ताज़ा खबर
 

तीन तलाक का व‍िरोध, मुस्लिम महिलाओं का दर्द: बेटी जनने, कार या दहेज नहीं देने या पति की बुरी आदतों का विरोध करने पर टूटा न‍िकाह 

मुजफ्फरनगर की रहने वाली नाजिया खान ने कहा कि साल 2009 में उनकी शादी हुई लेकिन बेटी पैदा होने के बाद पति ने उससे मारपीट शुरू कर दी और नर्सिंग होम बनाने के लिए 25 लाख रुपए की मांग की।

triple talaq, pune girl triple talaq, pune muslim divorceट्रिपल तलाक के खिलाफ लड़ रही आरिशा अपने बेटे और पिता के साथ। (Express photo)

देश में तीन तलाक के मुद्दे पर छिड़ी बहस के बीच मुस्लिम महिलाओं ने इसे सही ठहराते हुए तीन तलाक को बैन करने की मांग की है। तलाक के दर्द से जूझ रहीं मुस्लिम महिलाओं ने न्यूज चैनल आजतक पर अपने दर्द को बयां करते हुए कहा, ‘तीन तलाक की आड़ में पति हर छोटी सी बात पर तलाक दे देते हैं।’ मुजफ्फरनगर की रहने वाली नाजिया खान ने बताया कि बेटी पैदा होने पर ही पति ने तलाक का फरमान सुना दिया। दूसरी तरफ कई मामलों में दहेज ना देने, पति द्वारा दूसरी शादी करने, पति के विदेश में बसने, बीवी के बदसूरत होने पर तलाक के मामले सामने आए हैं।

तीन तलाक का विरोध करते हुए मुस्लिम महिलाओं ने कहा है कि तीन तलाक के कारण उनकी जिंदगी हमेशा चाकू की नोक पर रहती है। ना जाने पति किस बात पर उन्हें तीन बार तलाक…तलाक…तलाक कहकर उनकी जिंदगी खत्म कर दे। पढ़िए तीन तलाक से जूझ रहीं मुस्लिम महिलाओं की पीड़ा-

1. इरम बहार ने शादी के बाद हुई बर्बरता को याद करते हुए बताया कि शादी के चार-पांच दिन बाद कैसे उसके साथ रूह कपा देने वाली हिंसा की गई। ससुराल वालों ने कार की मांग की, जिसे पूरा नहीं करने पर घर से निकाल दिया। बाद में पति ने करीब एक साल बाद ईमेल के जरिए तलाक दे दिया। फिर पति ने दूसरी शादी कर ली। महिला ने इंसाफ की मांग की और तीन तलाक को बैन करने का पुरजोर समर्थन किया।

2. एक बूढ़े पिता ने अपनी बेटी का दर्द बयां करते हुए कहा कि 3 जनवरी, 2010 को बेटी की शादी के 13 महीने बाद उसे दहेज के लिए बहुत मारा। जिसके बाद उसे तलाक दे दिया। इसे मुस्लिम धर्मगुरु ने भी सही ठहराते हुए कहा, ‘आपकी बेटी का तलाक हो गया कुछ नहीं हो सकता।’ ये फतवा अलीगढ़ में मुस्लिम धर्मगुरू ने दिया।

3. झांसी की रहने वाली रूबीना ने कहा, ‘साल 2012 में उनकी शादी लखनऊ के एयरफोर्स कर्मी से हुई थी लेकिन बाद में पता चला कि उन्होंने पहली ही दो शादियां कर रखी है और मुझे तलाक दे दिया गया।’

3. एक अन्य महिला ने बताया कि बेटी की शादी होने के पांच दिन बाद ही सुसराल में उसे सताया जाने लगा जिसके बाद वो घर आ गई। हमने दोबारा गुजारिश कर बेटी को ससुराल भेजा तो उसे वहां बुरी तरह से मारा-पीटा गया, प्रताड़ित किया गया। उसका पति उसे छोड़कर भाग गया और बाद में बेटी को तलाक का फरमान भेज दिया।

4. मुजफ्फरनगर की रहने वाली रेशमा ने बताया कि ससुराल वालों ने घर से निकाल दिया और कहा दोबारा कभी मत आना यहां। बाद में मुझे तलाक दे दिया गया।

5. मुजफ्फरनगर की रहने वाली नाजिया खान ने कहा कि साल 2009 में उनकी शादी हुई लेकिन बेटी पैदा होने के बाद पति ने उससे मारपीट शुरू कर दी और नर्सिंग होम बनाने के लिए 25 लाख रुपए की मांग की। नाजिया ने बताया कि जब मैंने केस दर्ज किया तो बाद में पता चला तलाक देना और दूसरी शादी करना उसका पेशा है।

6. दिल्ली के ओखला में रहने वाली समीना ने आरोप लगाया कि मुस्लिम धर्मगुरू महिलाओं को बर्बाद करने के लिए अपनी दुकानें चला रहे हैं। उल्टे सीधे फतवों के जरिये ये अपना व्यापार चला रहे हैं और इसके लिए हमसे पैसे ले रहे हैं और हमारे घरों को बर्बाद कर रहे हैं।

7. एक अन्य मुस्लिम महिला ने अपनी बेटी का दर्द बयां करते हुए कहा कि बेटी की मौत को पांच साल हो गए उसके ससुरालवालों ने सिर्फ दहेज के लिए उसे मार डाला। आजतक हमें इंसाफ नहीं मिला।

8. मुजफ्फरनगर की ही जहां आरा मिर्जा ने बताया कि शादी के 17 दिन बाद ही पति ने अचानक मारपीट शुरू कर दी और पूछा तो बताया कि उन्होंने दूसरी शादी कर ली।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 संसदीय समिति की सिफारिशें हुईं लागू तो राष्ट्रपति सहित सभी मंत्रियों को देना पड़ेगा हिंदी में भाषण!
2 IIT दिल्ली को नहीं पसंद है स्लीवलेस ड्रेस, गर्ल्स स्टूडेंट से कहा- समारोह में शालीन कपड़े ही पहनकर आएं
3 कश्मीर में प्रदर्शन से निपटने के लिए सुब्रह्मण्यम स्वामी की सलाह, घटाई जाए घाटी की आबादी
IPL 2020 LIVE
X