ताज़ा खबर
 

उर्दू को प्रमोट करने के लिए शाहरुख, सलमान, कैटरीना जैसे सितारों का सहारा लेगी मोदी सरकार

केंद्र सरकार बॉलीवुड सितारों के जरिये उर्दू लैंग्वेज को प्रोमोट करेगी। इसके लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तहत नेशनल काउंसिल फॉर प्रोमोशन ऑफ उर्दू लैंग्वेज सितारों को अपने साथ जोड़ेगा। काउंसिल की तरफ से इसके लिए विभिन्न कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे।

Author Published on: March 17, 2019 3:36 PM
काउंसिल अभिनेताओ के विडियो का अपने कार्यक्रम में करेगी प्रयोग। (फाइल फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

मोदी सरकार उर्दू लैंग्वेज को प्रोमोट करने के लिए एक योजना बना रही है। योजना के तहत उर्दू भाषा को बढ़ावा देने के लिए शाह रूख खान, सलमान खान, कैटरीना कैफ जैसे बॉलीवुड सितारों की मदद ली जाएगी। केंद्र की तरफ से यह कदम उर्दू को प्रोमोट करने में प्राइवेट प्लेयर्स से पिछड़ने के कारण लिया जा रहा है।
मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधीन स्वायत्त निकाय नेशनल काउंसिल फॉर प्रोमोशन ऑफ उर्दू लैंग्वेज (NCPUL) इस काम के लिए शाह रुख खान, सलमान खान और कैटरीन कैफ की मदद लेने पर विचार कर रही है। काउंसिल उर्दू लैंग्वेज को प्रोमोट करने के लिए पहले से अधिक सक्रिय रूप से भूमिका अदा करना चाहती है। बता दें कि काउंसिल को उर्दू लैंग्जेव को बढ़ावा देने के लिए कार्यक्रम आयोजित कराने और युवा लोगों की भारी भीड़ जुटाने में निजी क्षेत्र के खिलाड़ियों से कड़ी चुनौती मिल रही है।
काउंसिल के निदेशक अकील अहमद ने कहा, ‘हम उर्दू लैंग्वेज का बढ़ावा देने के लिए शाह रुख खान, सलमान खान जैसे बड़े नामों से संपर्क कर रहे हैं। इन लोगों से उर्दू में कुछ लाइनें बुलवाकर उसकी रिकॉर्डिंग विडियो को अपने कार्यक्रमों में प्रयोग किया जाएगा।’ अहमद ने कहा कि उर्दू आर्ट और सिनेमा के जरिये लोकप्रिय हो रही है और काउंसिल चाहती है कि इस माध्यम का प्रयोग आगे भी लैंग्वेज को पॉप्यूलर बनाने के लिए किया जाए।

उन्होंने कहा कि फिल्मी दुनिया से अभी तक सिर्फ गीतकार जावेद अख्तर और अभिनेत्री शबाना आजमी ही उर्दू के समर्थन में आगे आए हैं। हम चाहते हैं कि और अधिक लोग हमारे साथ जुड़ें। अहमद ने कहा कि सरकारी संस्था फिल्म और टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से आग्रह करेगी कि वह उर्दू से अभिनेताओं को जोड़ने में मदद करे। उन्होंने स्वीकार किया कि रेख्ता फाउंडेशन जैसे प्राइवेट प्लेयर्स से काफी कड़ा कंपीटिशन मिल रहा है।

दिल्ली का रेख्ता फाउंडेशन नियमित रूप से उर्दू के कार्यक्रम आयोजित कराता रहता है। इसमें बॉलीवुड सेलिब्रिटी जैसे जावेद अख्तर, गीतकार गुलजार और फिल्ममेकर इम्तियाज अली जैसे लोग शामिल होते हैं। रेख्ता सोशल मीडिया पर भी काफी पॉप्यूलर है। इसके ट्वीटर हैंडल पर भी 3.78 लाख फॉलोअर्स हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 देश के पहले लोकपाल होंगे सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस पीसी घोष, सोमवार को आधिकारिक ऐलान
2 पूर्व CEA कौशिक बासु ने बिना नाम लिए मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- भारत को असफल देश बनाना चाहते हैं
3 Kerala Pournami Lottery RN-383 Today Results Updates: यहां जानिए किनकी बदली है किस्मत