ताज़ा खबर
 

सर्जिकल स्‍ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ का जश्‍न मनाएगी मोदी सरकार

केंद्रीय मंत्री ने बिना नाम लिए प्रधानमंत्री की तारीफ भी की। उन्होंने कहा, "देश की कमान बहुत अच्छे हाथों में है। वह ऐसे नेता के हाथों में है, जो हर नागरिक को सुरक्षित लेकर आगे बढ़ रहा है।"

Author September 20, 2018 1:04 PM
29 सितंबर को भारत की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक को दो साल पूरे होंगे। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ मनाएगी। 29 सितंबर को जश्न का आयोजन किया जाएगा।” ये बातें बुधवार (19 सितंबर) को केंद्रीय रेल मंत्री पीषूय गोयल ने कहीं। प्रियदर्शनी अवॉर्ड्स के दौरान वह बोले, “साल 2016 में हुई स्ट्राइक, जिसमें हमारे कमांडो पाकिस्तान द्वारा कब्जा कर लिए गए क्षेत्र में आतंकियों को नेस्तनाबूद करने के लिए घुसे थे। उस घटना ने समूचे विश्व को दिखाया कि हम इस मामले पर वाकई में इरादा रखते हैं।”

बकौल गोयल, “हमारे देश को इस महीने की 29 तारीख पर सर्जिकल स्ट्राइक को दो साल पूरे हो जाएंगे। और हम उस दिन का जश्न मनाएंगे।” आगे उन्होंने बिना नाम लिए प्रधानमंत्री की तारीफ भी की और कहा, “देश की कमान बहुत अच्छे हाथों में है। वह ऐसे नेता के हाथों में है, जो हर नागरिक को सुरक्षित लेकर आगे बढ़ रहा है।”

Surgical Strike: 2 साल बाद वीडियो जारी, POK में घुस सेना के जाबांजों ने मचाई थी तबाही

कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री ने कारोबारी रॉनी स्क्रूवाला की सराहना भी की, जो सर्जिकल स्ट्राइक की घटना पर फिल्म बना रहे हैं। माना जा रहा है कि आने वाले कुछ दिनों में उसे रिलीज किया जाएगा। गोयल का उसी को लेकर कहना था कि वह देश के युवाओं को प्रेरित करेगी।

surgical strike, surgical strike 2nd annivarssary, 29 september, celebration, indian army, jammu and kashmir, india-pakistan, narendra modi, pm, modi government, piyush goyal, union minister, india news, national news, hindi news केंद्रीय मंत्री पीषूय गोयल। (एक्सप्रेस फोटोः प्रेम नाथ पांडे)

आपको बता दें कि 29 सितंबर 2016 को भारतीय सेना के जाबांज कमाडो पाकिस्तान के कब्जे वाले क्षेत्र में घुस थे। उन्होंने तब आतंकवादी कैंपों में जमकर तबाही मचाई थी और पाकिस्तान के दर्जनों आतंकियों व सैनिकों को मार गिराया था। घटना के दो साल बाद इसका वीडियो भी सामने आया था। भारत की ओर से यह स्ट्राइक उड़ी आतंकवादी हमले के बाद की गई थी, जिसमें 18 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

उधर, मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने इससे पहले सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर बयान दिया था। उन्होंने कहा था, “विधायक और नेता हर पूर्व सैनिक के घर जाकर उनसे मिले। साथ ही सरकार के कामों और उपलब्धियों की उन्हें जानकारी दे।” चूंकि इस साल के अंत में कुछ राज्यों में विधानसभा चुनाव होने, जिनमें मध्य प्रदेश भी है। वहीं, अगले साल लोकसभा का चुनाव है, लिहाजा यह सैन्य कार्रवाई बीजेपी के लिए अहम चुनावी मुद्दा हो सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App