ताज़ा खबर
 

मोदी ने कश्मीरियों से वाजपेयी का ‘सपना’ पूरा करने का वादा किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीर के लिए अपना गहरा लगाव होने पर जोर देते हुए आज कहा कि वह ‘लोकतंत्र, मानवता और कश्मीरियत’ पर आधारित पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के ‘सपने’ को पूरा करेंगे। राज्य में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘लोकतंत्र, मानवता और कश्मीरियत, अटलजी के इन […]

Author November 22, 2014 5:44 PM
प्रधानमंत्री मोदी ने झारखंड के मतदाताओं से राजनीतिक स्थिरता के लिए भाजपा को विधानसभा चुनावों में बहुमत दिलाने को कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीर के लिए अपना गहरा लगाव होने पर जोर देते हुए आज कहा कि वह ‘लोकतंत्र, मानवता और कश्मीरियत’ पर आधारित पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के ‘सपने’ को पूरा करेंगे।

राज्य में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘लोकतंत्र, मानवता और कश्मीरियत, अटलजी के इन शब्दों ने कश्मीरियों के दिल में खास जगह बनाई और हर कश्मीरी युवक में बेहतर भविष्य को लेकर उम्मीद पैदा की।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं लागों से आग्रह करना चाहता हूं कि वे जम्मू-कश्मीर में भाजपा को पूर्ण बहुमत के साथ सत्तासीन करें तथा मेरे शब्दों पर विश्वास करिए कि अटल जी ने जो सपना जम्मू-कश्मीर के लिए देखा था मोदी उसे पूरा करने के लिए अपनी पूरी ताकत और इच्छाशक्ति लगा देगा।’’

प्रधानमंत्री ने धर्म को राजनीति से जोड़ने के प्रयास को लेकर आगाह करते हुए कहा कि ‘कश्मीरी कश्मीरी है’ और केंद्र की सरकार राज्य के विकास को लेकर प्रतिबतद्ध है।

उन्होंने कहा, ‘‘हमारा मंत्र सिर्फ विकास, विकास और विकास है। मैं आपके विश्वास को जम्मू-कश्मीर में संपूर्ण विकास सुनिश्चित करते हुए ब्याज सहित चुकाऊंगा।’’

मोदी ने कहा कि उनकी इच्छा वाजपेयी द्वारा शुरू किए गए कायो’ को पूरा करना है। उन्होंने कहा, ‘‘यह मेरी इच्छा है और मैं इसके लिए यहां बार बार आता रहूंगा।’’

उन्होंने कश्मीर के किश्तवाड़ के चौगान में ‘मोदी मोदी के नारों’ के बीच कहा, ‘‘कश्मीर से मुझे बहुत लगाव है। मेरे हृदय और आत्मा के भीतर से लगाव है।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि अन्य राजनीतिक दल आश्चर्य जताते हैं कि एक भी महीना ऐसा नहीं गया जब मोदी यहां नहीं आए हों। उन्होंने कहा ये दल कहते हैं ‘‘वह (मोदी) जुलाई, अगस्त, सितंबर, अक्तूबर में आए और अब नवंबर में आए हैं।’’

वाजपेयी के नेतृत्व वाली राजग सरकार को याद करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘हर कश्मीरी ने सोचा था कि अब उसके सपने पूरे होंगे। परंतु पिछले 10 वर्षों के दौरान कश्मीर और उसके हालात को लेकर क्या हुआ।’’

राज्य की सरकारों पर भ्रष्टाचार को लेकर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा, ‘‘अगर बाल्टी में छेद होगा तो पानी नहीं रुकेगा। मुझे हैरानी है कि केंद्र से आने वाला पैसा कहां जाता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं विकास के लिए हूं और मैं विकास पर बहस चाहता हूं तथा यह सुनिश्चित करना चाहता हं कि जम्मू-कश्मीर में विकास रफ्तार पकड़े।’’
मोदी ने आरोप लगाया कि राज्य को 50 वर्षों के दौरान विकास से वंचित किया गया है। मोदी ने अब्दुल्ला और मुफ्ती परिवारों का नाम लिए बगैर कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर में क्या सिर्फ दो परिवारों का शासन होगा, क्या दूसरे परिवार नेता पैदा नहीं कर सकते? आप 50 साल से पछता रहे हैं।…अगर आपने दो परिवारों के शासन को दंडित नहीं किया तो वे (परिवार) नए सिरे से वापसी कर लेंगे।’’

मोदी ने आरोप लगाया, ‘‘इन लोगों में आपसी सहमति है। एक पांच साल के लिए राज्य को लूटता है और फिर सत्ता से बाहर कर दिया जाता है तथा फिर दूसरा राज्य को लूटना शुरू कर देता है। उनके पास राज्य को लूटने का पांच साल का करार है।’’

उन्होंने विपक्ष पर उस ‘गलत’ अभियान चलाने के लिए निशाना साधा कि भाजपा सरकार शरणार्थियों को लेकर चिंतित नहीं हैं। मोदी ने राज्य में पर्यटन क्षेत्र के पुनरोद्धार करने तथा दुनिया के पर्यटन को आकर्षित करने का भी वादा किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App