ताज़ा खबर
 

नागालैंड चुनाव परिणाम 2018: रिजल्ट से पहले मुख्यमंत्री की भविष्यवाणी, बताया कितनी सीटें जीतेगी पार्टी

Nagaland Assembly Election Chunav Result 2018, Nagaland Vidhan Sabha Chunav/Election Result 2018: नागालैंड के मुख्यमंत्री टीआर जेलियांग ने भविष्यवाणी की है कि उनकी पार्टी नगा पीपल्स फ्रंट 27 सीटें जीतेगी। जेलियांग 60 विधानसभा सीटों में से इतनी सीटें जीतने की भविष्यवाणी की है।

Updated: March 2, 2018 10:59 PM
नागालैंड के मुख्यमंत्री टीआर जेलियांग। (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

कल्लोल डे नागालैंड के मुख्यमंत्री टीआर जेलियांग ने भविष्यवाणी की है कि उनकी पार्टी नागा पीपल्स फ्रंट 60 विधानसभा सीटों में से 27 सीटें जीतेगी। जेलियांग ने अपनी कुर्सी को लेकर संदेह जताया है लेकिन उनकी पार्टी चुनाव में जीत को लेकर पूरे आत्मविश्वास में है। जेलियांग ने कोहिमा स्थित अपने आवास पर शुक्रवार (2 मार्च) की सुबह अपने कुछ वरिष्ठ कैबिनेट के साथियों से मुलाकात करने के बाद भविष्यवाणी की। उन्होंने कहा कि कम से कम उनकी पार्टी 27 सीटें जीतेगी। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी नागालैंड पीपल्स फ्रंट (एनपीएफ) अगली सरकार नेशनल पीपल्स पार्टी (एनपीपी) और जनता दल-यूनाइटेड (जेडी-यू) के साथ गठबंधन कर बनाएगी। एनपीपी ने एनपीएफ के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन की बात स्वीकारी है, जबकि जेडी-यू ने एनपीएफ के साथ चुनाव पूर्व किसी प्रकार की गठबंधन की संभावनाओं से इनकार किया है। जेलियांग ने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार को समर्थन देने वाली दोनों पार्टियों ने उनके मुख्यमंत्री पद पर बने रहने पर एनपीएफ को समर्थन देने का फैसला किया है।

27 फरवरी से पहले सीट साझा करने को लेकर बीजेपी के साथ हुए विवाद के बावजूद एनपीएफ उसकी अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का हिस्सा रहेगी। जेलियांग ने कहा कि एनपीएफ राष्ट्रीय दल के साथ लगातार हार्दिक संबंध रखती है, यह बीजेपी पर निर्भर करता है कि वह एनपीएफ के साथ गठबंधन में रहना चाहती है या नहीं। एक कट्टर क्षेत्रीय विशेषज्ञ के तौर पर पहचान रखने वाले एनपीएफ अध्यक्ष डॉ. शूरहॉजली लिजिएत्सु बीजेपी के खिलाफ रहने वाले के तौर पर जाने जाते हैं, लेकिन जेलियांग ने आश्वस्त किया कि दिग्गज नेता एनपीएफ-बीजेपी गठबंधन के रास्ते में नहीं आएंगे।

वर्तमान मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि सत्ता में आने पर वह एक स्थाई सरकार बनाएंगे और अमन और विकास सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा- ”पिछले कुछ वर्षों में मेरे विरोधियों ने मेरे खिलाफ सियासी मुश्किलें खड़ी कर मुझे एक दिन भी चैन से नहीं रहने दिया, लेकिन मैंने अपने कर्तव्यों की उपेक्षा नहीं की।” जेलियांग ने कहा कि एनपीएफ को बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद है, लेकिन चुनाव से पहले, कई विवाद हुए। “जिसे एनपीएफ का टिकट नहीं मिला, वह अन्य पार्टियों में चला गया, इसलिए रणनीतिक तौर पर कुछ बदलाव हुए हैं। लेकिन अब केवल अच्छे लोग एनपीएफ के साथ रह रहे हैं।”

Next Stories
1 हिमाचल प्रदेश: कार फिसलकर घाटी में जा गिरी, सड़क हादसे में 8 श्रद्धालुओं की मौत
2 पत्नी अच्छा खाना नहीं बनाती, इसलिए इस शख्स को तलाक चाहिए
3 कानपुर: युवक की ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या, अपहरण मामले में जमानत पर था रिहा
ये पढ़ा क्या?
X