ताज़ा खबर
 

MP By Elections: 28 सीटों पर 3 नवंबर को मतदान, बिहार के साथ ही 10 नवंबर को परिणाम- EC का ऐलान

चुनाव आयोग ने इसके साथ फैसला लिया है कि इस स्तर पर असम, केरल, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में उप चुनाव नहीं होंगे।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

MP By Elections: मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर तीन नवंबर, 2020 को उप चुनाव के लिए वोटिंग होगी, जबकि मतों की गणना 10 नवंबर को आएगी। यह ऐलान मंगलवार को चुनाव आयोग (EC) की ओर से किया गया है। आयोग ने म.प्र के अलावा कुछ और राज्यों में उप चुनाव से संबंधित घोषणाएं कीं।

ईसी के मुताबिक, बिहार के एक संसदीय क्षेत्र और मणिपुर की दो विधानसभा सीटों पर उप-चुनाव 7 नवंबर को होंगे। छत्तीसगढ़, गुजरात, झारखंड, कर्नाटक, एमपी, नागालैंड, ओडिशा, तेलंगाना, यूपी के 54 विधानसभा क्षेत्रों के उप-चुनाव तीन नवंबर को होंगे, जबकि मतगणना 10 नवंबर को की जाएगी।

चुनाव आयोग ने इसके साथ फैसला लिया है कि इस स्तर पर असम, केरल, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में उप चुनाव नहीं होंगे। आयोग को इन राज्यों के मुख्य सचिवों/मुख्य निर्वाचन अधिकारियों से चुनाव और इससे संबंधित मुद्दों के संचालन में कठिनाइयों को व्यक्त करने वाले इनपुट मिले थे।

आयोग के अनुसार, कर्नाक विधान परिषद में कुल चार सीटों पर (2 Graduates’ and 02 Teachers’) पर उप चुनाव 28 अक्टूबर को होगा, जबकि वोटों की गिनती दो नवंबर को की जाएगी।

बिहार चुनावों में इस बार भी बंगाल के चंद्रकांता खादी की धूम: बिहार का भागलपुर जिला अपने रेशम और खादी के कपड़ों की गुणवत्ता के लिए जाना जाता है, लेकिन यहां के लोगों का पश्चिम बंगाल के चंद्रकांता खादी के प्रति झुकाव देखते हुए व्यापारियों ने आगामी बिहार चुनावों के लिए सामान मंगाना शुरू कर दिया है। बिहार में 2015 में हुये विधानसभा चुनावों के दौरान चंद्रकांता खादी की जबरदस्त बिक्री हुयी थी, इससे व्यापारी इस बार भी आशा लगो हुए हैं।

बिहार में राजनेता और उनके समर्थक बंगाल के हल्की चंद्रकांता खादी से बने धोती, कुर्ता, पायजामा, टोपी, बंडी और गमछा पहनना पसंद करते हैं। भागलपुर, कहलगांव, मुंगेर, खगड़िया, पूर्णिया, बेगूसराय और बांका के लोगों ने चंद्रकांता खादी के कपड़े मंगाना शुरु कर दिया है। लोग बंगाली कपड़े के लिए भागलपुर खादी ग्राम उद्योग को अपना ऑर्डर दे रहे हैं। व्यापारियों ने विभिन्न रंगों के चंद्रकांता खादी से बने बंडी का भंडारण करना शुरू कर दिया है, जो आमतौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहनते हैं।

भागलपुर खादी ग्राम उद्योग के महासचिव वरुण कुमार सिंह ने पीटीआई-भाषा को बंगाल के चंद्रकांता कपड़ों से बने परिधानों की बढ़ती मांग के बारे में बताया। उन्होंने कहा, ‘हमने चंद्रकांता का स्टॉक अलग-अलग जिलों में भेजना शुरू कर दिया है।’ उन्होंने कहा कि भागलपुर के रेशम और खादी वस्त्रों की तुलना में, पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के बेरहामपुर में निर्मित हल्की और नरम चंद्रकांता खादी ग्राहकों को अधिक पसंद आती है। (भाषा इनपुट्स के साथ)

Next Stories
1 LAC विवाद: बोले IAF चीफ- पूर्वी लद्दाख में सुरक्षा परिदृश्य असहज, ‘न युद्ध न शांति’ के हैं हालात
2 कृष बिलः जिन्हें पूजते हैं किसान, उन्हें आग लगा ये कर रहे अपमान- ट्रैक्टर फूंकने को लेकर PM का विपक्ष पर वार
3 बिहार चुनाव: DM की मॉब लिंचिंग में जेल काट रहे नेता की पत्नी, बेटे को तेजस्वी ने RJD में लिया
यह पढ़ा क्या?
X