scorecardresearch

विकास की प्रतिस्पर्धा में वन्यजीव संरक्षण का तकाजा

पूरी दुनिया में अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए विकास परियोजनाओं के विस्तार पर जोर बढ़ता गया है।

विकास की प्रतिस्पर्धा में वन्यजीव संरक्षण का तकाजा
चीता।

इस सिलसिले में पर्यावरण संरक्षण और विलुप्तहोते वन्यजीवों की चिंता लगभग हाशिये पर ढकेल दी गई है। हालांकि तमाम पर्यावरणविद लंबे समय से आगाह करते रहे हैं कि अगर वन्यजीवों का उचित संरक्षण नहीं किया गया तो पृथ्वी पर रहने वाले समस्त प्रणियों का जीवन-चक्र अस्त-व्यस्त हो जाएगा। मगर कभी-कभी महज दिखावे के लिए कुछ मामलों में संवेदनशीलता दिखाई जाती है, गंभीरता का सर्वथा अभाव है। वन्यजीवों के संरक्षण कोलेकर हुए अब तक के प्रयासों और इस दिशा में गंभीरता का विश्लेषण कर रहे हैं प्रदीप श्रीवास्तव।

पिछले दिनों नामीबिया से लाकर आठ चीते मध्यप्रदेश के कूनो राष्ट्रीय उद्यान में छोड़े गए। उसके बाद से विलुप्त हो रहे वन्यजीवों के संरक्षण को लेकर बहस तेज हो गई है। ये चीते करीब सात दशक बाद भारत के जंगलों में दिख रहे हैं। हालांकि, पर्यावरण को लेकर हम कई दशक से बात कर रहे हैं, लेकिन बीते सालों में मौसम में तेजी से हो रहे बदलाव और उसके प्रभावों ने इस ओर आम लोगों का भी ध्यान खींचा है।

चीतों को लाकर हमने ‘प्रकृति संरक्षण’ में एक सफलता तो हासिल कर ली है, लेकिन हमें अभी बहुत काम करना है। हम भले गाय को माता मानते और शेर को जंगल का राजा कहते हैं, लेकिन जब इनके संरक्षण की बात आती है, तो हम इन्हें इनके भाग्य के भरोसे छोड़ देते हैं। इसी का परिणाम है जंगलों से जानवरों का समाप्त होना और पर्यावरण को तेजी से नुकसान पहुंचना। पर्यावरण पर संकट मानव अस्तित्व के लिए भी संकट पैदा करता है। जंगलों के अस्तित्व के लिए जैव विविधता बहुत जरूरी है। अगर यह एक बार समाप्त हो गया तो उसे दोबारा नहीं बनाया जा सकता। यह इसलिए गंभीर विषय है, क्योंकि जंगल और जानवरों के बिना न तो किसी ग्रह और न ही मनुष्य की कल्पना की जा सकती है।

वन्यजीवों की विविध प्रजातियां

पृथ्वी पर पूरी दुनिया में जीवों की संख्या लगभग अठारह लाख मानी जाती है। हालांकि लाखों जीवों के बारे में हमें अभी जानकारी ही नहीं है। ऐसा माना जाता है कि पृथ्वी पर पचास लाख से पांच करोड़ के बीच जीव हैं। इनमें से अधिकांश का वर्णन और नामकरण अब भी नहीं हो सका है, जबकि जीव-जातियों की पहचान और इनके नामकरण का क्रमबद्ध कार्य पिछले ढाई सौ सालों से किया जा रहा है। भारत की पारिस्थितिक और भौगोलिक दशाओं में विविधता के कारण यहां अनेक प्रकार के जीव-जंतु पाए जाते हैं।

हमारे देश में करीब पचहत्तर हजार जीवों की प्रजातियां पाई जाती हैं। इनमें करीब साढ़े तीन सौ स्तरनधारी, साढ़े बारह सौ पक्षी, डेढ़ सौ उभयचर, इक्कीस सौ मछलियां, साठ हजार कीट और चार हजार से अधिक मोलस्क और रीढ़ वाले जीव हैं। मगर दुर्भाग्य से, संरक्षण के अभाव में, इन जीवों की संख्या तेजी से कम हो रही है। खत्म हो रहे जीवों में जंगली जीव ही नहीं, पहाड़ों, नदियों तथा महासागरों में रहने वाले वे जीव भी शामिल हैं, जिन पर अभी तक मनुष्यों की नजर नहीं पड़ी थी। अनजाने में ही मानवीय गतिविधियों के कारण पिछले कुछ वर्षों से इस तरह के जीवझ्रजंतु तेजी से लुप्त हो रहे हैं।

‘इंटरनेशनल यूनियन फार द नेचर ऐंड नेचुरल रिसोर्सेज’ (आइयूसीएन) एक मान्यता प्राप्त संस्था है, जो वैश्विक स्तर पर संकटग्रस्त जीवों और पेड़झ्रपौधों को सूचीबद्ध करती है। इसकी रिपोर्ट को ‘रेड डाटा बुक’ कहते हैं। रेड डाटा बुक में शामिल जीवों के संरक्षण की कवायद पूरी दुनिया में की जाती है। इसकी रिपोर्ट के अनुसार 1970 से 2020 तक जीवों की संख्या में तेजी से कमी आई है। जलीय जीवों के अवैध शिकार, फफूंद संक्रमण और औद्योगिक इकाइयों के प्रदूषण के कारण तीन सौ प्रजातियां विलुप्त होने के कगार पर पहुंच चुकी हैं।

संकट की स्थितियां

इसके अलावा प्राकृतिक आपदाएं, विभिन्न प्रकार के रोग, जीवों की प्रजनन क्षमता में कमी भी प्रमुख कारण हैं। यूरोप के समुद्र में ह्वेल और डाल्फिन जैसे भारी-भरकम जीव तेजी से खत्म हो रहे हैं। एक आंकड़े के मुताबिक गाय, भेड़ और बकरियों जैसे जानवरों के उपचार के समय दी जा रही खतरनाक दवाओं के कारण दक्षिण-पूर्व एशिया में गिद्धों की संख्या में कमी आई है। भारत में गिद्धों की संख्या में सत्तानबे फीसद की गिरावट दर्ज की गई है।

गिद्धों की कमी से मृत पशुओं की सफाई, बीजों का प्रकीर्णन और परागण बुरी तरह प्रभावित हो रहा है और कई तरह की बीमारियां पनप रही हैं। भारत ने भी वन जीवों के संरक्षण पर काफी जोर दिया है। क्योंकि, आजादी के बाद देश का तेजी से विकास किया जाना जरूरी था, इसलिए निर्माण परियोजनाओं, सड़कों, बांधों आदि के लिए जंगलों और कृषि भूमि को काटा गया।

इससे विभिन्न वन्यजीवों और पौधों के निवास स्थान की हानि हुई। ये गतिविधियां जानवरों को उनके घर से वंचित करती हैं। परिणामस्वरूप या तो उन्हें किसी अन्य निवास स्थान पर जाना पड़ता है या फिर वे विलुप्त होते गए। साथ ही, संसाधनों का उपयोग बुद्धिमानी से नहीं किया गया, इसका अत्यधिक इस्तेमाल किया गया, जिससे कई प्रजातियां विलुप्त होने लगी। आधुनिक युग में भी मनोरंजन के लिए जानवरों का शिकार करना आम बात है। कई तरह के उत्पादों के लिए भी जानवरों का अवैध शिकार किया गया। कस्तूरी हिरण आज करीब-करीब विलुप्त हो चुका है।

सुरक्षा के उपाय

हालांकि, ‘वन्यजीव संरक्षण’ संबंधी कई कानून हैं। वन्यजीव का मतलब ऐसे जानवर जो पालतू या समझदार नहीं हैं। वे पूरी तरह जंगल के माहौल में रहते हैं। ऐसे जानवरों की प्रजातियों का संरक्षण जरूरी है और वे विलुप्त न हों, इस पूरी प्रक्रिया को वन्यजीव संरक्षण कहा जाता है। वन सुरक्षा कानून 1980 में बना और इसमें संशोधन 1981 और 1991 में किए गए, ताकि वनों को संरक्षित किया जा सके।

वनों की सुरक्षा के लिए 1981 में ‘फारेस्ट सर्वे आफ इंडिया’ की स्थापना की गई थी। इसका मुख्य कार्य वनों के क्षेत्र को मापने के लिए देशव्यापी सर्वेक्षण के माध्यम से देश के वन धन को इकट्ठा और मूल्यांकन करना है। राष्ट्रीय वन नीति 1988 में अस्तित्व में आई। इसका निर्माण करने का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण की रक्षा करते हुए पारिस्थितिकी संतुलन को संरक्षित करना है।

इसकी नीति का उद्देश्य वनों के संरक्षण और देश भर में गहन वन कार्यक्रमों को लागू करना है। योजनाओं और सरकारी प्रयास से पारिस्थितिक पुनर्स्थापना, पर्यावरण संरक्षण, प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण, पर्यावरण विकास, भूमि में गिरावट, वनों की कटाई और जैव विविधता के नुकसान की जांच के उद्देश्य से राष्ट्रीय वनीकरण कार्यक्रम शुरू किया गया, जिसका हमें काफी लाभ मिला।

भारत सरकार ने 1973 में टाइगर परियोजना की शुरूआत की। इसके तहत बाघों की घटती जनसंख्या के संरक्षण की पहल शुरू की गई। बंगाल के बाघ बढ़ती मानव गतिविधियों और प्रगति के परिणामस्वरूप काफी तेजी से कम होते जा रहे थे। इसलिए उनके निवास स्थान और उनकी संख्या को बचाने बचाया गया। इसका फायदा भी हुआ और खत्म हो रहे रायल बंगाल टाइगर को बचाया गया।

बाद में उनकी संख्या एक से पांच हजार के लगभग बढ़ गई। इसके लिए नौ संरक्षित क्षेत्रों को बढ़ा कर पचास किया गया। यह वास्तव में राष्ट्रीय पशु बाघ के संरक्षण की दिशा में एक सफल प्रयास था। इसी तरह, ‘प्रोजेक्ट एलीफेंट’ शुरू किया गया। सड़क, रेलवे, रिसार्ट, इमारत आदि के निर्माण जैसी विकास संबंधी गतिविधियों के कारण जंगलों और चारागाह की जगहें कम होने लगीं, जिससे मानव और जंगली जानवरों के बीच संघर्ष बढ़ा।

इसमें सबसे मुख्य है हाथी। सरकार ने 1992 में हाथियों की संख्या को संरक्षित करने, उनके आवास के रखरखाव, मानव-पशु संघर्ष को कम करने के साथ-साथ शिकार और अवैध शिकार को कम करने के लिए हाथी परियोजना की शुरुआत की। यह परियोजना केंद्रीय स्तर पर शुरू की गई, लेकिन इसकी पहल राज्यों द्वारा की गई। इस परियोजना के तहत विभिन्न राज्यों को आवश्यकता के अनुसार धन भी दिया गया। इस समय देश में सोलह राज्य मुख्य रूप से इस अभियान से जुड़े हैं।

