जस्ट डायल खरीद रहे मुकेश अंबानी? अमिताभ ने भी लगा रखा है पैसा, जानिए डील से रिलायंस को क्या मिलेगा?

बताया गया है कि जस्ट डायल ने 16 जुलाई को फंड जुटाने के प्रस्ताव पर चर्चा के लिए बोर्ड मीटिंग बुलाई है। माना जा रहा है कि इसी दिन रिलायंस के साथ डील का ऐलान किया जा सकता है।

Mukesh Ambani, Reliance, JD
मुकेश अंबानी बना रहे भारत के सबसे बड़े मर्चेंट डेटाबेस जस्टडायल में निवेश की योजना।

एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी अब अपने कूटनीतिक निवेश का दायरा बढ़ाने में जुट गए हैं। हाल ही में फ्यूचर ग्रुप की संपत्तियों की खरीद के मुद्दे पर अमेजन से उलझे अंबानी फिलहाल भारत की मर्चेंट डेटाबेस (व्यापारियों की जानकारी रखने वाली) कंपनी जस्टडायल को खरीदने के लिए बातचीत कर रहे हैं। बताया गया है कि जस्टडायल के संस्थापक प्रमोटर्स और रिलायंस के बीच यह डील 80-90 करोड़ डॉलर (6000 करोड़ से 6700 करोड़ रुपए) तक में हो सकती है।

जानकारी के मुताबिक, यह डील पूरी होने के बाद रिलायंस 25 साल पुराने जस्टडायल के बड़े मर्चेंट डेटाबेस का बेहतर इस्तेमाल कर सकता है। दरअसल, रिलायंस ने हाल ही में अपनी उपभोक्ता सेवाओं को बढ़ाने का ऐलान किया था। ऐसे में पूरे भारत में फैले इस सर्च एंड लिस्टिंग कंपनी के डेटाबेस के जरिए रिलायंस अपने स्थानीय व्यापार और पेमेंट योजना को जमीन पर उतारने में सफल होने की योजना बना रहा है।

JD की बोर्ड मीटिंग के बाद हो सकता है ऐलान: बताया गया है कि जस्ट डायल ने 16 जुलाई को फंड जुटाने के प्रस्ताव पर चर्चा के लिए बोर्ड मीटिंग बुलाई है। माना जा रहा है कि इसी दिन रिलायंस के साथ डील का ऐलान किया जा सकता है। गौरतलब है कि रिलायंस इस वक्त देश की सबसे बड़ी संगठित खुदरा विक्रेता है, जबकि जस्टडायल लोकल सर्च इंजन सेगमेंट में मार्केट लीडर है। JD से हर महीने औसतन करीब 15 करोड़ नए यूजर्स (यूनीक विजिटर्स) मोबाइल, ऐप्स, वेबसाइट और हॉटलाइन 8888888888 के जरिए जानकारी मांगते हैं।

कैसे हो सकती है डील?: बता दें कि जस्टडायल में इस वक्त प्रबंध निदेशक वीएसएस मणि हैं, जिनके परिवार का जस्टडायल में 35.5 फीसदी हिस्से पर नियंत्रण है। इस हिस्से की वैल्यू करीब 2387.9 करोड़ रुपए आंकी गई है। बताया गया है कि रिलायंस मणि से खरीद करने के बारे में योजना बना रहा है। इसके अलावा कंपनी जस्टडायल की इक्विटी में भी 26 फीसदी शेयर खरीदने पर विचार कर रही है। मौजूदा शेयर कीमतों के लिहाज से इस खरीद में रिलायंस को 4102 करोड़ रुपए तक खर्च करने पड़ेंगे।

अगर इन दोनों ही डील पर बात बन गई, तो रिलायंस के पास जस्टडायल में करीब 60 फीसदी हिस्सेदारी होगी और वीएसएस मणि इस कंपनी को जूनियर पार्टनर के तौर पर चलाएंगे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस डील के सफल होने के बाद मुकेश अंबानी इसमें कैपिटल लगाने को लेकर भी फैसला कर सकते हैं।

अमिताभ बच्चन ने भी किया जस्टडायल में निवेश: बता दें कि जस्टडायल ने दिसंबर 2010 में बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया था। 2011 में उन्हें कंपनी के 62 हजार 794 शेयर दिए गए थे, जिनकी कीमत तब 10 रुपए के करीब थी। 2015 तक आते-आते इन शेयरों की कीमत बढ़ने के साथ अमिताभ बच्चन का कंपनी में निवेश बढ़कर 7.26 करोड़ तक पहुंच गया था। यानी उन्हें करीब 10 गुना से ज्यादा फायदा पहुंचा था। हालांकि, जस्टडायल में उनके निवेश के ताजे आंकड़े क्या हैं, इस बारे में अब तक कुछ स्पष्ट नहीं है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट