ताज़ा खबर
 

समाजवादी पार्टी के रुख के खिलाफ मुलायम की छोटी बहू अपर्णा, तीन तलाक बिल का किया समर्थन

तीन तलाक बिल के समर्थन में अपर्णा का खुलकर सामने आना समाजवादी पार्टी को खल सकता है।

अपर्णा यादव। (File Photo)

समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने एकबार फिर पार्टी की गाइडलाइन से बाहर जाकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। अपर्णा ने लोकसभा में तीन तलाक बिल के पास होने पर इसका खुलकर समर्थन किया है। अपर्णा ने अपनी बात ट्वीट कर कही। उन्होंने ट्वीट में लिखा- यह स्वागत किए जाने योग्य कदम है जो महिलाओं को सशक्त करेगा खासकर मुस्लिम महिलाओं को। यह मुस्लिम महिलाओं की लंबे समय चल रही शिकायत को दूर करेगा। तीन तलाक बिल के समर्थन में अपर्णा का खुलकर सामने आना समाजवादी पार्टी को खल सकता है क्यों कि अखिलेश यादव ने इस बिल के मौजूदा स्वरूप को लेकर विरोध जताया था और इसके लिए कुछ सुधारों की मांग की थी।

मुलायम सिंह के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी अपर्णा यादव पहले भी पार्टी के इतर अपनी विचारधारा व्यक्त कर चुकी हैं जो पार्टी के लिए गले में फांस की तरह चुभती रही है। उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सत्ता पर काबिज होने के कुछ ही दिनों बाद अपर्णा अपने पति के साथ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिली थीं। उससे पहले लखनऊ में पिछले वर्ष एक इफ्तार पार्टी में वह गृहमंत्री राजनाथ सिंह के साथ भी शामिल हो चुकी थीं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक सेल्फी भी पोस्ट कर पार्टी को असमंजस में डाल दिया था।

अपर्णा यादव मुलायम परिवार की बहू होने साथ ही समाजवादी पार्टी की नेता भी हैं और यूपी विधानसभा चुनाव में लखनऊ कैंट सीट से उम्मीदवार भी रही थीं। वह एक समाजसेवी के तौर पर भी काम करती हैं। लखनऊ में अपर्णा जीव आश्रय नाम की गौशाला चलाती हैं, जहां घायल पशुओं का इलाज भी किया जाता है। योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद जब उन पर पार्टी की तरफ से उंगलियां उठाई गई थीं तब उन्होंने कहा था कि वह गौशाला के संबंध में मुख्यमंत्री से मिलने गई थीं।

अपर्णा के बिंदास अंदाज को देखते हुए राजनीतिक पंडित यहां तक कयास लगाते हैं कि वह समाजवादी पार्टी को छोड़कर बीजेपी में भी जा सकती हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि अपर्णा की इस प्रतिक्रिया पर पार्टी की क्या क्रिया होती है। यह भी सच है कि अपर्णा ने अपने इसी बिंदासपन के कारण अपने फैन्स की लंबी फेहरिस्त बना ली है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App