कम सीटें आने पर भी मैं कांग्रेस को बुलाता- प्रणब मुखर्जी ने लिखा
आज का राशिफल
X