ताज़ा खबर
 

एमफिल छोड़ आतंकी बनने वाला जुबैर वानी बना हिज़्बुल कमांडर, सुरक्षाबलों ने छह महीने में मार गिराए दो सरगना

सुरक्षाबलों ने पिछले हफ्ते हिज्बुल कमांडर सैफुल्लाह मीर को एनकाउंटर में मार गिराया, जबकि मई में रियाज नाइकू मुठभेड़ में मारा गया था।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र श्रीनगर | Updated: November 7, 2020 10:48 AM
Jammu and Kashmir, Terror Groupsजम्मू-कश्मीर में हिज्बुल मुजाहिद्दीन लगातार युवाओं की भर्ती में जुटा है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकी गुटों के खिलाफ ऑपरेशन तेज कर दिए हैं। पिछले छह महीने में ही सैन्यकर्मियों ने दो बड़े एनकाउंटर में आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन के दो कमांडरों को मार गिराया है। अब हिज्बुल ने देहरादून कॉलेज के एमफिल ड्रॉपआउट छात्र जुबैर वानी को कश्मीर में अपना कमांडर बनाया है।

जानकारी के मुताबिक, 31 साल का वानी 2018 में हिज्बुल में शामिल हुआ था। उसका परिवार कश्मीर के अनंतनाग जिले के देहरुना गांव का रहने वाला है। वानी अपने परिवार में इकलौता पढ़ा-लिखा व्यक्ति था और उत्तराखंड में पढ़ाई छोड़कर आतंकी संगठन में शामिल हुआ।

सुरक्षाबलों के ऑपरेशन से टूटी आतंकी संगठन की कमर: बता दें कि सुरक्षाबलों ने पिछले रविवार को हिज्बुल कमांडर सैफुल्लाह मीर को मार गिराया था। इससे पहले मई में आतंकी संगठन का सरगना रियाज नाइकू भी मारा गया था। भारतीय जवानों के इन दो बड़े ऑपरेशन के बाद हिज्बुल ने अपने सबसे पुराने आतंकी अशरफ मौलवी उर्फ अशरफ खान की जगह वानी को संगठन का सरगना बनाया है। सूत्रों का कहना है कि मौलवी इस वक्त किडनी की परेशानी से जूझ रहा है और पहले कई बार आतंक छोड़ने की ओर इशारा कर चुका है।

बताया गया है कि रियाज नाइकू के मारे जाने के बाद सुरक्षाबलों की लिस्ट में A++ श्रेणी के आतंकी मौलवी को ही हिज्बुल कमांडर बनाए जाने की चर्चाएं थीं। पर तब भी किडनी की समस्या की वजह से सैफुल्लाह मीर को यह जिम्मेदारी सौंप दी गई।

बता दें कि सुरक्षाबलों ने घाटी में लगातार आतंकरोधी ऑपरेशन जारी रखे हैं। इससे एक तरफ जहां आतंकी संगठनों में शामिल युवाओं का घर लौटना शुरू हो गया है, वहीं कई आतंकियों को एनकाउंटर में मार गिराया गया है। इसके बावजूद आतंकी दक्षिण कश्मीर के जिलों में जम्मू-कश्मीर बैंक की वैन लूट चुके हैं, जिससे बड़ी मात्रा में हथियार खरीदने की कोशिश की गई।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नरेंद्र मोदी सरकार के फैसले के ख़िलाफ़ बोले BJP नेता, कहा- पार्टी सुन ही नहीं रही हमारी बात, Congress उठा रही फायदा
2 कोरोना वैक्सीन की तैयारियों के बीच भारत की एक और दवा कंपनी पर साइबर अटैक, डॉ रेड्डीज के बाद लुपिन पर हमला
3 बिहार में खत्म हुआ मतदान, 10 नवंबर को वोटों की गिनती
ये पढ़ा क्या?
X