1975 में मगरमच्छों को संरक्षित करने के लिए राज्य स्तर पर मगरमच्छ संरक्षण परियोजना शुरू की गई। इसका उद्देश्य मगरमच्छों के आवास के होते विनाश को रोकना था और इस प्रकार उनकी संख्या को बढ़ाने में मदद करना था। साथ ही, इनके शिकार और हत्या पर नजर रखी जाने लगी। इस पहल से 2012 तक इनकी संख्या सौ से बढ़ा कर एक हजार हो गई।

इसी तरह 1999 यूएनडीपी ने सागर कछुआ संरक्षण परियोजना शुरू की। इस परियोजना का उद्देश्य कछुओं की आबादी की घटती संख्या का उचित प्रबंधन और संरक्षण करना है। इसके अलावा भारत सरकार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तरों पर अभ्यारण्य, वन्यजीव पार्क, राष्ट्रीय उद्यानों का विकास करके पर्यावरण विविधता को बनाए रखने के लिए काम कर रही है।

संरक्षण संबंधी कानून

वनों और वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए ‘पर्यावरण संरक्षण अधिनियम’, ‘वन संरक्षण अधिनियम’, ‘राष्ट्रीय वन्य जीव कार्य योजना’, ‘टाइगर परियोजना’, ‘राष्ट्रीय उद्यान और अभयारण्य’, ‘जैव-क्षेत्रीय रिजर्व कार्यक्रम’ आदि कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। लेकिन, तेज औद्योगिक विकास और राजनीतिक इच्छा शक्ति की कमी के कारण पर्यावरण संरक्षण का काम अब भी काफी धीमा है, जबकि वैज्ञानिकों का मानना है कि पेड़ों की अंधाधुंध कटाई और जलवायु में हो रहे बदलाव के कारण कई जीव धीरे-धीरे ध्रुवीय दिशा या उच्च पर्वतों की ओर विस्थापित होने लगेंगे।

अगर ऐसा हुआ तो फिर विविधता और पारिस्थितिकी अभिक्रियाओं यानी जलवायु परिवर्तन पर नकारात्मक असर पड़ेगा, जिसके परिणाम गंभीर होंगे। भले यह बात अजीब लगती हो, लेकिन पृथ्वी पर करीब बारह करोड़ वर्षों तक राज करने वाले डायनासोर जैसे दैत्याकार जीव के समाप्त होने का कारण मूलत: जलवायु परिवर्तन ही था। अगर जलवायु परिवर्तन को गंभीरता से नहीं लिया गया तो आने वाले वर्षों में धरती से जीवों का अस्तित्व मिटना तय है।

‘ग्लोबल फारेस्ट रिसोर्स एसेसमेंट’ (जीएफआरए) की ताजा रिपोर्ट बताती है कि 1990 से 2015 के बीच कुल वन क्षेत्र तीन फीसद घटा है और एक लाख दो हजार लाख एकड़ से अधिक का क्षेत्र 98,810 लाख एकड़ तक सिमट गया है यानी 3,190 लाख एकड़ वन क्षेत्र में कमी आई है। एक अनुमान के मुताबिक विकास के नाम पर प्रत्येक वर्ष सात करोड़ हेक्टेयर वनक्षेत्र का विनाश कर रहा है।

वनों के विनाश से वातावरण जहरीला होता जा रहा है और प्रतिवर्ष दो अरब टन अतिरिक्त कार्बन-डाईआक्साइड वायुमंडल में घुल-मिल रहा है। इससे जीवन का सुरक्षा कवच मानी जाने वाली ओजोन परत को नुकसान पहुंच रहा है। जरूरत है कि समय रहते हम सचेत हो जाएं और अपने आसपास के वातावरण को हरा-भरा बनाना शुरू कर दें।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 27-11-2022 at 22:50 IST

युगलों के बीच की गलतफहमियां अपने आप दूर होकर शांतिपूर्ण संबध लौटेंगे। आपके लिए लंबी यात्रा के योग हो सकते हैं। इस यात्रा से आपको कुछ समय के लिए अपने परिवार से दूर रहना पड़ सकता है। नए उपक्रम की योजना बना रहे व्यापारियों को चाहिए कि आज काम का शुभारंभ अवश्य करें और इस…

विवाहित युगल आज अत्यधिक सामीप्य का अनुभव करेंगे और प्रेम और सद्भावनापूर्ण संबंधों का आनंद लेंगे खोजकर्ताओं का एक समूह आपको उनकी यात्रा में शामिल होने के लिए आमंत्रित कर सकता है। यह आपके लिए किसी सपने के पुरे होने जैसा होगा। आप हमेशा से ही पर्यटन के माध्यम से ज्ञान प्राप्त करने के इच्छुक…

अविवाहित व्यक्तियों को चाहिए कि अपने मित्रों को पार्टियों और समारोहों में हिस्सा लें, जिससे संभावित प्रेमी से भेंट हो सके। अगर परिवार के साथ बाहर सैर सपाटे पर जाने की योजना बना रहे हैं तो आज दिन अच्छा है। स्वास्थ्य सेवाकर्मी और डॉक्टर आज अपने व्यवसाय के चरम शिखर पर होंगे। राजनेताओं को आज…

