ताज़ा खबर
 

लंदन दौरे से पहले ही वहां के भारतीय छात्रों ने पीएम मोदी से पूछा सवाल- बलात्‍कार के मामलों पर कार्रवाई कब करेंगे?

पीएम मोदी लंदन में कॉमनवेल्थ समिट में हिस्सा लेंगे। इसके साथ ही वह 18 अप्रैल को विश्व स्तर पर टीवी कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित लंदन दौरे (17 अप्रैल, 2018) से पहले वहां के कुछ भारतीय छात्र संगठनों ने रविवार (15 अप्रैल, 2018) को लिखित में पूछा है कि भारत में तीन नाबालिग लड़कियों के खिलाफ ‘घृणित प्रकृति के अपराध’ में पीएम मोदी तेजी से और उचित न्याय के लिए कब कार्रवाई करेंगे? ब्रिटेन की नेशनल इंडियन स्टूडेंट एंड एलुमिनाई द्वारा लिखे इस प्रत्र में आगे लिखा गया है, “जब आपने इस मुद्दे पर अपनी बात रखी, तब राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि बच्चियों को न्याय मिलेगा। इसका स्वागत करते हैं। मगर प्रधानमंत्री से सवाल है कि बच्चियों को इंसाफ कब और कैसे मिलेगा?” टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, पत्र की एक कॉपी ब्रिटेन में भारतीय हाई कमीशन को भी भेजी गई है। बता दें कि पीएम मोदी लंदन में कॉमनवेल्थ समिट में हिस्सा लेंगे। इसके साथ ही वह 18 अप्रैल को विश्व स्तर पर टीवी कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 15399 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

पत्र में कठुआ में नाबालिग बच्ची से गैंगरेप और उसकी हत्या, उन्नाव में गैंगरेप मामले में पीएम से पूछा गया है कि जब अब ब्रिटेन पहुंचें तो भारत की बात सबके साथ करें। आप हमें उन असाधारण उपायों के बारे में बता सकते हैं जो पर्याप्त नहीं है। रिपोर्ट के अनुसार, पत्र जिन संगठनों के हवाले से लिखा गया है उसमें NISAU, ऑक्सफोर्ड इंडिया सोसाइटी, केसीएल इंडिया सोसाइटी, LSE SU इंडिया सोसाइटी, वॉरविक इंडियन सोसाइटी, भारत परिवार UoB, इंडियन सोसाइटी, इंपीरियल कॉलेज इंडियन सोसाइटी, UCL इंडिया सोसाइटी, NTSU इंडियन सोसाइटी, क्वीन मैरी इंडियन सोसाइटी जैसी संस्थाएं शामिल हैं।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के कठुआ में जनवरी में आठ वर्षीय नाबालिग बच्ची से हफ्तेभर गैंगरेप किया गया। उसे नशे की गोलियां दी गईं।रिपोर्ट के अनुसार, इस वीभत्स घटना को अंजाम देने के लिए एक आरोपी को यूपी को मेरठ से यह कर बुलाया गया कि वह मजे करना चाहता है तो आ जाए। बच्ची की मौत से पहले तक उसका बलात्कार किया गया। बाद में गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App