ताज़ा खबर
 

MP के अस्पताल में 800 से ज्यादा रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी, कुमार विश्वास बोले- ये सब हाल तो गुजर जाएंगे पर कुछ लोग निगाहों से उतर जाएंगे..!

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक सरकारी अस्पताल से इंजेक्शन चोरी होने की घटना की जांच जारी है, पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि इसमें हॉस्पिटल के कर्मचारियों की मिलीभगत हो सकती है।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र भोपाल | Updated: April 18, 2021 8:24 AM
Remdesivir, Kumar Vishwasभोपाल के एक अस्पताल से रेमडेसिविर इंजेक्शन की चोरी की घटना पर कुमार विश्वास ने जताया दुख।

मध्य प्रदेश के भोपाल में स्थित सरकारी हमीदिया अस्पताल से रेमडेसिविर के इंजेक्शन चोरी होने का मामला सामने आया है। बताया गया है कि गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों के लिए कारगर माने जा रहे रेमडेसिविर के 860 इंजेक्शन चोरी हुए हैं। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। घटना पर देश के लोकप्रिय कवि कुमार विश्वास ने भी टिप्पणी की है। उन्होंने कहा, “ये जो हालात हैं ये सब तो गुजर जाएंगे मगर कुछ लोग निगाहों से उतर जाएंगे..!”

कोरोना के हालात को लेकर कुमार विश्वास की इस तरह की टिप्पणी पहली बार नहीं है। हाल ही में जब मध्य प्रदेश सरकार में पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कोरोना से हो रही मौतों पर कहा था कि उम्र हो जाती है तो मरना भी पड़ता है। मौतों को कोई रोक नहीं सकता। तब इस पर कुमार विश्वास ने लिखा था, “प्राथमिकता क्या किसी की, क्या भला छोटा बड़ा है ? व्यवस्था के वास्ते हर आदमी बस आंकड़ा है।”

इंजेक्शन चोरी होने के मामले में केस दर्ज, जांच जारी: रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी होने की घटना पर भोपाल के पुलिस उप महानिरीक्षक इरशाद वली ने बताया, ‘‘860 (रेमडेसिविर) इंजेक्शन चोरी हो गए हैं। हम जांच कर रहे हैं।’’ जब उनसे सवाल किया गया कि क्या इसका अब तक कोई सुराग मिला है, तो इस पर उन्होंने कहा कि जांच जारी है।

वहीं, एक अन्य आला पुलिस अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि आशंका है कि अस्पताल प्रबंधन या स्टाफ से कोई व्यक्ति ऐसा हो सकता है जो इन चोरों के साथ मिला हो, क्योंकि इस समय बाजार में रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग अधिक है।

चिकित्सा मंत्री बोले- ये गंभीर मामला: इससे कुछ ही घंटे पहले अस्पताल में पहुंचे मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया, ‘‘जानकारी मिली है कि (रेमडेसिविर) इंजेक्शन चोरी हो गए हैं। यह बहुत गंभीर मामला है। संभागीय आयुक्त कवीन्द्र कियावत एवं भोपाल के पुलिस उप महानिरीक्षक इरशाद वली मौके पर पहुंच गये हैं और जांच शुरू कर दी गई है।’’

उन्होंने कहा कि मामले की तह तक पहुंचने के लिए जांच जारी है। रेमडेसिविर इंजेक्शन चोरी का मामला उस वक्त आया है, जब कोविड-19 महामारी के दौरान प्रदेश में इस इंजेक्शन की भारी कमी है। कोहेफिजा पुलिस ने बताया कि इस मामले में भादंवि की धारा 457 एवं 380 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

Next Stories
1 दिल्ली में 24 घंटे में 24 हजार मामले, 167 मरीजों की मौत, राजधानी में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 69799 हुई
2 कोरोना हुआ भयावह: शनिवार को 2.60 लाख नए मामले, 1,470 लोगों की हुई मौत
3 केंद्र की बदइंतजामी आई सामने: कांग्रेस; पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सुझावों को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी को भेजेंगे पत्र
यह पढ़ा क्या?
X