ताज़ा खबर
 

मोदी ने पूछा, शैतान को प्रवेश करने के लिए लालू का पता कैसे मिला?

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि उनकी ‘हिंदुओं के भी गौमांस खाने वाली टिप्पणी’ यदुवंशियों के लिए घोर अपमान..

Author मुंगेर/बेगूसराय | Updated: October 8, 2015 7:53 PM
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि उनकी ‘हिंदुओं के भी गौमांस खाने वाली टिप्पणी’ यदुवंशियों के लिए ‘‘घोर अपमान’’ की बात है। (पीटीआई फोटो)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि उनकी ‘हिंदुओं के भी गौमांस खाने वाली टिप्पणी’ यदुवंशियों के लिए ‘‘घोर अपमान’’ की बात है। मोदी के इस बयान को लेकर उन पर चुनाव को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश करने के आरोप लगे।

दादरी में कथित रूप से गौमांस खाने की अफवाहों पर एक व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दिए जाने के मामले में अपनी चुप्पी को लेकर चारों तरफ से आलोचनाओं से घिरे मोदी ने लालू की गौमांस संबंधी टिप्पणी पर उन पर लगातार निशाना साधा और इसे यदुवंशियों तथा बिहार का अपमान बताया।

मुंगेर, बेगूसराय और समस्तीपुर में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘वह यह सब क्या कह रहे हैं। यादव क्या खाते हैं? लालू जिस ओहदे पर पहुंचे, वह इन यदुवंशियों की वजह से ही है और उन्होंने यदुवंशियों का अपमान किया। आप उन्हें किस तरह की गाली दे रहे हैं। क्या यह यादवों और बिहार का अपमान नहीं है? यदुवंशियों का इतना अपमान मत कीजिए। लालूजी इन यदुवंशियों ने आपको सत्ता में आने में मदद की।’’

उन्होंने लालू की इस सफाई पर भी निशाना साधा कि उन्होंने शैतान के प्रभाव में यह गौमांस वाला बयान दिया था। मोदी ने कहा, ‘‘मुझे हैरानी है कि शैतान को प्रवेश करने के लिए उनका (लालू) ही शरीर मिला। मैं जानना चाहता हूं कि शैतान को उनका (लालू का) पता कैसे मिला? शैतान को पूरे बिहार, भारत और पूरी दुनिया में उन्होंने छोड़कर किसी और का शरीर नहीं मिला। और उन्होंने भी शैतान का ऐसे स्वागत किया जैसे कोई अपने रिश्तेदारों का करता है।’’

लालू के गौमांस वाले बयान पर मोदी की बार बार टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसे चुनावों को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश बताया। नीतीश ने ट्वीट किया, ‘‘असल मोदी सामने आ गये हैं। बिहार चुनावों को सांप्रदायिक रूप देने का शर्मनाक प्रयास, लेकिन दादरी की निंदाजनक घटना पर कानफोड़ू चुप्पी।’’

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा कि सभी को देखना चाहिए कि वाजपेयी जी को उन्हें (मोदी) यह क्यों याद दिलाना पड़ा कि राजधर्म का पालन करें, लेकिन आज सोचने वाली बात है कि वाजपेयी कौन बनेगा? वह 2002 के गुजरात दंगों के बाद एक राहत शिविर के दौरे के समय तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के शब्दों का जिक्र कर रहे थे जिस समय मोदी राज्य के मुख्यमंत्री थे।

दादरी कांड के बाद विवादास्पद टिप्पणी करने वाले राजद प्रमुख ने तुरंत अपनी बात से पलटते हुए कहा था कि शायद किसी कमजोर क्षण में उनकी जुबान पर शैतान का कब्जा हो गया था।

प्रधानमंत्री के इस हमले से पहले राजद अध्यक्ष ने आरक्षण व्यवस्था की समीक्षा करने के संघ प्रमुख मोहन भागवत के विचार के मद्देनजर अपने ओबीसी के समर्थन आधार को एकजुट करने का प्रयास किया। भागवत के बयान के मद्देनजर लालू ने तत्काल प्रतिक्रिया देना शुरू किया कि मोदी सरकार आरक्षण समाप्त करने का प्रयास कर रही है। सरकार और भाजपा द्वारा संघ प्रमुख के बयानों से तत्काल दूरी बनाये जाने के बावजूद लालू और नीतीश दोनों ने आरोप लगाये कि आरक्षण को समाप्त करने के प्रयास चल रहे हैं।

