ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार को 10 में से 0 अंक: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा है कि नरेंद्र मोदी सरकार उद्योगपतियों के साथ है। जबकि बेरोजगारों के दोनों हाथ खाली पड़े हैं। हालांकि मोदी सरकार के चुनावी एजंडे में बेरोजगारों के लिए सौ दिन में रोजगार का वादा किया गया था। लेकिन साल भर बाद भी बेराजगारों को रोजगार नहीं मिले हैं।

Author May 19, 2015 9:40 AM
राहुल गांधी ने मोदी सरकार को एक साल पूरा होने पर 10 में से जीरो नंबर दिए (फोटो स्रोत : ट्विटर)

राहुल गांधी ने कहा है कि नरेंद्र मोदी सरकार उद्योगपतियों के साथ है। जबकि बेरोजगारों के दोनों हाथ खाली पड़े हैं। हालांकि मोदी सरकार के चुनावी एजंडे में बेरोजगारों के लिए सौ दिन में रोजगार का वादा किया गया था। लेकिन साल भर बाद भी बेराजगारों को रोजगार नहीं मिले हैं।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार किसानों की दुश्मन है। इस सरकार में किसानों का भला नहीं हो पाएगा। राहुल ने दोहराया कि देश के मजदूर, किसान, गरीब और मध्य वर्ग के लोग इस सरकार को 10 में से शून्य नंबर देंगे, जबकि मोदी के कुछ मित्र उद्योगपति उन्हें 10 में से 10 नंबर देंगे।

राहुल गांधी तीन दिवसीय दौरे पर सोमवार को अमेठी आए। राहुल ने किसानों के साथ कई जगहों पर सभाएं कीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों के अधिकार की लड़ाई सड़क से संसद तक लड़ती रहेगी। राहुल ने मोदी सरकार पर ‘बदले की राजनीति’ करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनके संसदीय निर्वाचन क्षेत्र अमेठी में प्रस्तावित मेगा फूड पार्क परियोजना को निरस्त किए जाने से किसानों के हितों पर कुठाराघात हुआ है।

जगदीशपुर में हाल की बेमौसम बारिश के कारण फसल बरबाद होने से परेशान किसानों से मुलाकात के बाद राहुल ने केंद्र सरकार की ओर से क्षेत्र में प्रस्तावित मेगा फूड पार्क परियोजना के निरस्त किए जाने पर कहा ‘भाजपा की सरकार ने अमेठी और यहां के आसपास के 10 जिलों के किसानों को नुकसान पहुंचाया है। वो बदला मुझसे लेना चाहते हैं लेकिन किसान और मजदूर फंस रहे हैं। मैं चाहता हूं कि वो (केंद्र) गरीब किसानों की मदद करें और यह फूड पार्क हमें वापस दें।’

उन्होंने कहा कि अगर अमेठी में फूड पार्क स्थापित होता तो किसानों की किस्मत बदल जाती। वे अपने उत्पाद मंडी में बेचने के बजाय सीधे फूड पार्क में बेचते। ‘केंद्र सरकार ने यह पार्क मुझसे नहीं बल्कि किसानों से छीना है। हम इसे वापस लेकर रहेंगे।’ करीब दो किलोमीटर पैदल चलकर प्रस्तावित फूड पार्क की स्थापना के लिए बताई गई जमीन पर पहुंचे राहुल ने कहा ‘भाजपा बदले की राजनीति करके मुझे चोट पहुंचाना चाहती है। भाजपा सिर्फ यहीं नहीं बल्कि पूरे हिंदुस्तान में ऐसी राजनीति कर रही है। पंजाब, तेलंगाना, महाराष्ट्र, हरियाणा समेत हर जगह जहां किसान को दबाया जा सकता है, वहां ऐसा किया जा रहा है, लेकिन हम इस सरकार से हारेंगे नहीं।’

कांग्रेस सांसद ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी चीन, जापान, मंगोलिया समेत पूरी दुनिया घूम रहे हैं लेकिन किसानों के घर नहीं आए। केंद्र की मोदी सरकार को महज उद्योगपतियों की सरकार बताते हुए राहुल ने दोहराया कि देश के मजदूर, किसान, गरीब और मध्य वर्ग के लोग इस सरकार को 10 में से शून्य नंबर देंगे जबकि मोदी के कुछ मित्र उद्योगपति उन्हें 10 में से 10 नंबर देंगे। राहुल का यह बयान केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी की अमेठी में हाल में की गई उस टिप्पणी के बाद आया है जिसमें उन्होंने बारिश और ओलावृष्टि से बरबाद हुए किसानों का हाल न लेने को लेकर उनकी जमकर आलोचना की थी।

पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में अमेठी सीट पर राहुल को कड़ी टक्कर देने वाली ईरानी ने पिछले हफ्ते अमेठी के दौरे के दौरान कहा था कि राहुल फूड पार्क को लेकर जनता को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि सरकारी दस्तावेजों में देखा जाए तो पता लगेगा कि वर्ष 2010 से 2014 तक केंद्र की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने फूड पार्क के लिए जमीन ही उपलब्ध नहीं कराई। पार्क के लिए गैस की व्यवस्था भी नहीं की गई। अब राहुल अपनी नाकामी के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराकर किसानों को गुमराह कर रहे हैं।

इसके पूर्व, अमेठी के रास्ते में पड़ने वाले बाराबंकी जिले के हैदरगढ़ में राहुल का किसानों ने गर्मजोशी से स्वागत किया और उनसे कहा कि किसानों के हक की लड़ाई में वह उनके साथ हैं। किसानों ने राहुल से कहा कि वह उनकी लड़ाई को आगे ले जाएं। राहुल ने किसानों से सवाल किया, ‘अच्छे दिन कहां हैं? क्या आ गए?’ जिसका जवाब मिला, ‘नहीं।’

सफेद कुर्ता पायजामा पहने राहुल ने कई जगहों पर जीप के बोनट पर खड़े होकर लोगों को संबोधित किया। एक जगह वे रुके और तपती धूप से राहत के लिए पेड़ की छाया में खड़े हुए। वहीं लंच पैकेट से खाना खाया।

स्वामीनाथ शुक्ल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App