ताज़ा खबर
 

शरद पवार को ईडी का मेल, आने की जरूरत नहीं, NCP चीफ के घर पहुंचे मुंबई पुलिस कमिश्नर

राहुल गांधी ने कहा कि सरकार की तरफ से बदले की राजनीति का निशाना बनाए जाने वाले शरद पवार हालिया विपक्षी नेता हैं। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि शरद पवार दिग्गज राजनेता है। ईडी की इस कार्रवाई की निश्चित रूप से ही प्रतिक्रिया होगी।

शरद पवार ने मुंबई पुलिस कमिश्नर और जॉइंट सीपी के ईडी दफ्तर नहीं जाने के आग्रह करने की दी जानकारी। (फोटो-एएनआई)

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एनसीपी चीफ शरद पवार को अपने कार्यालय नहीं आने को कहा है। ईडी ने शरद पवार को भेजे मेल में कहा कि आपको दफ्तर आने की जरूरत नहीं है। इससे पहले एनसीपी नेता ईडी शुक्रवार दोपहर ईडी दफ्तर जाने के लिए तैयार थे।

इस बीच मुंबई पुलिस के कमिश्नर और जॉइंट सीपी ने शरद पवार से मुलाकात कर ईडी दफ्तर नहीं जाने का आग्रह किया था। एनसीपी प्रमुख ने बताया कि पुलिस के आला अधिकारियों ने कानून व्यवस्था की स्थिति का हवाला देते हुए मुझे ऐसा नहीं करने को कहा। उन्होंने कहा कि ऐसे में मैं अब ईडी दफ्तर नहीं जाऊंगा।

शरद पवार के प्रवर्तन निदेशालय कार्यालय शुक्रवार दोपहर में पहुंचने से पहले पुलिस ने वहां निषेधाज्ञा लगा दी थी। वहीं राज्य में विपक्षी पार्टी का दावा है कि पुलिस उनके कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले रही है। पुलिस ने शुक्रवार सुबह बताया कि पवार के दौरे को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस र्किमयों को दक्षिणी मुंबई के बल्लार्ड पियरे स्थित प्रवर्तन निदेशालय के कार्यालय की ओर जाने वाली सड़कों पर तैनात किया गया है।

मालूम हो कि महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक के भ्रष्टाचार से जुड़े धनशोधन मामले में पवार का नाम भी है। पूर्व केंद्रीय मंत्री को अभी तक ईडी ने तलब नहीं किया है। ईडी ने पवार और उनके भतीजे अजीत पवार के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया है। एनसीपी ने इस मामले को राजनीति से प्रेरित बताया है।

वहीं, शरद पवार के शुक्रवार को ईडी दफ्तर तलब किए जाने पर राहुल गांधी ने कहा कि सरकार की तरफ से बदले की राजनीति का निशाना बनाए जाने वाले शरद पवार हालिया विपक्षी नेता हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से महज एक महीना पहले कार्रवाई की टाइमिंग राजनीति अवसरवादिता जान पड़ता है।  शरद पवार को इस मामले में शिवसेना का भी समर्थन मिला है।

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि एनसीपी प्रमुख के ईडी कार्यालय जाने की खबर पर कहा कि सरकार को देखना चाहिए कि क्या हो रहा है। शिवसेना नेता ने कहा कि ईडी को इस संबंध में कदम उठाने से पहले सरकार से विचार विमर्श करना चाहिए। शरद पवार दिग्गज राजनेता है। उनके समर्थक राज्यभर में हैं। ईडी की इस कार्रवाई की निश्चित रूप से ही प्रतिक्रिया होगी। इससे पहले शरद पवार के ईडी दफ्तर पहुंचने से पहले ही

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 नाहक नौ महीने जेल में रहे गोरखपुर के डॉ. कफील खान, दो साल बाद जांच में हुए बरी
2 लाइव शो में पाकिस्तानी पत्रकार का कबूलनामा- हां, हमारा मुल्क है टेररिस्तान
3 Kerala Nirmal Lottery NR-140 Results: 60 लाख रुपए तक के विजेताओं के लॉटरी नंबर और इनाम की रकम, यहां चेक करें
ये पढ़ा क्या?
X