scorecardresearch

कांग्रेस नेता ने कहा- गांधी जयंती पर गोडसे जिंदाबाद ट्रेंड कर रहा है, इससे क्या समझे? मिले ऐसे जवाब

Gandhi Jayanti: गांधी जयंती पर गोडसे जिंदाबाद के ट्रेंड को लेकर कांग्रेस नेता उदित राज ने नाराजगी जताई है।म

कांग्रेस नेता ने कहा- गांधी जयंती पर गोडसे जिंदाबाद ट्रेंड कर रहा है, इससे क्या समझे? मिले ऐसे जवाब
कांग्रेस नेता डॉ. उदित राज। (फोटो सोर्स: File/ANI)

Gandhi Jayanti: आज महात्मा गांधी की 153वीं जयंती है। पूरा देश बापू को याद कर रहा है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और पीएम मोदी समेत तमाम बड़े नेताओं ने भी बापू को श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस बीच सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर गांधी जी के हत्यारे नाथूराम गोडसे भी ट्रेंड हो रहा है। ऐसा पहली बार नहीं है। बीते कुछ सालों से गांधी जयंती के मौके पर अक्सर ही ये ट्रेंड देखने को मिलता है। ट्विटर पर नाथूराम गोडसे जिंदाबाद को ट्रेंड होता देख कांग्रेस नेता डॉ. उदित राज नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि गांधी जयंती पर गोडसे ट्रेंड कर रहा है, इससे क्या समझें।

उदित राज ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘आज गांधी जी की जयंती पर ट्विटर पर हत्यारे गोडसे जिंदाबाद ट्रेंड कर रहा है। इससे क्या समझे? आने वाले दिनों में दलितों, महिलाओं, अल्पसंख्यकों की हत्या का भी जिंदाबाद करेगें। उदित राज के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स ने तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं व्यक्त की हैं।

सोशल मीडिया पर यूजर्स ने किए कमेंट्स

सोशल मीडिया पर रोनित बरोट नाम के एक यूजर ने लिखा, लोकतंत्र का ज्ञान नहीं देते तो अच्छा रहता।’ वहीं बाबा जी कैलाश नाम से एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘ गोड़से आतंकी होता तो पूरी भीड़ को उड़ा देता, उन्होंने सिर्फ गांधी को निपटाया बाकी आप समझदार हैं। उसने आगे लिखा कि इतिहासकार बताते हैं कि आजादी की लड़ाई में सात लाख से ज्यादा लोग शहीद हुए थे, और कुछ लोग कहते है कि गाँधी का चरखा ही तोप था…!!

मैसूर में राहुल गांधी बोले- ये विचारधारा की लड़ाई है

वहीं भारत जोड़ो यात्रा पर निकले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को कर्नाटक के मैसूर में महात्मा गांधी की जयंती पर उनकी हत्या का मुद्दा उठाया। राहुल ने कहा कि विचारधाराओं की लड़ाई जारी है। उन्होंने लोगों से इसमें शामिल होने का आह्वान किया। राहुल ने कहा क‍ि जिस तरह गांधीजी ने ब्रिटिश राज से लड़ाई लड़ी थी, आज हम उसी विचारधारा के साथ लड़ाई शुरू कर रहे हैं, जिसने गांधी की हत्या की थी। इस विचारधारा ने पिछले आठ सालों में असमानता, विभाजन और हमारी कड़ी मेहनत से प्राप्त स्वतंत्रता का क्षय किया है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 02-10-2022 at 09:14:12 pm
अपडेट