ताज़ा खबर
 

सभी प्राइवेट स्कूलों में गाया जाना चाहिए राष्ट्रगानः हाईकोर्ट

मद्रास हाईकोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि तमिलनाडु के सभी प्राइवेट स्कूलों में सुबह की प्रार्थना के वक्त राष्ट्रगान गाया जाना चाहिए। यह फैसला चीफ जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस एमएम सुंद्रेश की बेंच ने दिया है।

Author चेन्नई | March 5, 2016 6:33 PM
मद्रास उच्च न्यायालय (फोटो-विकिपीडिया)

मद्रास हाईकोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि तमिलनाडु के सभी प्राइवेट स्कूलों में सुबह की प्रार्थना के वक्त राष्ट्रगान गाया जाना चाहिए। यह फैसला चीफ जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस एमएम सुंद्रेश की बेंच ने दिया है। बेंच ने सभी स्कूलों में राष्ट्रगान को अनिवार्य किए जाने की याचिका पर सुनवाई के दौरान फैसला सुनाया।ॉ

Read Also: सचिन बोले- पाक के खिलाफ मैच में राष्ट्रगान के वक्त सीना और चौड़ा होता था

पूर्व कर्मचारी एन सेल्वाथिरुमल की याचिका पर सुनाई करते हुए बेंच ने कहा कि सभी प्राइवेट स्कूलों में राष्ट्रगान गाया जाना चाहिए। साथ ही कोर्ट ने सेंट्रल और स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ सैकेंडरी एजुकेशन और केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय यह जांचने के निर्देश दिए हैं कि राज्यों के सभी प्राइवेट स्कूलों में राष्ट्रगान गाया जा रहा है या नहीं।

Read Also:राष्ट्रगान से मुस्लिमों की सच्ची मुहब्बत: दारूल उलूम

याचिकाकर्ता ने कहा था कि राज्य के कई प्राइवेट स्कूलों में राष्ट्रगान नहीं गाया जाता, जबकि यह केंद्रीय सरकारी स्कूलों और राज्य की अन्य सरकारी स्कूलों मे रोजाना सुबह की प्रार्थना के वक्त गाया जाता है। साथ ही याचिकाकर्ता ने कहा कि मुझे एक आरटीआई से पता लगा था कि केंद्र सरकार ने सभी स्कूलों को दिशानिर्देश जारी करके कहा था कि सभी स्कूलों को रोजाना अपना काम राष्ट्रगान से शुरू करना चाहिए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App