ताज़ा खबर
 

सपा सांसद नरेश अग्रवाल का बयान- विजय माल्या की तरह सचिन तेंदुलकर और रेखा को भी राज्यसभा से निकालो

सचिन और रेखा दोनों को ही 2012 में राज्यसभा का सदस्य मनोनीत किया गया था।

संसद भवन परिसर में सचिन और रेखा की फाइल फोटो।

राज्यसभा में समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने मनोनीत सांसद सचिन तेंदुलकर और रेखा की अनुपस्थिति पर हमला करते हुए कहा है कि इन लोगों को सदन से निकाल देना चाहिए। सपा सांसद ने राज्यसभा में बोलते हुए कहा कि जब सचिन और रेखा सदन में आते ही नहीं हैं, तो क्यों नहीं उनकी सदस्यता रद्द कर उन्हें सदन से निकाल दिया जाए। नरेश अग्रवाल ने इन दोनों सदस्यों पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि अगर हम विजय माल्या को सदन से निकाल सकते हैं तो इन्हें क्यों नहीं। दरअसल राज्यसभा सांसद बनने के बाद से ही सचिन और रेखा की सदन से गैरमौजूदगी विवादों में रही है। अपने-अपने क्षेत्र के इन दोनों ही धुरंधरों की सदन में उपस्थिति बहुत कम है।

क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और बॉलीवुड अभिनेत्री रेखा दोनों को ही 2012 में राज्यसभा का सदस्य मनोनीत किया गया था। सासंद बनने के बाद करीब 348 दिनों में सचिन सिर्फ 23 दिन और रेखा मात्र 18 दिन ही सदन में मौजूद रहीं। मौजूदा मॉनसून सत्र से भी ये दोनों सदस्य अभी तक नदारद रहे हैं। वहीं पिछले बजट सेशन में भी दोनों सिर्फ एक-एक दिन ही सदन में उपस्थित रहे।

आपको बता दें कि इस समय राज्यसभा में 12 मनोनीत सदस्य हैं जिनमें सचिन तेंदुलकर, रेखा, अनु आगा, संभाजी छत्रपति, स्वप्न दासगुप्ता, रूपा गांगुली, नरेंद्र जाधव, एमसी मैरीकॉम, के पारासरन, गोपी सुरेश, सुब्रमण्यन स्वामी और केटीएस तुलसी शामिल हैं।

सपा सांसद नरेश अग्रवाल इससे पहले भी मनोनीत सदस्यों के सदन से गायब रहने का मुद्दा उठा चुके हैं। मार्च में उन्होंने सदन में कहा था- ‘संवैधानिक व्यवस्था के तहत राज्यसभा में 12 सदस्य मनोनीत किए जाते हैं। लेकिन ऐसे कई सदस्य सदन में नहीं आ रहे हैं। इसका मतलब यह हो सकता है कि उनकी रुचि इसमें नहीं है, और अगर उनकी रुचि नहीं है तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए।’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App