ताज़ा खबर
 

अगले 48 घंटों में हो सकता है मोदी कैबिनेट का विस्तार, 17-22 सांसद बन सकते हैं मंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले 48 घंटों में कैबिनेट का विस्तार कर सकते हैं। दरअसल इस समय मोदी मंत्रिमंडल में बहुत से मंत्रियों के पद रिक्त हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले 48 घंटों में कैबिनेट का विस्तार कर सकते हैं। दरअसल इस समय मोदी मंत्रिमंडल में बहुत से मंत्रियों के पद रिक्त हैं। ऐसे में मोदी सरकार मंत्रियों के कोटे को जल्द से जल्द पूरा करना चाह रही है। सूत्रों ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आने वाले दिनों में कुछ और मंत्रियों को शामिल करके केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार करने की उम्मीद है।

सूत्रों ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल, जो कि पीएम मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला विस्तार होगा, पांच राज्यों, जहां कि चुनाव होने हैं, के मंत्रियों को शामिल करने और 2024 के आम चुनाव को ध्यान में रखते हुए देखने की संभावना है। जिन नामों की सबसे ज्यादा चर्चा है उनमें मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बनाने में अहम रोल निभाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया। उनके अलावा जबलपुर से भाजपा सांसद राकेश सिंह का भी नाम है।

हाल ही में अपने भतीजे के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले लोजपा से सांसद पशुपति कुमार पारस और JDU के आरसीपी सिंह को भी मंत्री बनाया जा सकता है। अपना दल की अनुप्रिया पटेल, बीजेपी के वरुण गांधी, रामशंकर कठेरिया, अनिल जैन, रीता बहुगुणा जोशी, जफर इस्लाम को भी मंत्री बनाए जाने की उम्मीद है।

माना जा रहा है कि हाल ही में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले तीरथ सिंह रावत को मोदी मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है। इसके अलावा असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम नारायण राणे को भी मौका दिया जा सकता है।

जिन लोगों के नाम की चर्चा गर्म है उन लोगों में बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी, भाजपा सांसद जामयांग नामग्याल, उत्तराखंड से अजय भट्ट या अनिल बलूनी, कर्नाटक से प्रताप सिन्हा, पश्चिम बंगाल से जगन्नाथ सरकार, शांतनु ठाकुर या निसिथ प्रामाणिक, हरियाणा से बृजेंद्र सिंह, राजस्थान से राहुल कासवान, ओडिशा से अश्विनी वैष्णव, दिल्ली से परवेश वर्मा या मीनाक्षी लेखी का नाम शामिल है।

इसके अलावा भाजपा सांसद हिना गावित, भूपेंद्र यादव, पूनम महाजन और प्रीतम मुंडे के नाम को लेकर भी चर्चा गर्म है।ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि मोदी मंत्रिमंडल से थावरचंद गहलोत या फिर फग्गन सिंह कुलस्ते को हटाया जा सकता है। चर्चा है कि थावरचंद गहलोत को हटाए जाने की उम्मीद ज्यादा है।

कुल कितने मंत्री पद हैं खाली: मोदी कैबिनेट में अभी 28 मंत्री पद खाली हैं। इस बाबत पीएम मोदी ने 2 दिन तक गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा संगठन महामंत्री बीएल संतोष के साथ मीटिंग की थी।

Next Stories
1 एक्टिविस्ट फादर स्टेन स्वामी का निधन, एल्गार परिषद केस में थे आरोपी
2 बिहारः तेजस्वी के मंच पर आते ही हाथ जोड़ सम्मान में खड़े हो गए सारे नेता, पर सोफे से न उठे जगदानंद
3 आटा बनाने वाली ‘Shakti Bhog’ के CMD अरेस्ट, बैंक धोखाधड़ी केस में ED का ऐक्शन
ये पढ़ा क्या?
X