आज कामकाज के संबंध में किसी से भेट हो सकती है जिससे मिलकर आप उसकी ओर आकर्षित हो सकते हैं। परिवार के वयस्क आज बहुत ऊर्जावान महसूस करेंगे। वे दूसरे सदस्यों के साथ भी मिलजुल कर आनंद मग्न रहेंगे। घर में छोटी-मोटी समस्याएं हो सकती हैं जिसके कारण आपको पहले से तय कोई सैर या…

वयस्कों के अनुभव और मार्गदर्शन से घर के सभी सदस्यों को लाभ होगा। बच्चों को अपने बुजुर्गों से व्यवहार करते समय मर्यादा में रहना चाहिए। उनका बचपना वयस्कों को दुखी कर सकता है। विद्यार्थियों के लिए अच्छा दिन है। वे बौद्धिक विषयों पर दोस्तों के साथ पूरे आत्मविश्वास के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे। जो लोग एक…

अविवाहितों के पालक उनके लिए योग्य सम्बंध के लिए प्रयत्न करेंगे। कोई अप्रत्याशित व्यावसायिक यात्रा आपके कार्यक्रम को उथल पुथल कर सकती है। लेकिन इस यात्रा के परिणाम आपके लिए फायदेमंद होंगे। अपने मकान निर्माण की योजना बना रहे लोगों के लिए आज शुभ दिन होगा। शेयर बाजार के मधास्था और प्रतिस्पर्धियों को आज अत्यधिक…

आज किसी प्रियजन के बारे में दुखद समाचार सुनने मिल सकता हैं, आपकी उपस्थिति और सहायता से उन्हें बहुत सांत्वना मिलेगी यदि आप अविवाहित है तो आज किसी भी नए व्यक्ति से मिलते समय सावधान रहें। धन रखें की हर चमकती सोना नहीं होती। आज आप अपनी यात्रा के दौरान किसी अविस्मरणीय व्यक्ति से मिल…

एकाकी जन आज किसी से मिलेंगे जो उनके जीवन में नए सकारात्मक बदलाव लाएगा। छात्रों के लिए आज अनुकूल दिन नहीं हैं। वे अपने दोस्तों के साथ बहस कर समय बर्बाद कर सकते हैं। आज खिलाड़ियों को अपने-अपने क्षेत्र में उपलब्धियों के लिए पुरस्कार मिलने की संभावना बताई जाती है। उन्हें आज जीवनगौरव पुरस्कार भी…

आज आप अपने पुराने रिश्ते को सुधारने की दिशा में क़दम उठाएंगे। ठंडी हवा और शीत पेय आदि से प्रभावित होने वाले बच्चों को इन चीजों से दूर रखें। मौसम के कारण उनका स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। जो लोग काम की तलाश में हैं उन्हें संकोच और शर्म छोड़ कर निशंक होकर दूसरों से मदत…

उत्सव के माहौल के रूप में परिवारों के लिए एक अच्छा दिन आता है और बहुत खुशीयां लाता है। शिक्षक और विद्यार्थी जो शैक्षणिक यात्रा पर जा रहे हों, उन्हें बहुत सजग रहने की आवश्यकता है। छोटी मोटी दुर्घटनाओं की संभावना है। जंगल, नदी, पहाड़ों से गुजरते समय सावधान रहें। आपकी व्यावसायिक नीतियाँ, कुशलता और…

अविवाहितों को किसी अनापेक्षित मार्ग से आज विवाह के प्रस्ताव मिल सकते हैं। बाहर मनोरंजन हेतु जाने का कार्यक्रम किसी अनापेक्षित कारण से स्थगित करना पड़ेगा, जिससे सभी को निराशा होगी। शिक्षकों के लिए आज शिक्षा के सन्दर्भ में चुनौती भरा दिन होगा। विद्यार्थियों की समस्याओं के समाधान से उनके अध्यापन कौशल्य की परीक्षा होगी।…

अविवाहित जन आज किसी आकर्षक व्यक्ति से मिल सकते हैं, पर उन्हें सलाह है कि कोई भी प्रतिबद्धता या समर्पण व्यक्त करने से पहले अच्छी तरह सोच समझ लें। आज बाजार का उतार चढ़ाव निवेशकों को अनापेक्षित मुनाफा दिलाएगा। वे वास्तव में बहुत बड़ा लाभ पा सकते हैं यदि सोच समझ कर निवेश करें। व्यवहार-कुशल…

आप आज महमानों को अपने घर आमंत्रित करेंगे और आदर्श मेजबान होंगे। आप सभी आमंत्रित लोगों से मेलजोल बढ़ाएंगे, अपने बारे में बताएँगे, साथ ही उन्हें भी अपने परिवार के बारे में बात करने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।कलाकार किसी नए रचनात्मक कलाकृति को शुरू करने के लिए अपनी कलात्मकता और प्रवृत्ति का उपयोग करेंगे।सरकारी परियोजनाओं…

आपके प्रणय को अंततः आज आपके माता-पिता की औपचारिक मंजूरी मिल जाएगी।उच्च शिक्षा के लिए बाहर जाने की इच्छा रखने वाले बच्चे आपकी सलाह के लिए आपसे संपर्क करेंगे जिससे आपको बहुत खुशी और गर्व होगा।छात्र आज अपनी जरूरी परियोजनाओं को करने में निष्क्रिय हो सकते हैं। जो लोग तकनीकी जाँच में हैं, वे भी…

मामूली बीमारी से ग्रस्त बच्चों को आज बिस्तर पर पड़े रहना होगा, जिससे खेलकूद ना कर सकने के कारण निराशा होगी।अपने हिस्सेदार पर अंधा विश्वास अनावश्यक आर्थिक नुकसान का कारण हो सकता है। उस पर विश्वास रखें पर सारी बातें उस पर ना छोड़ें। उनकी गतिविधियों पर ध्यान दें।आज वयस्क स्वजनों को स्वास्थ्य जाँच के…

