ताज़ा खबर
 

शरद पवार का बड़ा खुलासा, कहा- पीएम मोदी ने दिया था साथ काम करने का ऑफर, मैंने इनकार कर दिया

बता दें कि एनसीपी नेता अजित पवार ने बीजेपी से हाथ मिलाकर महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में सरकार बनाई थी। इससे 3 दिन पहले शरद पवार और पीएम नरेंद्र मोदी की मुलाकात हुई थी।

एनसीपी प्रमुख शरद पवार और उनकी बेटी सुप्रिया सुले, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात को लेकर एनसीपी चीफ शरद पवार ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा, ‘‘20 नवंबर को मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने मुझे साथ काम करने का ऑफर दिया था, लेकिन मैंने साफ इनकार कर दिया था। मैंने कहा था कि राजनीतिक नजरिए के हिसाब से यह संभव नहीं है।’’ बता दें कि एनसीपी नेता अजित पवार ने बीजेपी से हाथ मिलाकर महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में सरकार बनाई थी। इससे 3 दिन पहले शरद पवार और पीएम नरेंद्र मोदी की मुलाकात हुई थी।

सोमवार (2 दिसंबर) को मराठी चैनल एबीपी माझा पर प्रसारित हुए इंटरव्यू में शरद पवार से पूछा गया कि क्या पीएम मोदी ने उन्हें राष्ट्रपति पद ऑफर किया था? उन्होंने कहा, ‘‘यह सच नहीं है, लेकिन महाराष्ट्र में बीजेपी व एनसीपी की सरकार बनने पर सुप्रिया सुले को केंद्र में मंत्री पद देने का ऑफर मिला था।’’

Hindi News Today, 03 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

गौरतलब है कि शरद पवार ने 20 नवंबर को पीएम मोदी से संसद भवन स्थित उनके चैंबर में मुलाकात की थी। उस दौरान महाराष्ट्र में एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना गठबंधन की सरकार बनने की बातचीत अंतिम चरण में थी। इंटरव्यू में पवार ने बताया कि वह बेमौसम बारिश के कारण महाराष्ट्र में किसानों की समस्याओं को लेकर पीएम मोदी से मिले थे। शरद पवार ने बताया, ‘‘विदर्भ यात्रा के बाद कृषि संकट पर चर्चा करके जब मैं निकलने वाला था, पीएम मोदी ने मुझे इंतजार करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि वह देश में मेरे साथ काम करके खुश होंगे।’’

पवार ने बताया, ‘‘मैंने मोदी को बताया कि राजनीतिक नजरिए के चलते ऐसा करना संभव नहीं है। मैंने उनसे कहा कि हमारे व्यक्तिगत संबंध बरकरार रहेंगे, लेकिन राजनीतिक दृष्टिकोण से एक साथ काम करना मुश्किल होगा। पीएम ने पूछा, क्यों नहीं? पीएम ने कहा कि एनसीपी विकास, कृषि संकट और इंडस्ट्रीज आदि के मुद्दे उठाती है, जिस पर बीजेपी भी कायम है। अगर हमारे मुद्दे अलग नहीं हैं तो हमारे विचार कैसे अलग होंगे? पीएम ने कहा कि देश में हमें साथ मिलकर काम करना चाहिए। मेरे अनुभव से सरकार को फायदा होगा।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 BJP सरकार में मुद्दे उठाने के लिए लेनी पड़ी कांग्रेस नेताओं की मदद- सुमित्रा महाजन ने किया किरकिरी कराने वाला खुलासा
2 अयोध्या: ये तो हिंदुओं को गुनाहों का इनाम और एक तरह से बाबरी मस्जिद नष्ट करने का निर्देश है- रिव्यू पिटीशन में मुस्लिम पक्ष ने कहा
3 उद्धव ठाकरे ने पलटा फडणवीस सरकार का बड़ा फैसला, गुजरात की कंपनी को दिया 321 करोड़ का ठेका रद्द
जस्‍ट नाउ
X