ताज़ा खबर
 

PM के पास बंगाल जाने का वक्त है, पर दिल्ली में किसानों के लिए नहीं- मोदी के मेगा शो पर पवार का निशाना

पवार ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का साथ देते हुए कहा, "पश्चिम बंगाल में एक महिला को जिसे लोगों ने मुख्यमंत्री बनाया, उसके खिलाफ केंद्र सरकार एजेंसियों का प्रयोग कर रही है।"

NCP, Sharad Pawar, Farmers Protestराकांपा प्रमुख शरद पवार ने रांची से पीएम मोदी पर साधा निशाना।

राकांपा प्रमुख शरद पवार ने रविवार को झारखंड के रांची में पार्टी की एक रैली के दौरान भाजपा पर जमकर निशाना साधा। पवार ने कहा कि केंद्र की सत्ता भाजपा के हाथ में जाने के बाद से देश में सांप्रदायिक जहर बढ़ा है। उन्होंने किसान आंदोलन को नजरअंदाज करने के लिए पीएम मोदी को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि प्रधानमंत्री के पास विदेश जाने का समय है। आज पश्चिम बंगाल में जाने के लिए उनके पास समय है। लेकिन देश की राजधानी के पास 20 किलोमीटर पर पिछले 100 दिनों से किसान आंदोलन पर बैठे हैं उनके पास किसानों से मिलने का समय नहीं है।

राकांपा प्रमुख आज रांची के हरमू मैदान में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। यहां पश्चिम बंगाल में सत्तासीन तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी का पक्ष लेते हुए पवार ने कहा कि पश्चिम बंगाल में एक महिला को जिसे लोगों ने मुख्यमंत्री बनाया, उसके खिलाफ केंद्रीय एजेंसियों का प्रयोग कर रहे हैं। इनके हाथ में सत्ता नहीं आए, यह हमें सुनिश्चित करना है।

कोरोना महामारी पर भी पूछे सवाल: कोरोना महामारी के दौरान लोगों की परेशानियों का मुद्दा उठाते हुए शरद पवार ने पूछा कि मोदी ने क्या किया? भाजपा के कार्यकर्ताओं से कहा कि थाली बजाओ और लोगों को जागरूक करो। हम थाली बजाने वाले नहीं, थाली में खाना कैसे जुटे उसकी चिंता करते हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस नेता पी चिदंबरम भी मोदी द्वारा दिल्ली में किसानों को नजरअंदाज किए जाने के मुद्दे को उठा चुके हैं। उन्होंने पिछले हफ्ते ट्वीट में लिखा था, ‘पीएम केरल से लेकर असम तक यात्रा कर रहे हैं, लेकिन इतना समय या इच्छा नहीं है कि वे दिल्ली की सीमाओं पर 20 किमी जाकर किसानों से मुलाकात कर सकें।’

राहुल और प्रियंका गांधी भी साध चुके हैं मोदी पर निशाना: एक दिन पहले ही किसान आंदोलन के 100 दिन पूरे होने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने कहा था, “देश की सीमा पर जान बिछाते हैं जिनके बेटे, उनके लिए कीलें बिछाई हैं दिल्ली की सीमा पर. अन्नदाता मांगे अधिकार, सरकार करे अत्याचार!”

उनके अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने किसानों का समर्थन करते हुए कहा था, “100 दिन किसानों के संघर्ष के, हक की लड़ाई के, अन्नदाता के सम्मान के, गांधी जी, सरदार पटेल, नेहरू जी, शास्त्री जी, शहीद भगत सिंह के दिखाए हुए रास्ते के। आगे प्रियंका गांधी ने लिखा- 100 दिन भाजपा सरकार के अहंकार के, किसानों पर प्रहार के, झूठ और किसानों के तिरस्कार के।

Next Stories
1 मैं पूरा ‘कोबरा’ हूं, जंग से पीछे नहीं भागता- BJP ज्वॉइन करने पर बोले मिथुन चक्रवर्ती
2 PAK की बानो बेगम को जमानत नहीं, कोर्ट ने कहा- पाक की नागरिक होने के बाद भी भारत में कैसे लड़ा चुनाव
3 महिला दिवस से पहले 40 हजार औरतें दिल्ली को रवाना, किसान आंदोलन में लेंगी हिस्सा; बॉर्डर पर कार्यक्रमों का भी करेंगी संचालन
ये पढ़ा क्या?
X