ताज़ा खबर
 

1 से 13 जून तक नहीं हुई बारिश, दिल्ली बना देश का 100% बगैर बारिश वाला राज्य, जानें बाकी जगह का हाल

दिल्ली में इस साल 1 जून से 13 जून के बीच एक बार भी बारिश नहीं हुई। इस तरह दिल्ली देश का एकमात्र ऐसा राज्य बन गया जहां 13 जून तक बिल्कुल भी बारिश नहीं हुई।

Author नई दिल्ली | June 14, 2019 9:41 AM
दिल्ली में पिछले तीन दशक में सबसे अधिक गर्मी पड़ रही है। (फाइल फोटोः पीटीआई)

दिल्ली के लोगों को भीषण गर्मी से जून में अभी तक थोड़ी से भी राहत नहीं मिली है। पिछले दो दिन में धूल भरी आंधी और मौसम में बदलाव से कुछ उम्मीदें तो जगीं लेकिन बारिश नहीं हुई। भारतीय मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में 1 से 13 जून के बीच दिल्ली में बादल बिल्कुल भी नहीं बरसे।

इस तरह दिल्ली देश का 100 फीसदी बिना बारिश वाला राज्य बन गया। कुल मिलाकर पूरा देश बारिश की कमी से जूझ रहा है। देश में अभी तक 42 फीसदी कम बारिश हुई है। देश में जम्मू और कश्मीर, अंडमान और निकोबार के साथ लक्षद्वीप ही ऐसा राज्य व केंद्र शासित प्रदेश हैं जहां बारिश औसत से अधिक हुई है।

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के अनुसार मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि दिल्ली में आमतौर पर 1 जून से 13 जून के बीच 14.1 एमएम बारिश हो जाती है लेकिन इस बार बिल्कुल भी बारिश नहीं हुई है। राजधानी में पिछली बार बारिश 15 मई को हुई थी। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने यह बिल्कुल असामान्य है।

साल 2011 से दिल्ली में हर बार जून के पहले दो सप्ताह में कुछ बारिश हो जाती थी। साल 2017 में जून के पहले दो सप्ताह के अंतिम 4 दिन में बारिश हुई थी। इस तरह यह पिछले 10 में सबसे ‘सूखा’ जून का महीना है। 9 जून को दिल्ली के पालम और सफदरजंग में अधिकतम तापमान क्रमशः 48 और 45.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

अगले कुछ दिनों में बारिश होने का अनुमानः मौसम विभाग का कहना है कि अगले कुछ दिनों में दिल्ली में बारिश हो सकती है। इसके अलावा गरज के साथ छींटे पड़ने का भी अनुमान है। सप्ताह के अंत में आसमान में बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश भी हो सकती है।

उत्तर भारत में रहा सूखाः इस जून के महीने में उत्तर भारत में बारिश की काफी कमी रही। 13 जून तक हरियाणा में 2 एमएम बारिश हुई जो 84 फीसदी कम है। वहीं उत्तर प्रदेश में बारिश 74 फीसदी कम रही। यहां जून के पहले दो सप्ताह में सिर्फ 5.4 एमएम बारिश हुई। राजस्थान में भी 2.8 एमएम बारिश हुई।

इस तरह यहां भी 77 फीसदी बारिश कम हुई। मध्य भारत में मध्य प्रदेश में भी 2.9 एमएम बारिश के साथ 88 फीसदी वर्षा में कमी दर्ज हुई। जबकि गुजरात में 78 फीसदी कम वर्षा हुई। महाराष्ट्र में बारिश में कमी 69 फीसदी रही। यहां जून के पहले दो सप्ताह में 17.8 एमएम बारिश हुई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X