उत्तराखंडः चुनावों के नजदीक सेल्फ इंप्लॉयमेंट को लेकर सीएम धामी ने बैठक ले तय की डेडलाइन, हुए ट्रोल

चुनावों के नजदीक होने पर सीएम द्वारा योजनाओं को लेकर डेडलाइन दिए जाने पर सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया।

pushkar singh dhami
pushkar singh dhami chairing a meeting (Photo- Twitter- Pushkar singh Dhami)

कुछ महीनों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अधिकारियों के साथ ताबड़तोड़ बैठकें कर रहे हैं और विभिन्न योजनाओं को लेकर वे डेडलाइन तय कर रहे हैं। ऐसी ही एक बैठक उन्होंने मंगलवार को की, जिसमें उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि लोन देने के लक्ष्य को 15 दिसंबर तक पूरा करें। वहीं, चुनावों के नजदीक होने पर सीएम द्वारा योजनाओं को लेकर डेडलाइन दिए जाने पर सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया।

इस बैठक को सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा, “कुछ दिनों के मेहमान हैं।” दरअसल, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज देहरादून में स्वरोजगार योजनाओं पर बैठक की अध्यक्षता करते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस वर्ष विभिन्न योजनाओं के तहत लोन देने का लक्ष्य रखा गया है, उस लक्ष्य को 15 दिसम्बर 2021 तक पूरा किया जाए।

इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कि केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं की विभिन्न माध्यमों से लोगों को जानकारी दी जाए।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि 15 दिसम्बर, 2021 तक निर्धारित लक्ष्य पूरा करने के साथ-साथ जिन योजनाओं में अधिक आवेदन प्राप्त हो रहे हैं, लक्ष्य से अधिक लोन स्वीकृत करने के लिए प्रयास किए जाएं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अनावश्यक आपत्तियां लगाने वालों पर सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया और कहा कि बैंकों द्वारा आवेदन प्राप्त होने के एक सप्ताह के अन्दर लोन की प्रक्रिया को पूरा किया जाए। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सरकार की योजनाओं का लाभ लोगों को समय पर मिले और अनावश्यक रूप से लोगों को दफ्तरों के चक्कर न लगाना पड़े।

युवाओं पर है प्रदेश सरकार की नजरें

बता दें कि, उत्तराखंड की भाजपा सरकार में नेतृत्व परिवर्तन के बाद पुष्कर सिंह धामी प्रदेश के युवाओं के लिए रोजगार, स्वरोजगार पर ध्यान केंद्रित किए हुए हैं। कैबिनेट की बैठक से पहले ही इसको लेकर उन्होंने संकेत भी दे दिए थे। भाजपा सरकार इन तमाम प्रयासों के जरिए युवाओं को साधने की कोशिश में जुटी है तो वहीं, संगठन भी युवा चेहरों को तवज्जो देने की बातें कर रहा है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।