ताज़ा खबर
 

भूकंप से दहले पाकिस्तान को मोदी ने की मदद की पेशकश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूकंप के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से बात कर हालात का जायजा लिया और इस आपदा से बुरी तरह प्रभावित पाकिस्तान और अफगानिस्तान..

Author नई दिल्ली | October 27, 2015 12:18 AM
भूकंप में घायल बच्चे को पेशावर के लेडी रीडिंग अस्पताल ले जाता एक आदमी। (फोटो-रॉयटर्स)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आये भूकंप के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को फोन किया और लोगों की जान जाने पर संवेदना जाहिर करने के अलावा सहायता की पेशकश की। उन्होंने जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद से फोन पर बात कर हालात का जायजा लिया और इस आपदा से बुरी तरह प्रभावित अफगानिस्तान को मदद की पेशकश की।

मोदी ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से भी फोन पर बात कर हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। आज आये 7.5 तीव्रता वाले भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान में था।

बिहार में दो चुनावी रैलियों को संबोधित कर लौटे मोदी ने सोमवार शाम ट्वीट किया, ‘‘बिहार से लौटा हूं। जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद से बात की और दुर्भाग्यपूर्ण भूकंप की वजह से बने हालात का जायजा लिया।’’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैंने अभी राष्ट्रपति अशरफ गनी से बात की और भूकंप से हुए नुकसान पर मेरी ओर से सहानुभूति और संवेदना प्रकट की।’’

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, ‘‘राष्ट्रपति अशरफ गनी ने मुझसे नुकसान के अपने आंतरिक आकलन को साझा किया। मैंने हरसंभव मदद का आश्वासन दिया।’’

मोदी के मुताबिक गनी ने उन्हें बताया कि भूकंप की वजह से एक स्कूली इमारत गिर गयी और कुछ बच्चे मारे गये। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मुझे यह सुनकर बहुत दुख हुआ। जब राष्ट्रपति गनी मुझे स्कूल के बारे में बता रहे थे तो मेरा दिमाग 2001 में कच्छ के अंजार में आई इसी तरह की आपदा की ओर चला गया। बहुत बुरा लगा।’’

इससे पहले मोदी ने भूकंप आने के तत्काल बाद कहा था कि उन्होंने नुकसान का फौरन आकलन करने को कहा है जिससे भारत के भी कई हिस्से प्रभावित हुए हैं। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘अफगानिस्तान-पाकिस्तान क्षेत्र में भूकंप के जोरदार झटकों के बारे में पता चला, जिसके झटके भारत के हिस्सों में भी महसूस किये गये। मैं सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं।’’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैंने तत्काल आकलन करने को कहा है और हम अफगानिस्तान और पाकिस्तान समेत जहां भी जरूरत हुई, सहायता के लिए तैयार हैं।’’

भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से करीब 250 किलोमीटर दूर देश के उत्तर पूर्व में था। इसके झटके करीब एक मिनट तक महसूस किये गये।

मोदी ने भूकंप के बाद शरीफ से बात की: मदद की पेशकश की, संवेदना जताई

द्विपक्षीय संबंधों में आए ठहराव के बावजूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जबरदस्त भूकंप आने पर सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को फोन किया और लोगों की जान जाने पर संवेदना जाहिर करने के अलावा सहायता की पेशकश की।

मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से बात की और भूकंप के चलते लोगों की जान जाने पर संवेदना जाहिर की। भारत से हर संभव सहायता की पेशकश की।’’

पाकिस्तान में आए 7. 5 की तीव्रता वाले भूकंप से बुरी तरह से प्रभावित हुआ जिसका केंद्र उत्तर अफगानिस्तान के जर्म इलाके में था। मोदी ने अशक्त लड़की गीता की वापसी को लेकर शरीफ का शुक्रिया अदा किया। वह कई साल पहले सीमा लांघ कर पाकिस्तान में प्रवेश कर गई थी और सोमवार को स्वदेश आई।

मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘गीता की घर वापसी सुनिश्चित करने में प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की कोशिश को लेकर उनका आभार जताता हूं।’’

दोनों देशों के बीच रिश्तों में जमी बर्फ और पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम का फिर से उल्लंघन किए जाने के बावजूद मोदी ने पाकिस्तान से संपर्क किया जिसमें जम्मू कश्मीर में एक नागरिक की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

गौरतलब है कि शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र जैसे अंतरराष्ट्रीय मंचों पर और अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ पिछले हफ्ते हुई बैठक में भारत की आलोचना की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App