ताज़ा खबर
 

आम लोगों के लिए मोदी सरकार ने कुछ नहीं किया: राहुल

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अपने चुनावी वादों से पलटी मारने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि मोदी सरकार ने आम लोगों के लिए कुछ नहीं किया और जिन राज्यों में चुनाव होने होते हैं वहां भाजपा समुदायों के बीच वैमनस्य पैदा करती है । केरल […]

Author December 10, 2014 12:29 PM

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अपने चुनावी वादों से पलटी मारने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि मोदी सरकार ने आम लोगों के लिए कुछ नहीं किया और जिन राज्यों में चुनाव होने होते हैं वहां भाजपा समुदायों के बीच वैमनस्य पैदा करती है ।

केरल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष वीएम सुधीरन की जनपक्ष यात्रा के समापन पर आयोजित एक पार्टी रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि लोग जल्द ही राजग सरकार द्वारा दिखाए जा रहे ‘‘झूठे सपनों’’ से थक जाएंगे और फिर कांग्रेस का रुख करेंगे।

विदेशों में रखे गए काले धन को वापस लाने के वादों पर सरकार की ‘‘नाकामियों’’ का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, ‘‘सरकार से मेरा सीधा सा सवाल है कि देश की जनता ने आपको जनादेश दिया और आप उस पर क्या कर रहे हैं।’’

राहुल ने आरोप लगाया, ‘‘राजग का मानना है कि लोगों को सरकार ताकत नहीं दिलाती। वह एक समुदाय को दूसरे समुदाय से लड़ाती है। वे कुछ लोगों और कारोबारी घरानों के लिए देश चला रहे हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं एक चीज पर गौर कर रहा हूं। चुनावों से पहले समुदायों के बीच हिंसा होती है। उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड में दंगे हुए।’’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए ‘स्वच्छ भारत अभियान’ को आड़े हाथ लेते हुए राहुल ने कहा कि शब्दों को छोड़ कर इस कार्यक्रम के लिए कोई पर्याप्त बजट नहीं दिया गया है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने मोदी पर हमला करते हुए कहा कि एक शख्स ‘‘अकेले ही’’ सरकार चला रहा है जो लोगों को सशक्त बनाने की कांग्रेस की सोच के खिलाफ है।
राहुल ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री (नरेन्द्र मोदी), भाजपा और आरएसएस की सोच है कि एक आदमी अकेले देश में बदलाव ला सकता है। दिल्ली में बैठा यह अकेला शख्स सब कुछ बदल सकता है। वे लोगों को अधिकार संपन्न बनाने में विश्वास नहीं करते।’’

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने माकपा की अगुवाई वाले एलडीएफ पर निशाना नहीं साधा जो केरल में मुख्य विपक्षी पार्टी है।

 

Next Stories
1 आरएसएस का दावा, आगरा में 100 लोगों का धर्मांतरण कराया
2 आगरा धर्म परिवर्तन मामला: लालच और डराकर बदलवाया गया धर्म!
3 विधानसभा चुनाव: तीसरे चरण में घाटी में 58 और झारखंड में 61 फीसद पड़े वोट
ये पढ़ा क्या?
X