ताज़ा खबर
 

MP: लॉकडाउन की मजदूरों पर मार! फंसने के बाद उठाईं साइकिलें, सवार हो निकले घर को बंगाल

इसी बीच, सूबे के इंदौर में इस महामारी से दो और मरीजों की मौत की पुष्टि हुई। नतीजतन जिले में महामारी की जद में आने के बाद दम तोड़ने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 57 पर पहुंच गयी।

Coronavirus, COVID-19, Labour, MP, Satna, Rewa, Durgapur, West Bengal, Cycle, State News, Hindi Newsये मजदूर म.प्र के सतना से बंगाल के दुर्गापुर के लिए 24 अप्रैल को निकले हैं।

कोरोना वायरस संकट और लॉकडाउन के बाद प्रवासी मजदूरों, कामगारों और श्रमिकों पर सबसे अधिक मार पड़ी है। न तो उनके पास काम है, न ही खाने-पीने और महानगरों में रहने का उचित बंदोबस्त। ऐसे में इनमें से अधिकतर इन बेबस दिहाड़ी मजदूरों के पास घर लौटने के अलावा और कोई चारा नहीं है।

शनिवार को कुछ ऐसे ही प्रवासी कामगारों का समूह मध्य प्रदेश में अपने घरों को रवाना होने के लिए साइकिलों से ही निकल पड़ा। इस ग्रुप में 17 मजदूर थे, जो रीवा से साइकिल से निकले थे। ये सभी पश्चिम बंगाल में दुर्गापुर जिले के रहने वाले हैं। लॉकडाउन के बाद काम-धंधा बंद होने के बाद ये सब फंस गए थे।

इन्हीं मजदूरों में से एक से जब समाचार एजेंसी एएनआई ने बात की तो उसने बताया- हमने शुक्रवार सुबह सतना के मैहर से अपनी यात्रा का आगाज किया था। हमें उम्मीद है कि छह से सात दिनों के भीतर अपने-अपने घर पहुंच जाएंगे।

Coronavirus in India Live Updates

इसी बीच, सूबे के इंदौर में इस महामारी से दो और मरीजों की मौत की पुष्टि हुई। नतीजतन जिले में महामारी की जद में आने के बाद दम तोड़ने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 57 पर पहुंच गयी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) प्रवीण जड़िया ने शनिवार को बताया कि शहर में पिछले तीन दिन में कोरोना वायरस संक्रमण से 75 वर्षीय पुरुष और 55 वर्षीय पुरुष की मौत हुई।

UP Coronavirus LIVE Updates

उन्होंने बताया कि दोनों मरीज शहर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती थे। इनमें से एक व्यक्ति को दमे की पुरानी समस्या थी। सीएमएचओ ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान जिले में कोविड-19 के 56 नये मरीज मिलने के बाद इनकी तादाद 1,029 से बढ़कर 1,085 पर पहुंच गयी है। इनमें से 107 मरीजों को इलाज के बाद स्वस्थ होने पर अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है।

Haryana Coronavirus LIVE Updates in Hindi

आंकड़ों की गणना के मुताबिक जिले में कोविड-19 के मरीजों की मरीजों की मृत्यु दर शनिवार सुबह तक की स्थिति में 5.25 प्रतिशत थी। जिले में इस महामारी के मरीजों की मृत्यु दर पिछले कई दिन से राष्ट्रीय औसत से ज्यादा बनी हुई है। बता दें कि देश में कोरोना वायरस के प्रकोप से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में इंदौर भी है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 MP: इंदौर में उड़ीं सरकार की सलाह की धज्जियां, चौक-चौराहों पर भारी भीड़ जुटा ‘जनता कर्फ्यू’ को बना दिया इवेंट
आज का राशिफल
X