ताज़ा खबर
 

लंदन में ललित मोदी से मिले थे मुंबई पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया

मुंबई पुलिस आयुक्त राकेश मारिया ने स्वीकार किया है कि उन्होंने आइपीएल के पूर्व प्रमुख के वकील के अनुरोध पर उनसे 2014 में लंदन में मुलाकात की थी...

Author June 21, 2015 8:40 AM

मुंबई पुलिस आयुक्त राकेश मारिया ने स्वीकार किया है कि उन्होंने आइपीएल के पूर्व प्रमुख के वकील के अनुरोध पर उनसे 2014 में लंदन में मुलाकात की थी। न्यूज चैनलों पर ललित और मारिया की तस्वीरें प्रसारित होने के बाद मुंबई पुलिस आयुक्त ने शनिवार को एक बयान जारी कर यह बात स्वीकार की।

बयान में मारिया ने कहा, ‘जुलाई 2014 में, मैं लंदन में आधिकारिक रूप से सम्मेलन में शरीक हुआ। सम्मेलन में, मुझसे ललित का प्रतिनिधित्व कर रहे एक वकील ने संपर्क किया, जिन्होंने कहा कि ललित अपनी और लंदन स्थित अपने परिवार की जान को गंभीर खतरा होने के सिलसिले में मुझसे मिलना चाहते हैं।’

इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) के प्रथम आयुक्त ललित और अन्य लोग विदेशी मुद्रा के कथित उल्लंघन मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की जांच का सामना कर रहे हैं।

मारिया ने कहा कि मुंबई के संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) के तौर पर 2009-10 में मेरे तहत अपराध शाखा ने मुंबई अंडरवर्ल्ड द्वारा उन्हें (ललित को) जान से मारने की कोशिश को नाकाम कर दिया था।

लंदन में हुई घटनाओं के क्रम का वर्णन करते हुए मारिया ने कहा कि ललित के वकील ने थोड़ी देर के लिए ललित से उनके मिलने का अनुरोध किया था। बयान में कहा गया है कि वकील ने मुझसे अनुरोध किया चूंकि ललित के जान को गंभीर खतरा है इसलिए मुझे ललित से संक्षिप्त अवधि के लिए मिलना चाहिए।

वकील के अनुरोध के मुताबिक हम मिले, जहां ललित ने मुंबई पुलिस की मदद मांगी क्योंकि उन्हें और उनके परिवार को अंडरवर्ल्ड से धमकी मिल रही थी। मारिया ने बताया कि उन्होंने ललित को स्पष्ट रूप से बता दिया था कि मुंबई पुलिस का लंदन में कोई क्षेत्राधिकार नहीं है। उन्हें एक औपचारिक शिकायत दर्ज कराने के लिए मुंबई लौटना चाहिए। पुलिस आयुक्त ने बताया कि इसके बाद मेरी मुलाकात 15 से 20 मिनट चली।

अपने रुख के बारे में मारिया ने कहा कि उन्होंने भारत लौटने पर मुलाकात के ब्योरे से फौरन ही गृह मंत्री को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि उन्होंने इस बारे में जरूरी गोपनीय रिकॉर्ड को भी बनाए रखा। इसके अलावा मुंबई पुलिस की फिरौती रोधी प्रकोष्ठ को भी मुलाकात के ब्योरे से लिखित रूप में अवगत कराया गया।

Next Stories
1 जेल में ही रहेंगे आसाराम, कोर्ट ने फिर ख़ारिज की ज़मानत याचिका
2 गुड़गांव में 22 वर्षीय महिला से सामूहिक बलात्कार
3 शिवसेना ने कहा, हिंदू वोटों के सहारे सत्ता में आए नरेंद्र मोदी
आज का राशिफल
X