ताज़ा खबर
 

नवजोत स‍िंह स‍िद्धू बोले- पाक‍िस्‍तान में भारत से तीन-चार गुना ज्‍यादा है संबंध सुधारने की चाहत

सिद्धू ने कहा कि वह वहां दोस्त की हैसियत से गए थे और इमरान खान ने दोस्ती का ही संदेश दिया। सिद्धू ने कहा, 'खान साहब ने यह संदेशा दिया कि मसले बातचीत से हल होंगे, संपर्क से हल होंगे। दोस्ती के संदेशे को आप छोटे दायरे में मत रखिए, ये बहुत बड़ा संदेश है।'

नवजोत स‍िंह स‍िद्धू (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान को लेकर बहुत ही अहम टिप्पणी की है। उन्होंने अपने पाकिस्तान दौरे को लेकर कहा कि जैसा उन्होंने सोचा था उससे भी कहीं ज्यादा अच्छा उनका दौरा रहा। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान में संबंध सुधारने की चाहत भारत से तीन-चार गुना ज्यादा है। पंजाब केसरी को दिए एक इंटरव्यू में सिद्धू ने कहा, ‘जब आप मोहब्बत का पैगाम लेकर जाते हो तो लगता है कि सामने वाले की प्रतिक्रिया कैसी होगी, जो मैं अपने मन में बलबला लेकर गया था, उससे हजारों गुना ज्यादा प्रेम मिला। मैंने वहां अनुभव किया है कि अगर हमारे अंदर यह चाहत है कि दोनों देशों के बीच संबंध सुधरे, तो वहां तीव्र गति से तीन-चार गुना ज्यादा चाहत है संबंध सुधारने की, ये मैंने देखा।’

सिद्धू ने कहा कि वह वहां दोस्त की हैसियत से गए थे और इमरान खान ने दोस्ती का ही संदेश दिया। सिद्धू ने कहा, ‘खान साहब ने यह संदेशा दिया कि मसले बातचीत से हल होंगे, संपर्क से हल होंगे। दोस्ती के संदेशे को आप छोटे दायरे में मत रखिए, ये बहुत बड़ा संदेश है।’ क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू ने आगे कहा, ‘मैं सरकार नहीं बल्कि दोस्त बनकर वहां गया था, जैसी प्रतिक्रिया मिली, उससे लगा कि बिन मांगे ही सब मिल गया। कई बार आप मांगते हो और आपको मिलता नहीं, कई बार आप बहुत कोशिश करते हो फिर भी मिलता नहीं और कई बार कोशिश किए बिना, मांगे बिना, परमात्मा आपकी झोली में सब डाल देता है।’

सिद्धू ने कहा कि पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने खुद आकर कहा कि जब गुरु नानक देव का 550वां प्रकाश पर्व मनाया जाएगा, तब ऐतिहासिक गुरुद्वारा करतारपुर साहिब को खोल दिया जाएगा, ये बहुत बड़ी बात है। उन्होंने कहा, ‘हर कोई चाहता है कि संपर्क बढ़े, रिश्ते सुधरे, लेकिन फैसला सरकारों को लेना है, मैं तो दोस्त की हैसियत से गया था। मैं अपनी सरकार से ये विनती करता हूं, और यही कर सकता हूं कि हमारी सरकार अगर एक कदम चलेगी तो वो दो कदम चलेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘मेरी 40 मिनट इमरान खान से बंद कमरे से बात हुई। वो पहले की तरह ही हंबल हैं। मुझे नहीं लगता कि खान साहब ऐसे इंसान हैं जो समझौता करेंगे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X