ताज़ा खबर
 

NaMo App पर भी लगे प्रतिबंध, चोरी-छिपे थर्ड पार्टी US कंपनियों को पहुंचा देती है डेटा- Tiktok सहित 59 चीनी ऐप्स बैन के बाद कांग्रेसी पूर्व CM की मांग

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम अशोक चव्हाण ने ट्वीट किया,‘‘ यह अच्छा है कि मोदी सरकार 59 चीनी ऐप पर पाबंदी लगाकर 130 करोड़ भारतीयों की निजता की रक्षा कर रही है।

Author Updated: June 30, 2020 5:56 PM
वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पृथ्वीराज चव्हाण

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने मंगलवार को यह आरोप लगाते हुए नमो ऐप पर पाबंदी लगाने की मांग की कि यह भारतीयों की निजता का उल्लंघन कर रहा है। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आधिकारिक मोबाइल फोन ऐप्लिकेशन नमो ऐप चोरी-छिपे निजता ‘सेटिंग’ को बदल देता है और डाटा अमेरिका में तृतीय पक्ष कपंनियों को भेजता है।

चव्हाण ने ट्वीट किया,‘‘ यह अच्छा है कि मोदी सरकार 59 चीनी ऐप पर पाबंदी लगाकर 130 करोड़ भारतीयों की निजता की रक्षा कर रही है। नमो ऐप भी 22 डाटा को एकत्र कर, निजता सेटिंग बदल कर और अमेरिका में तृतीय पक्ष कपंनियों को भेजकर भारतीयों की निजता का उल्लंघन करता है।’’

भारत ने सोमवार को यह कहते हुए बहुत ही लोकप्रिय टिकटॉक और यूसी ब्राउजर समेत चीनी संबंध वाले 59 ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया कि वे देश की संप्रभुतता, अखंडता और सुरक्षा के लिए नुकसानदेह हैं। यह कदम चीन के साथ सीमा पर गतिरोध तथा हाल ही में गलवान घाटी में हुए संघर्ष की पृष्ठभूमि में उठाया गया है। इस संघर्ष में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गये थे।

भारत ने चीन से संबंध रखने वाली 59 एप को बंद कर दिया। इनमें काफी प्रचलित टिक टॉक और यूसी ब्राउजर भी शामिल हैं। सरकार का कहना है कि ये एप देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिहाज से नुकसानदेह हैं। इस बीच, टिक टॉक एप को गूगल प्ले स्टोर और एप्पल एप स्टोर से हटा लिया गया है। सूत्रों का कहना है कि टिकटॉक ने खुद इन एप स्टोर से एप को हटाया है।

वहीं भारत में टिक टॉक के प्रमुख निखिल गांधी ने कहा, ‘‘भारत सरकार ने टिक टॉक सहित 59 एप को बंद करने का अंतरिम आदेश जारी किया है। हम इस आदेश का पालन कर रहे हैं। हमें संबंधित सरकारी पक्षों के समक्ष अपनी प्रतिक्रिया और स्पष्टीकरण देने के लिये आमंत्रित किया गया।’’

टिक टॉक का कहना है कि वह भारतीय कानूनों के तहत आंकड़ों की निजता और सुरक्षा जरूरतों का लगातार अनुपालन करती है और उसने भारत में उसकी एप का इस्तेमाल करने वाले किसी भी भारतीय के बारे में कोई सूचना चीन की सरकार अथवा अन्य किसी देश के साथ साझा नहीं की है। ‘‘हम उपयोगकर्ताओं की निजता और सत्यनिष्ठा को सबसे अधिक महत्व देते हैं।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Coronavirus Vaccine, Medicine HIGHLIGHTS: रामदेव और राज्य-केंद्र को उत्तराखंड HC से नोटिस, कहा- एक हफ्ते के भीतर दें जवाब
2 पत्नी के ‘सिंदूर’ नहीं लगाने और ‘चूड़ी’ पहनने से इनकार पर अदालत ने दी पति को तलाक की अनुमति
3 ‘नियमों से ऊपर कोई नहीं’, मास्क पर सख्ती को लेकर PM ने कहा, जानें देश के नाम उनके संबोधन की बड़ी बातें