ताज़ा खबर
 

मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपी BJP विधायक का ऐलान- पाकिस्तान से आए हिंदू शरणार्थियों को बसाएंगे, दी 5 हजार की आर्थिक मदद

भाजपा विधायक विक्रम सैनी ने कहा कि पाकिस्तान में धार्मिक प्रताड़ना झेलने के बाद भारत आए शरणार्थियों में से पांच ने उनसे मुलाकात की। बैठक के बाद सैनी ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने प्रत्येक को 5,000-5,000 रुपए की सहायता दी है।

मुजफ्फरनगर | January 12, 2020 1:39 PM
भाजपा विधायक विक्रम सैनी (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पाकिस्तान के 25 हिंदू शरणार्थियों को बसाने और उनकी मदद करने की बात सामने आई है। यह दावा बीजेपी के एक विधायक ने की है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक विधायक ने कहा कि वह कवल गांव में पाकिस्तान के 25 हिंदू शरणार्थियों को बसाने में मदद करेंगे और उनमें से पांच को उन्होंने आर्थिक सहायता भी दी है। बता दें कि पाकिस्तान से आए 25 शरणार्थी राष्ट्रीय राजधानी में एक शिविर में रह रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ देश में नागिरकता को लेकर CAA और NRC का भी जनकर विरोध हो रहा है।

बीजेपी विधायक ने क्या कहाः उत्तर प्रदेश के खटौली के भाजपा विधायक विक्रम सैनी ने कहा कि पाकिस्तान में धार्मिक प्रताड़ना झेलने के बाद भारत आए शरणार्थियों में से पांच ने उनसे मुलाकात की। बैठक के बाद सैनी ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने प्रत्येक को 5,000-5,000 रुपए की सहायता दी है और उन्हें आश्वस्त किया कि वह उन्हें कवल गांव में बसाएंगे।

Hindi News Live Hindi Samachar 12 January 2020: देश की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपी हैं सैनीः गौरतलब है कि 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगों में सैनी भी आरोपी हैं। यह वही कवल गांव हैं जहां तीन युवकों की हत्या के बाद मुजफ्फरनगर और उसके नजदीकी क्षेत्रों में दंगे भड़क उठे थे। इस दंगे में 60 लोगों की मौत हो गई 40,000 लोग पलायन कर गए थे। इस दौरान पूरे इलाके में तनाव का माहौल था।

CAA का विरोधः एक तरफ बीजेपी और उसके नेता पाकिस्तान से आए हिंदू शरणार्थियों को बसाने और आर्थिक मदद देने की बात कह रहे हैं वहीं दूसरी ओर पूरे देश में CAA और NRC को लेकर पूरे देश में विरोध जारी है। भारत में रह रहे अल्पसंख्यक इस नए कानून के खिलाफ हैं और सरकार से इसे हटाने की मांग कर रहे हैं। अल्पसंख्यकों के साथ देश के कई विश्वविद्यालयों के छात्र भी इसे हटाने की मांग कर रहे हैं।

Next Stories
1 PM मोदी बोले- कोलकाता पोर्ट अब श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम से जाना जाएगा, CAA को लेकर PM मोदी ने ममता बनर्जी पर यूं कसा तंज
2 Delhi Elections 2020 से पहले दो दर्जन से अधिक IS आतंकियों के टारगेट पर RSS और हिंदू संगठनों के नेता!
3 बंगालः नरेंद्र मोदी के प्रोग्राम में नहीं पहुंचीं ममता बनर्जी, PM ने मंच पर पोर्ट कर्मचारियों को पहले किया प्रणाम, फिर पैर छू दिया सम्मान
ये पढ़ा क्या?
X