ताज़ा खबर
 

मोदी गुजरात में लगी आग नहीं बुझा पाए, देश कैसे चलाएंगे: आजम खान

उत्तर प्रदेश के मंत्री आजम खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि जब वह ‘‘अपने गृह राज्य में आग नहीं बुझा सके’’ तो वह देश के मामलों का प्रबंधन करने में ‘‘अक्षम’’ हैं..

Author रामपुर | August 31, 2015 3:48 PM
आजम खान ने कहा, ‘‘जो अपने घर के मामलों को सही तरीके से नहीं संभाल सकता, वह देश को संतोषजनक तरीके से नियंत्रित नहीं कर सकता।’’

उत्तर प्रदेश के मंत्री आजम खान ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि जब वह ‘‘अपने गृह राज्य में आग नहीं बुझा सके’’ तो वह देश के मामलों का प्रबंधन करने में ‘‘अक्षम’’ हैं। खान ने कहा, ‘‘जो अपने घर के मामलों को सही तरीके से नहीं संभाल सकता, वह देश को संतोषजनक तरीके से नियंत्रित नहीं कर सकता।’’

उत्तर प्रदेश के शहरी विकास मंत्री खान गुजरात में पटेल समुदाय की ओर से हाल में आरक्षण को लेकर किये गए आंदालन को लेकर प्रतिक्रिया जता रहे थे जिसमें पुलिस के साथ हुई झड़प में नौ व्यक्तियों की मौत हो गई थी। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी को अपने गृह राज्य में लगी आग को बुझाकर अपनी योग्यता और क्षमता साबित करने की जरूरत है और वह विकास के बारे में बड़े दावे करने से बचें।’’

उन्होंने यहां एक हजार करोड़ रूपये की लागत से बने मलजल शोधन संयंत्र का उद्घाटन करते हुए मोदी की काला धन वापस लाने और अधिक रोजगार के अवसर उत्पन्न करने के चुनाव के दौरान किये गए दावों को लेकर आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी ‘झूठ के बादशाह’ हैं। उन्होंने दो करोड़ नौकरियां सृजित करने और विदेशी बैंकों में जमा कालेधन को वापस लाने और प्रत्येक व्यक्ति को 15 लाख रुपये देने का वादा किया था। उन्होंने अपने वादों में से कितने पूरे किये हैं।’’

खान ने इसके साथ ही केंद्र पर ‘स्मार्ट शहर परियोजना’ को लेकर भी हमला बोला। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी भारतीय किसानों के कष्ट को लेकर अंजान हैं। यदि उन्हें जानकारी होती तो वह ऐसी बड़ी घोषणा (स्मार्ट शहर परियोजना) नहीं करते जिससे मरते किसानों की समस्याओं का शायद ही कोई प्रभावी हल हो।’’

खान ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने केंद्र की ओर से रामपुर के लिए स्मार्ट शहर परियोजना घोषित किये जाने से काफी पहले रामपुर के लिए विकास के लिए कई कदम उठाये हैं। उन्होंने केंद्रीय राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पर आरोप लगाया कि वह अपने संसदीय क्षेत्र को नजरंदाज करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App