ताज़ा खबर
 

दिल में अब भी रहते हैं मोदी? ऐंकर ने पूछा तो प्रशांत किशोर बोले- हनुमान नहीं हूं कि सीना फाड़कर दिखा दूं

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा कि बीजेपी बंगाल में एक बड़ी सियासी ताकत है इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है।

punjab, congressचुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर। (Indian Express)।

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा कि बीजेपी बंगाल में एक बड़ी सियासी ताकत है इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है। किशोर ने कहा, ‘मैं अपने प्रतिद्वंदी को कम कर के नहीं आंकता हूं।’ जब प्रशांत किशोर से पूछा गया कि कई लोगों का कहना है कि प्रशांत किशोर के दिल में अभी भी मोदी हैं? इसका जवाब देते हुए किशोर ने कहा कि मैं हनुमान तो हूं नहीं कि सीना फाड़कर दिखा दूं कि किस के दिल में कौन है?

प्रशांत किशोर ने कहा कि भाजपा बंगाल में एक बड़ी राजनीतिक ताकत है और इसे कम करके आंका नहीं जा सकता है। मालूम हो कि चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने सोशल मीडिया ऐप क्लबहाउस पर एक बातचीत में बंगाल चुनावों में भाजपा के लिए बेहतर परिणामों की भविष्यवाणी की थी। हालांकि, उन्होंने जोर देकर कहा कि ममता बनर्जी राज्य में सबसे शक्तिशाली नेता हैं और उन्हें एक बड़े अंतर से जीत हासिल होगी। किशोर ने कहा, “कोई गलती न करें। बंगाल में भाजपा एक बड़ी राजनीतिक ताकत है और इसके बारे में कोई दो राय नहीं हैं। लेकिन हर चीज के बाद, भाजपा 100 पार नहीं करेगी और तृणमूल जीतने जा रही है … और वे बड़ी जीत हासिल कर रहे हैं। ”

बीजेपी ने बातचीत की क्लिप साझा करते हुए कहा कि रणनीतिकार ने अनजाने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बंगाल में एक लोकप्रिय नेता के रूप में बताया था। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बताया कि सीएम ममता बनर्जी महिलाओं में जितनी लोकप्रिय हैं उतना किसी नेता को मैंने लोकप्रिय नहीं देखा है।

प्रशांत किशोर ने जवाब देते हुए कहा कि यह तो पहली बार हुआ कि कोई बात सार्वजनिक तौर पर है और लोग कह रहे हैं कि लीक हो गई। क्लब हाउस में सार्वजनिक बातचीत हुई है। किसी सज्जन ने बातचीत के दौरान इसको सोशल किया। अब अगर ये बात लोगों ने सुन ली तो क्या गलत है?

शनिवार को, भाजपा के कई नेताओं ने प्रशांत किशोर की बातचीत को साझा करते हुए कहा कि उन्होंने चुनाव में जीत हासिल कर ली है। किशोर को क्लिप में यह कहते हुए सुना गया कि पूरे देश में एक मोदी है।

कुछ रिपोर्टों ने दावा किया कि किशोर अभी भी पीएम मोदी के करीबी समर्थक हैं। इसका जवाब देते हुए किशोर ने कहा , “किसी व्यक्ति को उसके कार्यों से नहीं, उसके शब्दों से जज करें। 2015 के बाद से, जब IPAC का गठन किया गया था, तो हमने केवल भाजपा के खिलाफ पार्टियों के लिए विभिन्न राज्यों में काम किया है।”

Next Stories
1 RIL बोर्ड में मनोज मोदी का है अहम स्थान, मुकेश अंबानी के कॉलेज दोस्त ने ऐसे जीता था भरोसा
2 कम हो रही हिंदुओं की आबादी, भाजपा सांसद ने जताई चिंता- पढ़े लिखे लोग चले जाते हैं विदेश
3 लाइव डिबेट में टीएमसी प्रवक्ता से बोले गौरव भाटिया- लोग जूते मारेंगे, जवाब मिला- ओछे आदमी हो
ये पढ़ा क्या?
X