व्यापारी के लिए आज का दिन अच्छा है। आज आप ग्राहकों, सहयोगियों और अधिकारियों से भेंट और वार्तालाप कर सकते है।अपने आर्थिक मामलों में सावधान रहें और भविष्य में सारे आर्थिक काम और अर्थ संकल्प बनाकर उसका पालन करें।जो लोग अचल संपत्ति के व्यवसाय में हैं, उनके नए सौदों में अनावश्यक देरी होने की संभावना…

लेखपालों के लिए आज अच्छा दिन है। वे आज ख्याति प्राप्त कर सकते हैं।संभवता छात्र आज आयोजित शैक्षणिक दौरे में भाग नहीं ले पाएंगे। विद्यार्थी आज शिक्षकों के पास आत्मीयता की अपेक्षा लेकर आयेंगे। उन्हें शिक्षकों की ओर से प्रशंसा और अपनापन मिलेगा।अपने नये रिश्ते को बढ़ने और परिपक्व होने के लिए थोडा और समय…

बच्चे आज खुद को क्षतिग्रस्त कर सकते हैं। उनको मामूली खरोंच या चोट हुई, तब भी पूरा परिवार परेशान हो जायेगा।तकनीकी विषयों का अध्ययन करने वाले छात्रों के लिए एक कठिन दिन हैं। उन्हें अध्ययन करने में समर्थ होने के लिए शांतिपूर्ण वातावरण की आवश्यकता है।कलाकार आज स्वयं को शारीरिक रूप से अस्वस्थ अनुभव करेंगे…

पक्ष के वरिष्ठ नेता उन राजनीतिज्ञों के प्रति उदासीन रहेंगे जो सफलता के लिये जी जान से प्रयत्न कर रहे हैं। स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए सारा दिन कुछ समस्याएं सामने आ सकती हैं। ये उनके लिए थका देने वाला दिन होगा। तथापि वे इन समस्याओं से छुटकारा पा लेंगे।वरिष्ठ वकील आज अपने उच्चाधिकारियों द्वारा…

तकनीकी दृष्टि से योग्य पेशेवर आज अपने कार्यक्षेत्र में ऊँचे आयाम हासिल करेंगे। कार्यक्षेत्र के नए क्षितिज का विस्तार करने के योग है।बच्चे आज घर के छोटे मोटे कामों में मदत करके बहुत सहायक साबित होंगे। आज शाम के लिए यदि आयोजित कार्यक्रम हो तो उत्सव मस्ती और आनंद से भरा हुआ होगा। आज का…

वयस्कों से अपनी किसी भी समस्या के लिए सलाह लीजिये। इससे आपको उनके अनुभव से लाभ होगा और उन्हें भी प्रसन्नता होगी।आप खुद को अस्वस्थ महसूस कर सकते है। इस दशा में आप किसी से भी सम्पर्क ना करके अकेले ही रहना पसंद करेंगे।लेखापालों को चाहिये कि किसी विशेष प्रकल्प के सिलसिले में किसी विशेषज्ञ…

आज अपने खान पान का विशेष ध्यान रखें। किसी विषैली वस्तु के सेवन या पेटदर्द की संभावना है। भोजन प्रमाणबद्ध और पौष्टिक हो, इसका ध्यान रखें।जो लोग अचल संपत्ति के व्यवसाय में हैं उनका आज का दिन बहुत व्यस्त रहने की संभावना है। अनेक फोन, ग्राहकों से संपर्क होंगे और उनके सौदा तथा व्यवहार पूर्ण…

लंबी बीमारी से पीड़ित शय्या ग्रस्त मरीज उचित दवा और देखभाल से जल्द ही ठीक हो जाएंगे। अपने प्रिय के साथ झगड़े से आज आप बहुत उदास रहेंगे। समझ बूझ कर समझौता कर लेना चाहिए।दोस्तों या सहपाठियों के साथ बात करते समय छात्रों को सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। गलतफहमी होने की संभावना…

जमीन-जायदाद के जुड़े कारोबारियों के लिए आज दिन अनुकूल रहेगा। आज काम की बहुत व्यस्तता रहेगी।बच्चों की शिक्षा आज परिवार के लिए विचार का विषय होगी।वकील गण आज अपने विवेक से निर्णय लेंगे और ये सफल निर्णय उन्हें सह-कर्मियों और वरिष्ठों से प्रशंसा दिलाएंगे।नई नौकरी के परिणाम के लिए प्रतीक्षा कर रहे खिलाड़ियों को आज…

इस महीने मेष राशि के सीमा दलों से जुड़ें जातकों को चाहिए कि वह स्वयं को संयमित रखकर अपनी ओर से किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार रहें। यह मास बुद्धिजीवियों वकीलों लेखकों और न्याय क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए बहुत सफल और सार्थक सिद्ध हो सकता है। जातक अपने अपने…

वृषभ राशि के जातकों के लिए जनवरी 2023 यह माह मिश्र फल देने वाला रहेगा, फिर भी शुभशुभ फल अधिक मिलेंगे। राजनीतिक पदों पर आसीन उच्चाधिकारी और सेना के मंत्रीगण और अन्य अधिकारी इस माह बहुत अधिक प्रवास और यात्राएं करने से थकान का अनुभव कर सकते हैं। उन्हें प्रशासन और अन्य कामो के सिलसिले…

