ताज़ा खबर
 

योजनाओं की निगरानी करेगा नरेंद्र मोदी एप्लीकेशन: स्मृति ईरानी

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने आज कहा कि आम आदमी तक लाभ पहुंचाने के लिये केंद्र सरकार की योजनाओं की निगरानी नरेंद्र मोदी मोबाइल ऐप के जरिये की जायेगी।

Author अमेठी | April 24, 2016 6:25 PM
स्मृति ईरानी। (पीटीआई फाइल फोटो)

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने आज कहा कि आम आदमी तक लाभ पहुंचाने के लिये केंद्र सरकार की योजनाओं की निगरानी नरेंद्र मोदी मोबाइल ऐप के जरिये की जायेगी। स्मृति ने जगदीशपुर में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार की मंशा है कि उसकी योजनाओं का लाभ आम आदमी तक पहुंचे। इसके लिये योजनाओं के क्रियान्वयन की निगरानी बेहद आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि इस मकसद को पूरा करने के लिए मोदी मोबाइल एप्लीकेशन की मदद ली जाएगी। इसके लिये फिलहाल अमेठी में दो समूह बनाए गये हैं। उनमें से एक में 5 तथा दूसरे में 14 लोग शामिल हैं जो सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय से जुडे़ंगे। स्मृति ने कहा कि इन समूहों का काम होगा कि वे विकास योजनाओं के क्रियान्वयन पर नजर रखें और उससे जुड़ी तस्वीरें खींचकर उन्हें प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ साझा करें। इसके जरिये योजनाओं का लाभ आम जनता तक तेजी से पहुंचाने में मदद मिलेगी।

उन्होंने मिसाल देते हुए कहा कि अगर इस टीम का कोई सदस्य किसी अग्निकांड पीड़ित व्यक्ति की सहायता की फोटो इस एप्लीकेशन के जरिये पर अपलोड करेगा तो वह तस्वीर प्रधानमंत्री कार्यालय पहुंच जायेगी। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि उनकी सरकार का यह प्रयास है कि सही व्यक्ति तक सही लाभ पहुंचे। इसके लिए कई कदम उठाये गये हैं। बाद में, उन्होंने समूह के लिये चयनित युवाओं के साथ गोपनीय बैठक भी की।

इस मौके पर ईरानी ने महिलाओं से आह्वान किया कि वे घर की चौखट से बाहर निकल कर समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझें। उन्होंने कहा कि आज भी महिलाएं खुद को घरेलू कार्यों तक सीमित रखना चाहती हैं इससे समाज कमजोर ही नहीं हो रहा है बल्कि उनकी सहभागिता के बिना देश की तरक्की भी रूकती है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जिस तरह घर परिवार को सही दिशा मे ले जाने मे महिलाओं का अहम योगदान है उसी तरह देश के निर्माण में भी उनका सहयोग आवश्यक हो गया है। स्मृति ने कहा कि प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत वह अमेठी मे 50 हजार महिलाओं का बीमा करायेंगी, जिसकी पहली किस्त वह खुद जमा करेंगी। स्मृति ने उनसे मिलने आयी दिवंगत पत्रकार करूण मिश्रा की पत्नी को भरोसा दिलाया कि वह उनके बच्चों की शिक्षा का खर्च खुद वहन करेंगी। मालूम हो कि पिछले माह पत्रकार करुण मिश्रा की सुलतानपुर में गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App