मंडल के बाद के बिहार में आरक्षण का मुद्दा संवेदनशील रहा है और इससे लालू को पिछड़े वर्ग का व्यापक समर्थन मिला और वह 15 साल तक बिहार की सत्ता चलाते रहे।

लालू का गौमांस वाला बयान भाजपा नीत गठबंधन के लिए राहत भरे कदम के तौर पर आया और मोदी ने इस संवेदनशील मुद्दे पर जदयू-राजद-कांगे्रस गठबंधन को आड़े हाथ लिया।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार भगवान कृष्ण के गुजरात में द्वारका से संबंधों का जिक्र करते हुए मोदी ने लालू को ‘सच्ची यदुवंशी परंपरा’ का सम्मान नहीं करने वाला नेता बताया और आरोप लगाया कि उन्होंने न केवल यादवों का बल्कि बिहार के सभी लोगों का अपमान किया है।

मोदी ने कहा, ‘‘मैं गुजरात की धरती से आता हूं। द्वारका भगवान कृष्ण की धरती है जहां लोग गायों की पूजा करते हैं। वे सफेद क्रांति लेकर आए। जहां तक यदुवंशियों की सच्ची परंपरा का पालन करने का सवाल है, इसका पालन वहां किया जाता है। और यहां नेता यदुवंशियों का इस प्रकार अपमान कर रहे हैं। ये उन्हें किस प्रकार की गालियां दे रहे हैं?’’

उधर लालू ने मोदी को यह साबित करने की चुनौती दी कि उन्होंने अपनी जुबान पर शैतान आने वाला बयान दिया था। लालू ने कहा कि अन्यथा मोदी बिहार की जनता के सामने माफी मांगें। लालू ने ट्वीट किया, ‘‘मैं मोदी को चुनौती देता हूं कि मेरा शैतान वाला बयान दिखाएं या मुझे पर इस तरह का हमला बोलकर बिहार की जनता का अपमान करने के लिए उनसे माफी मांगें।’’ उन्होंने पटना में कहा, ‘‘लालू गाय की पूजा करता है। गाय का गोबर हमारे लिए चंदन के समान है।’’

मोदी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू पर हमला करने के लिए आज जयप्रकाश नारायण की पुण्यतिथि के मौके को भी भुनाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि जिन्होंने कभी समाजवादी नेता (जयप्रकाश नारायण) का जय गान किया था उन्होंने अब उस कांग्रेस से हाथ मिला लिया जिसने आपातकाल के दौरान जेपी को जेल में बंद कराया था।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस अपनी खुद की प्रासंगिकता खोने के बाद जदयू और राजद से हाथ मिलाकर बिहार की राजनीति में ‘पिछले दरवाजे से’ घुसना चाहती है। उन्होंने लालू और नीतीश दोनों पर जेपी को लेकर उनकी प्रतिबद्धता पर सवाल किया जिन्होंने ताउम्र कांग्रेस के खिलाफ संघर्ष किया था।

मोदी ने कहा, ‘‘कांग्रेस ने आपातकाल लगाया था और जेपी को जेल में डाला जहां वह बीमार पड़ गए और इस कारण उनका निधन हो गया…..उसी कांग्रेस के साथ खड़े होकर वे अब भाजपा को गाली दे रहे हैं। कांग्रेस ने राज्य में 35 साल शासन किया, उसके बाद राजद ने 15 साल और जदयू ने दस साल राज किया।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि नीतीश जंगल राज के खात्मे के वादे के साथ सत्ता में आए थे। ‘‘अब उन्होंने जंगल राज 2 लाने के लिए लालू से हाथ मिला लिया है। इन बड़े भाई और छोटे भाई के बीच क्या रिश्ता है.. बिहार को बर्बाद करने वाले तीन दल एक साथ आ गए हैं।’’

उन्होंने कहा कि भाजपा की रैलियों में दिख रही भारी भीड़ तीनों पार्टियों का सफाया कर देगी। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की आरक्षण नीति की समीक्षा संबंधी मांग को लेकर लगातार महागठबंधन का हमला झेल रहे मोदी ने बिहार के चुनाव को जाति मुद्दे से इतर लड़ाई के तौर पर पेश करने की कोशिश की और युवाओं तक पहुंच बनाने का प्रयास किया।

उन्होंने कहा, ‘‘राजनीतिक पंडित बिहार को लेकर अपनी सोच बदलने पर मजबूर हो जाएंगे। पहली बार यह (चुनाव) जाति के विचारों से इतर (लड़ा जाएगा) होगा। यह युवा और विकास के मुद्दे पर लड़ा जाएगा। ये अब मुख्य मुद्दे होंगे।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X