जनवरी महिना मिथुन जातकों के लिए ग्रहों के अच्छे फलों के कारण अत्यंत शुभ फलदाई और संतोषजनक सिद्ध होगा. जातकों को चाहिए कि वे संबंधी शारीरिक विकारों से सतर्क रहें और आहार-विहार पर विशेष रुप से ध्यान देकर अनावश्यक व्याधियों से बचने का प्रयत्न करें. शिक्षाविदों को और विद्यार्थी युवको को इस माह शिष्यवृत्ती और…

वर्ष 2023 का आरंभ कर्क जातकों के लिए अत्यंत सुखद और शुभ फल प्रद सिद्ध होने वाला है. ग्रहों के स्वामी सूर्य की कृपा दृष्टि से कर्क जातकों को हर ओर से विजय, समृद्धि और हर दिशा में सफलता प्राप्त होने के शुभ योग दिखाई देते हैं. जनवरी का पूर्वार्ध अत्यंत व्यस्तता से भरा और…

सिंह जातकों के लिए यह माह अत्यंत फलदायी सिद्ध होगा। प्रजा, राज्य तथा उच्चाधिकारियों, शासन प्रशासन की ओर से कई प्रकार की सुविधाएं प्राप्त कर सकती हैं। यह मास विशेष रुप से सर्वोच्च श्रेणी के नेतागण, राज निक और उच्चाधिकारियों के लिए बहुत अधिक सुख और आनंद प्रदान करने वाला सिद्ध होगा। विवाह इच्छुक युवा…

कन्या जातक राजनेता, उच्च पदाधिकारी, लोकनायक, शासक वर्ग माह के पूर्वार्द्ध में अच्छे निर्णय और जनहित की नीतियों और उनके उचित व्यवस्था के कारण अपनी छवि सुधारने में सफल होंगे और विरोधियों और जन-सामान्य के विरोध पर विजय प्राप्त करेंगे। कृषि, पशुपालन, दुग्ध-व्यवसाय विशेष रूप से पशु, कुक्कुटखाद्य के उद्योग और व्यवसाय कठिन समय से…

इस माह तुला जातकों को शुभ ग्रहों की स्थिति से बहुत सुख और सफलता प्राप्त होगी और जीवन सहायक सिद्ध होगी। वैसे तो पूरा माह धन लाभ का आनंद और खुशियों भरा रहेगा, परंतु महीने के अंतिम पक्ष में थोड़े खर्च बढ़ सकते है। इस माह राजनीतिक प्रशासन, शासन, वकालत, प्रचार माध्यम शिक्षा और कृषि…

वृश्चिक राशि के लिए यह माह मिश्र फल देने वाला पर कुछ चुनौतियों भरा भी होगा। इस महीने शासनकर्मी उद्विग्न और चिंताग्रस्त रहेंगे, विरोध आदि राजनीतिक अस्थिरताओं के कारण मानसिक तनाव रहेगा। जन सामान्य के विरोध का शासक वर्ग को सामना करना पड़ सकता है। सेना, सीमा सुरक्षा दल, पुलिस दल आदि भी तनाव में…

जनवरी माह धनु जातकों के लिए बहुत अधिक आनंददायी और सुख संपन्नता भरा सिद्ध हो सकता है। महीने का प्रथम पूर्वार्ध जन साधारण और मध्यमवर्गीय जातकों के लिए बहुत अधिक धनार्जन, शासन, प्रशासन से सहायता या कानूनी समस्याओं से मुक्ति पाने वाला होगा और कुछ मामलों में माह के मध्य में दीर्घ समय से चलने…

जनवरी माह में मकर राशि के जातक मिले जुले फलों का अनुभव करेंगे। माह के पूर्वार्ध में जो मानसिक तनाव जातक अनुभव करेंगे, वह 15 तारीख के बाद निरस्त होगा उपरांत पूरा महीना शुभ ग्रहों की कृपा से सुख और आनंदपूर्वक बीतेगा। प्रेमी युगल, विवाहित दंपत्ति, इस काल में अविवाहितों को सुयोग्य जीवन साथी की…

कुंभ जातकों के लिए यह माह अत्यंत चुनौतीपूर्ण और कठिनाइयों भरा रहेगा। इस माह व्यापारी, स्वकर्मी, अधिकारी, राजनेता आदि जातकों को प्रचंड जन-विरोध और असंतोष का सामना करना पड़ सकता है। प्रशासन, सुरक्षादल, सेना, पुलिस और अन्य जातक इस माह परेशान रहेंगे और साथ में गृहस्थी से संबंधित समस्याओं से घिरे रहेंगे। परिवारजन के स्वास्थ्य…

यह नववर्ष का जनवरी माह मीन जातकों के लिए शुभ फल देने वाला माह सिद्ध होगा। जल थल सेना तथा इन क्षेत्र से संबंधित जातक कुछ तनाव का सामना कर सकते है। राजनीतिक, बड़े उद्योग, प्रशासन, उच्च शिक्षाइन सब के लिए निश्चित रूप से बहुत ही अच्छा समय होगा। पहले से संपन्न जातकों को कई…

वर्ष 2023 मेष जातकों के लिए मिश्र फल लेकर आ रहा है। इस वर्ष मेष जातकों के जीवन के कई नए आयाम उजागर होंगे, उन्हें व्यावसायिक और आर्थिक क्षेत्र में काफी सफलता और धनार्जन होने की संभावना है। विगतवर्ष की कई कठिनाइयां और आपदाओं से इस वर्ष जातक मुक्त हो जाएंगे। राजनीति-प्रशासन से जुड़े मेष…

