ताज़ा खबर
 

कोरोना फैसिलिटी सेंटर बनी मस्जिद, मुफ्त में ऑक्सीजन बेड भी दिए

जमात ए इस्लामी हिंद के सदस्यों का कहना है कि अधिकतर अस्पतालों में बेड भरे हुए हैं और लोगों को इलाज नहीं मिल पा रहा है। यही वजह है कि हमने मस्जिद में कोविड केयर सेंटर बनाने का फैसला किया है।

लोगों का कहना है कि कोरोना के चलते स्वास्थ्य सेवाओं पर पड़ रहे दबाव को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मानवता की सेवा की खातिर महाराष्ट्र के भिवंडी में स्थित एक मस्जिद को कोविड सेंटर में तब्दील कर दिया गया है। इसके साथ ही मस्जिद के कोविड सेंटर में मरीजों को मुफ्त ऑक्सीजन बेड भी मुहैया कराए जा रहे हैं। दरअसल ऐसे समय में जब महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं, ऐसे में मस्जिद की यह पहल काफी सराहनीय है। बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना का मोर्टैलिटी रेट सबसे ज्यादा भिवंडी-निजामपुरा इलाके में ही है। यहां संक्रमण फैलने की दर 5.3 फीसदी है।

भिवंडी में अब तक कुल 1496 कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं और यहां 91 लोगों को मौत हो चुकी है। राज्य की स्वास्थ्य सेवाओं पर बढ़ते दबाव के चलते जमात ए इस्लामी हिंद (JIH) और शांति नगर ट्रस्ट ने मिलकर इलाके की मक्का मस्जिद को कोविड केयर सेंटर में तब्दील करने का फैसला किया है।

टीओआई की खबर के अनुसार, जमात ए इस्लामी हिंद के सदस्यों का कहना है कि अधिकतर अस्पतालों में बेड भरे हुए हैं और लोगों को इलाज नहीं मिल पा रहा है। यही वजह है कि हमने मस्जिद में कोविड केयर सेंटर बनाने का फैसला किया है। मस्जिद को कोविड केयर सेंटर बनाने का फैसला करने वाले लोगों का कहना है कि बीते आठ दिनों में करीब 108 मरीजों को पांच ऑक्सीजन बेड से काफी राहत मिली है और यह सेवा पूरी तरह से मुफ्त रखी गई है।

बता दें कि लॉकडाउन के दौरान धार्मिक स्थलों को बंद करने का फैसला किया गया था। हालांकि बीती 8 जून से देशभर में सभी धार्मिक स्थल खोल दिए गए हैं। इसके बावजूद भिवंडी की मक्का मस्जिद प्रशासन ने हॉल में कोविड केयर सेंटर बनाने का फैसला किया है। उल्लेखनीय है कि यह पहली बार नहीं है कि किसी मस्जिद के हॉल को कोविड केयर सेंटर में तब्दील किया गया है। इससे पहले पुणे में भी महाराष्ट्र कोस्मोपोलिटिन एंड एजुकेशन सोसाइटी ने अपने कैंपस में स्थित मस्जिद को कोरोना केयर सेंटर बनाने का फैसला लिया था।

Next Stories
1 Coronavirus Vaccine HIGHLIGHTS: वैक्सीन पर किस रफ्तार से काम कर रही दुनिया? जानिए कौन कोरोना की दवा के कितने करीब
2 NCP ने गलवान पर दिखाया कांग्रेस को आईना, पवार बोले- चीन ने 1962 बाद भारत के 45,000 वर्ग Km क्षेत्र कब्जाया
3 अप्रैल के बाद चीनी सेना ने हमारे करीब 40 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र पर कर रखा है कब्‍जा- पूर्व ले. जनरल का दावा
ये पढ़ा क्या?
X