ताज़ा खबर
 

4.42 लाख करोड़ रुपये उधार लेगी मोदी सरकार, इस वजह से लेना पड़ा यह फैसला

सरकार को वित्तीय वर्ष की पहली छमाही में ही करीब 1.02 लाख करोड़ रुपए और दूसरी छमाही में करीब 1.35 लाख करोड़ रुपए की कर्ज अदायगी करनी है।

narendra modiमोदी सरकार अगले वित्तीय वर्ष में 7 लाख करोड़ से ज्यादा का कर्ज लेगी। (express photo)

केन्द्र की मोदी सरकार ने शुक्रवार को ऐलान किया कि आगामी वित्तीय वर्ष 2019-20 में सरकार पहली छमाही में ही 4.42 लाख करोड़ रुपए का कर्ज लेने जा रही है। सरकार बॉन्ड की नीलामी कर यह कर्ज लेगी। वहीं सरकार दूसरी छमाही में 2.68 लाख करोड़ रुपए का कर्ज लेगी। पहली छमाही का 4.42 लाख करोड़ रुपए का कर्ज अगले साल लिए जाने वाले कुल कर्ज का 62 प्रतिशत से ज्यादा होगा। वित्तीय मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने शुक्रवार को बताया कि अंतरिम वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए 7.1 लाख करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा था। वहीं मौजूदा वित्तीय वर्ष में सरकार ने 5.71 लाख करोड़ रुपए का कर्ज लिया है। केन्द्र सरकार अप्रैल-सितंबर के बीच हर हफ्ते 17,000 करोड़ के बॉन्ड की नीलामी कर यह रकम जुटाएगी।

पहली छमाही में ही इतना कर्ज लेने का क्या हो सकता है कारणः सरकार पिछले कर्जों की अदायगी के लिए कर्ज ले रही है। खबर के अनुसार, सरकार को वित्तीय वर्ष की पहली छमाही में ही करीब 1.02 लाख करोड़ रुपए और दूसरी छमाही में करीब 1.35 लाख करोड़ रुपए की कर्ज अदायगी करनी है। आर्थिक जानकारों का मानना है कि वित्तीय वर्ष की पहली छमाही में कॉरपोरेट कर्ज लेने वालों की कमी होती है, ऐसे में पहली छमाही में ही ज्यादा कर्ज लेने से सरकार को फायदा मिलने की उम्मीद है। इसके साथ ही सरकार नई सात वर्षीय बेंचमार्क गवर्नमेंट सिक्योरिटी को भी पेश करने पर विचार कर रही है।

सुभाष चंद्र गर्ग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि सरकार आगामी वित्तीय वर्ष में राजकोषीय घाटे को कुल जीडीपी के 3.4 प्रतिशत तक रखने का लक्ष्य रखा गया है। इससे पहले सरकारी आंकड़ों के अनुसार, राजकोषीय घाटा मौजूदा वित्तीय वर्ष की तीसरी तिमाही में 2.5 प्रतिशत रहा है, जबकि एक साल पहले ही यह 2.1 प्रतिशत था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019 Updates: वैज्ञानिकों के काम का श्रेय ले रहे हैं मोदी: गहलोत
2 चुनाव आयोग ने पीएम मोदी को दी क्लीन चिट- ‘मिशन शक्ति’ पर दिया भाषण आचार संहिता का उल्लंघन नहीं 
3 एयर स्ट्राइक के महीनेभर बाद पाक आर्मी पत्रकारों को ले गई बालाकोट, मदरसे में थे 300 बच्चे
ये पढ़ा क्या?
X