वृषभ राशि के जातकों के लिए वर्ष 2023 अत्यंत ही शुभ और विकासक सिद्ध होगा। इस वर्ष वृषभ जातकों पर शनि की कृपा से बहुत योगकारक स्थितियां उत्पन्न हो रही हैं। खनिज व्यवसाय के लिए तो यह वर्ष अधिक समृद्धि और विकास को लेकर आ रहा है। इस वर्ष शनि के अतिरिक्त अन्य ग्रहों की…

वर्ष 2023 मिथुन जातकों के लिए अत्यंत शुभ और यशवर्धक सिद्ध होने के योग है। भावी ग्रह स्थिति और ग्रह योगों के अनुसार जातक सफलता और यश संपादन करेंगे। उन्हें जीवन के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में विगत वर्ष की तरह कठिनाइयों से नहीं जूझना पड़ेगा। विद्यार्थी वर्ग इस वर्ष कई सफलताओं को अर्जित कर प्रगति की…

कर्क राशि के जातकों के लिए वर्ष 2023 वैसे तो शुभ रहेगा, परंतु वर्ष के शुरुआत में जीवनसाथी के स्वास्थ्य में परेशानी, कार्यो में रुकावट, असामाजिक लोगों के संग से भारी परेशानी, कार्य में हानि की आशंका है। पारिवारिक मामलों के वर्ष के कुछ महीने तनावपूर्ण और मानसिक कष्ट देने वाले हो सकते हैं। अप्रैल…

सिंह राशि के जातकों के लिए सन 2023 इच्छित मनोकामना को पूर्ण करने वाला, यात्रा, घर परिवार, धर्म अध्यात्म विषयों में शुभकारी सिद्ध होने की पूरी संभावना है। घर परिवार में कई सकारात्मक परिवर्तन होने के योग हैं इस वर्ष आप कई धार्मिक और आध्यात्मिक आयोजनों में सहभागी होकर धर्म क्षेत्र में काफी अच्छा स्थान…

कन्या राशि के जातकों को सन 2023 में बहुत सतर्क रहकर अपने कार्य करने की आवश्यकता है। इस वर्ष आपके प्रयासों में कमी के कारण आपके कार्यों में कई कठिनाइयां उत्पन्न हो सकती हैं। नौकरीपेशा हैं तो आपकी स्थान परिवर्तन की और उन्नति की राह में कई अड़चनें आने की संभावनाएं प्रबल हैं फिर भी…

तुला राशि के लिए वर्ष 2023 अनुकूल रहेगा। वर्ष की शुरुआत में ग्रहों के शुभाशुभ योग भौतिक सुख-सुविधाओं के साथ यात्रा के अवसर देंगे। इस वर्ष तुला जातकों को शनि की साडेसाती से मुक्ति मिलेगी और गत सभी समस्याओं से मुक्ति का अनुभव होगा, मानसिक समाधान मिलेगा। नौकरीपेशा लोगों को तरक्की मिलेगी, कुछ जातक अपना…

वृश्चिक राशि के जातकों को 2023 मिलेजुले फल देगा। जातकों को व्यवसाय-कामकाज के क्षेत्र में कुछ उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। साल के शुरुआती 4 महीनों में आपकी स्थिति अच्छी रहेगी, इस साल आर्थिक स्थिति में ज्यादा बदलाव नहीं होगा। जातक अनावश्यक ख़र्चों पर अन्कुच रखें और अपने वित्त की उचित प्रबंधन योजना…

धनु राशि वालों को 2023 में शुभ परिणाम मिलेंगे। इस वर्ष आपका करियर और व्यवसाय भी उन्नति की बुलंदियों पर पहुंच सकता है। 17 जनवरी के बाद शनि के से जातकों को साढ़ेसाती से मुक्ति मिलेगी। धनु राशि के जातकों के जीवन में जो परेशानियां गत वर्ष तक चल रही थीं, वो इस वर्ष दूर…

मकर राशि जातकों को 2023 में बहुत शुभ फल देखने को मिलेंगे। साल 2023 में शनि मकर राशि को छोड़कर कुंभ राशि में प्रवेश करेगा, जिससे शनि की साढ़े साती का अंतिम चरण शुरू होगा। 2023 में कामकाजव्यवसाय की स्थिति गत साल से उत्तम रहेगी। शनि आपको इस वर्ष आपके परिश्रम का अच्छा फल देगा।…

कुंभ राशि के लिए साल 2023 मिले-जुले फल देने वाला वर्ष रहेगा। इस साल 17 जनवरी के बाद शनि कुंभ राशि में प्रवेश करेगा और साढ़े साती का दूसरा चरण शुरू होगा। साढ़ेसाती का मध्य चरण जातकों के जीवन में कुछ चुनौतियां ला सकती है। इस साल कुंभ जातकों को करियर के मामले में बहुत…

मीन राशि के लिए वर्ष 2023 मिलाजुला साल रह सकता है। इस साल जातकों को स्वास्थ्य और वित्त के मामले में विशेष ध्यान रखना होगा। इस वर्ष राशि का 17 जनवरी के बाद शनि साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू होगा, ऐसे में आपके जीवन में अचानक से चुनौतियां, अडचने बढ़ सकती हैं। मीन राशि के…

