कैराना पहुंची भाजपा टीम का दावा- मुसलमान कर रहे हैं कब्‍जा, शाह को भेजी जाएगी रिपोर्ट - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कैराना पहुंची भाजपा टीम का दावा- मुसलमान कर रहे हैं कब्‍जा, शाह को भेजी जाएगी रिपोर्ट

केन्‍द्र सरकार ने कैराना से पलायन के मुद्दे पर विस्‍तृत रिपोर्ट की मांग की है। मंगलवार को मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था कि चुनाव से पहले ऐसे मुद्दों को हवा देना भगवा पार्टी की आदत है।

कैराना में सांसद हुकुम सिंह। (EXPRESS PHOTO)

भाजपा सांसद हुकुम सिंह के आरोपों की तस्‍दीक करने पहुंची पार्टी की नौ सदस्‍यीय टीम ने कहा है कि मुस्लिम कैराना पर ‘कब्‍जा’ कर रहे हैं। टीम के सदस्‍य और सहारनपुर से सांसद राघव लखनपाल ने कहा कि ”कैराना के हिन्‍दुओं की दशा कश्‍मीरी पंडितों से अलग नहीं है। पिछले चार साल में बड़ी संख्‍या में कैराना से हिन्‍दुओं का पलायन हुआ है। लखनपाल के अनुसार यूपी की दशा 90 की हिन्‍दी फिल्‍मों जैसी है जहां राज्‍य सरकार की सरपरस्‍ती में गैंगस्‍टर्स पैसों के लिए लोगों को गोली मारते रहते हैं। सांसद के अनुसार, ”ये गुंडे जेल में हैं लेकिन वे मोबाइल के जरिए रंगदारी का धंधा कंट्रोल करते हैं। हिन्‍दू व्‍यापारियों ने हमें बताया कि उनके पास कैराना से भागने के अलावा कोई चारा नहीं है।”

टीम में लखनपाल के अलावा बागपत सांसद सत्‍यपाल सिंह, अलीगढ़ सांसद सतीश गौतम, अांवला सांसद धर्मेंद्र कश्‍यप, बुलंदशहर सांसद भोला नाथ सिंह, गोरखपुर विधायक राधा मोहन, यूपी के पूर्व डीजीपी बृज लाल, वरिष्‍ठ भाजपा नेता सुरेश खन्‍ना, भाजपा के मानवाधिकार आयोग के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सुधीर अग्रवाल शामिल थे। टीम ने पहले व्‍यापारियों, फिर कश्‍यप समुदाय के लोगों से मुलाकात की।

READ ALSO: हिन्‍दू परिवारों के पलायन की सच्‍चाई जांचने कैराना पहुंची भाजपा की टीम, मुसलमानों ने किया विरोध

भाजपा नेताओं की टीम ने आराेप लगाया कि कैराना में अब 92 प्रतिशत मुस्लिम रहते हैं और हिन्‍दुओं की संख्‍या सिर्फ 8 प्रतिशत रह गई है। टीम ने कहा कि वह कैराना की एक रिपोर्ट भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह को एक सप्‍ताह के भीतर सौंप दी जाएगी।

भाजपा की टीम ने रंगदारी से क‍थित तौर पर परेशान परिवारों से भी मुलाकात की। टीम के सदस्‍यों ने कहा कि ”कैराना के हिन्‍दू कहते हैं कि उन्‍हेंं मुसलमानों को अपनी जमीन औने-पौने दामों पर बेचनी पड़ रही है। लोगों ने बताया कि रंगदारी, जमीन हड़पना, महिलाओं के खिलाफ अपराध, गैरकानूनी गो-वध इस क्षेत्र में आम बात हो गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App