ताज़ा खबर
 

खिलौने, कुत्तों और मोर पर बातें नहीं चाहता देश- बोलीं कांग्रेस नेत्री; डिबेट में BJP नेता का जवाब- चीन पर रो क्यों रही है INC? ये नेहरू वाला भारत नहीं है

आगे डिबेट में एंकर अमिश देवगन ने बीजेपी नेता से पूछा- आए दिन चीनी सेना दुस्साहस करती है, इसका पक्का हल कब होगा? पात्रा ने जवाब दिया, "हिंदुस्तान की सेना ने सक्षम तरीके से देश की अखंडता को बचाया है।

LAC Dispute, China, PLA, India, Indian Army, Narendra Modiकांग्रेस नेत्री अलका लांबा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए डिबेट के दौरान खिलौने, कुत्तों और मोर का जिक्र किया था। (फाइल फोटो)

चीन के मुद्दे पर सोमवार को ‘News 18 India’ पर कांग्रेस नेत्री और बीजेपी प्रवक्ता के बीच जमकर डिबेट हुई। कांग्रेस की ओर से अलका लांबा ने कोरोना और आर्थिक संकट के दौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देशवासी खौलेने, कुत्तों और मोर पर बातें नहीं सुनना चाहते हैं। वे अहम मुद्दों का हल चाहते हैं। हालांकि, इसके जवाब में बीजेपी की ओर से स्पष्ट जवाब नहीं आया। पार्टी नेता संबित पात्रा ने पलटवार में कहा कि कांग्रेस आखिर चीन पर रोने क्यों लगती है? ये नया भारत है। पंडित नेहरू वाला देश नहीं है।

‘आर-पार’ नाम के शो में कांग्रेस नेत्री अलका लांबा ने कहा, “पूरा देश सेना को सलाम कर रहा है, पर राजनीतिक स्तर पर ये वार्ता (चीन के साथ) पूरी तरह विफल दिख रही है। राजनीतिक नेतृत्व को आगे आना चाहिए थे। कल मन की बात कार्यक्रम को क्यों लोगों ने डिसलाइक किया? इसलिए क्योंकि वे ये सुनना चाहते हैं कि खिलौनों, कुत्तों और मोरों के साथ कैसे खेला जाता है। वे चीन, कोरोना और जीडीपी को लेकर देश का स्टैंड सुनना चाहते हैं।”

आगे डिबेट में एंकर अमिश देवगन ने बीजेपी नेता से पूछा- आए दिन चीनी सेना दुस्साहस करती है, इसका पक्का हल कब होगा? पात्रा ने जवाब दिया, “हिंदुस्तान की सेना ने सक्षम तरीके से देश की अखंडता को बचाया है। इसमें तो खुश होना चाहिए, कांग्रेस रो क्यों रही है?”

वह आगे बोले- चीन विस्तारवादी है। आज से शुरू नहीं हुआ है। 1962 में जब नेहरू जी को सरेंडर करना पड़ा था, तब से लेकर 600 बार घुसपैठ हुई। आज तक न केवल भारत बल्कि विश्व के लिए चीन विस्तारवादी शक्ति है। उससे पूरा विश्व निपट रहा है और हम उससे अच्छे से निपट रहे हैं।

बकौल पात्रा, “चीन भी मान रहा है कि ये 20-20 का इंडिया नहीं है। ये वो इंडिया नहीं है 73 हजार स्क्वायर किमी दान में दे देगा, जैसे नेहरू काल और कांग्रेस के शासन में हुआ था। मैं राहुल गांधी से हाथ जोड़कर निवेदन करूंगा कि टि्वटर टि्वटर करना बंद करें। ये चीन को जवाब टि्वटर पर देना है।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोर्ट को जुर्माना दूंगा, पर अवमानना केस में पुनर्विचार याचिका दायर करने का अधिकार सुरक्षित- बोले प्रशांत भूषण
2 GDP पहली तिमाही में रेकार्ड 23.9% गिरी, कृषि को छोड़ सारे क्षेत्रों का बुराहाल; #ResignNirmala टि्वटर पर ट्रेंड
3 प्रशांत भूषण को 1 रुपया देते वक्त राजीव धवन के दूसरे हाथ से नहीं छूटा था हुक्का, फोटो देख लोग लेने लगे मजे
यह पढ़ा क्या?
X