राशि व्यक्तित्व

मेष राशि के लोग आम तौर पर बहुत चतुर स्वभाव के होते हैं। इनकी खासियत यह है कि ये बहुत जोशीले और जिद्दी स्वभाव वाले तथा अपमान बर्दाश्त नहीं करने वाले होते हैं। किसी बात को तब तक नहीं स्वीकार करते हैं, जब तक इनका खुद का नुकसान नहीं हो रहा हो। अक्सर अपने गुप्त…

वृष राशि के व्यक्ति स्वभाव से शांति पसंद होते हैं। ये अपने काम में काफी लगन वाले होते हैं। किसी काम में जुट जाते हैं तो उसे तब तक नहीं छोड़ते हैं, जब तक उसका समाधान नहीं मिल जाता है। वृष राशि के जातकों को ज्योतिष शास्त्र से जुड़ी पुस्तकें पढ़ना, खेल-कूद, नृत्य, गायन, सत्संगति,…

मिथुन राशि के लोग अस्थिर स्वभाव के लेकिन आकर्षक व्यक्तित्व एवं चरित्र के होते हैं। उन्हें हर दिन नए परिवर्तन, भ्रमण और विविधता प्रिय होती है। ये बेहद हाजिर जवाब और फ़ुर्तीले होते हैं। इन लोगों की जिज्ञासु प्रवृत्ति और चतुराई इनको सामाजिक समारोहों और किसी भी पार्टी में आकर्षण का केन्द्र बना देती हैं।…

कर्क राशि के लोग बहुत भावुक होते हैं और दूसरों के जीवन से बहुत मतलब रखते हैं। इस राशि के लोगों को अपने जन्म स्थान से काफी लगाव होता है। चंद्रमा की वजह से इन्हें स्थान परिवर्तन करते रहना पड़ता है। स्वभाव में दृढ़ता होती है, साथ में दुर्बलता भी रहती है। इनकी मनःस्थिति परिवर्तनशील…

इस राशि के लोगों का व्यक्तित्व बहुत ही आकर्षक होता है और ये खुद भी अपने व्यक्तित्व को अधिक आकर्षक बनाना चाहते हैं। सिंह राशि के लोगों को जीवन से प्रेम होता है। इनकी आवश्यकताएं सामान्य से कहीं अधिक होती है, साथ ही ये लोग अधिक खर्चीले भी होते हैं। इनके हाथों में पैसा बिलकुल…

कन्या राशि वाले जातकों का स्वभाव कुछ-कुछ सरल और कुछ-कुछ कठोर होता है। ऐसे जातकों को प्रकृति से लगाव होता है, इसीलिए इन्हें बागवानी करना और खूबसूरत पौधों की देखभाल करना बेहद पसंद होता है। ये लोग अपने उतावलेपन और जल्दबाज़ी के कारण अकसर मुसीबत में फंस जाते हैं। इनके स्वभाव की सबसे बड़ी कमी…

तुला राशि के लोग अन्य लोगों के समक्ष खुद को बहुत छोटा अनुभव करते हैं, जिसकी वजह से उन्हें कभी-कभी आलोचना का शिकार होना पड़ता है। इस राशि के जातक भावुक होते हैं और प्रायः उनकी भावुकता उन्हें धोखा दे जाती है। इस राशि के लोग न्याय, जनस्वतंत्रता, जनाधिकार और सौंदर्य से लगाव रखते हैं।…

वृश्चिक राशि के जातकों का प्रेम संबंध एक अनोखे प्रकार का होता है। इनका पंचम स्थान मीन से संबंधित है। इसीलिए इस राशि के लोग अक्सर भ्रम के शिकार रहते हैं। वृश्चिक राशि वाले लोग प्रेम के भूखे होते हैं। उनकी शक्ति प्रेम ही होती है। ये प्रेम के बदले प्रेम की चाह रखते हैं।…

धनु राशि के लोगों को गुस्सा बहुत जल्दी आता है। ये खाने और शराब पीने के मामले में बहुत लापरवाह होते हैं, जिसकी वजह से इन्हें मोटापा और नशेड़ी होते है। इन्हें पारिवारिक संबंधों में बिलकुल भी दिलचस्पी नहीं होती है। यहां तक कि ये अपने खून के रिश्तों से भी दूर रहने की कोशिश…

मकर राशि के जातकों की स्मृति शक्ति मजबूत होती है। इसके साथ ही इनके विचारों में गहराई भी देखने को मिलती है। आर्थिक मामलों में मकर राशि के जातक अधिक सावधानी से कार्य लेते हैं। सबसे ख़ास बात यह है मकर राशि के जातक एक साथ कई कार्यों को करने में सक्षम होते हैं। अर्थात…

कुंभ राशि के जातकों का व्यक्तित्व आकर्षक होता है। इस राशि के लोग काफी बुद्धिमान होते हैं। इनकी तार्किक शक्ति काफी अधिक होती है। ये बुद्धिमान लोगों से दोस्ती रखने में विश्वास रखते हैं। भेड़चाल चलना इनकी आदत नहीं होती है कुंभ राशि के जातकों को अपने काम में दखलअंदाज़ी बर्दाश्त नहीं होती है। सामाजिक…

मीन राशि के जातक कलात्मक विचारों के होते हैं। मीन राशिफल के अनुसार, कला, संगीत, साहित्य लेखन जैसे विषय मीन राशि वालों के प्रिय विषय होते हैं। यदि शिक्षा क्षेत्र में जातक इन विषयों का चुनाव करते हैं तो जातक अधिक सफलता प्राप्त होती है। इसके अलावा इन्हें फोटोग्राफी, ज्योतिष, सामुद्रिक शास्त्र, अंकशास्त्र तथा लाइब्रेरी…