ताज़ा खबर
 

MP: सीएम कमलनाथ का ऐलान- सरकार श्रीलंका में बनाएगी भव्य सीता मंदिर; पूर्व सीएम शिवराज सिंह का था वादा

2012 में श्रीलंका के तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे सांची में बौद्ध यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखने आए थे। तब तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राजपक्षे से चर्चा कर श्रीलंका में मंदिर बनाने का प्रस्ताव रखा था।

भोपाल | January 27, 2020 9:35 PM
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोमवार को कहा कि प्रदेश सरकार श्रीलंका में सीता का भव्य मंदिर बनवाएगी। इसके लिए उन्होंने शीघ्र ही योजना बनाने और उसका क्रियान्वयन करने के निर्देश दिए हैं। एमपी जनसंपर्क विभाग की विज्ञप्ति के अनुसार “मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि श्रीलंका में सीता का भव्य मंदिर बनवाया जाएगा। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि इसके लिए शीघ्र ही एक समिति बनाएं, जिसमें मध्यप्रदेश एवं श्रीलंका सरकार के अधिकारियों के साथ महाबोधि सोसायटी के सदस्य भी शामिल हों।”

उन्होंने कहा कि यह समिति मंदिर निर्माण के कार्यों पर सतत् निगरानी रखेगी, जिससे समय सीमा के अंदर मंदिर का निर्माण हो सके।
कमलनाथ ने कहा कि मंदिर के डिजाइन को अंतिम रूप दिया जाए और इसके लिये इसी वित्त वर्ष में आवश्यक धनराशि भी उपलब्ध करवाई जाए। कमलनाथ सोमवार को मंत्रालय में मध्यप्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा के नेतृत्व में पहुंचे प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई बैठक में चर्चा कर रहे थे। बैठक में महाबोधि सोसायटी के अध्यक्ष बनागला उपतिसा भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने भोपाल के निकट सांची में बौद्ध संग्रहालय, अध्ययन एवं प्रशिक्षण केन्द्र बनाने के लिए भूमि आवंटित करने के साथ ही यहां पर अंतरराष्ट्रीय स्तर का संस्थान बनाने को कहा। कहा कि इसके लिए शीघ्र ही कार्य योजना बनाई जाए। जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने हाल ही में श्रीलंका यात्रा के दौरान सीता मंदिर निर्माण के संबंध में वहां की सरकार से हुई चर्चा की जानकारी दी।

शर्मा ने कहा कि अगर बेहतर वायु सेवा उपलब्ध हो तो श्रीलंका सहित बौद्ध धर्म को मानने वाले अन्य देशों में रह रहे श्रद्धालुओं को सांची आने में सुविधा होगी। गौरतलब है कि 2012 में जब शिवराज सिंह चौहान मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री थे, तब श्रीलंका के तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे मध्यप्रदेश के सांची में बौद्ध यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखने आए थे। इस दौरान चौहान ने राजपक्षे से चर्चा कर श्रीलंका में सीता मंदिर बनाने का प्रस्ताव रखा था।

Next Stories
1 पुलिस पदकों से ‘शेर-ए-कश्मीर’ शब्द हटाने पर भड़की नेशनल कांफ्रेंस, कहा- इतिहास बदलने की साजिश
2 एमएस बिट्टा बोले, ‘अगर अपाहिज न होता, तो PAK में ननकाना साहिब जा दोषियों का सिर काट देता’; CAA पर कही ये बात
3 ABP News-C Voter Survey: दिल्ली में 60-62 सीट पर रह सकता है AAP का कब्जा, BJP को 7-10 सीटों का अनुमान; Congress खाता भी नहीं खोल पाएगी
यह पढ़ा क्या?
X