ताज़ा खबर
 

मिथुन का बड़ा यू-टर्न! कभी थे नक्सली, फिर TMC कोटे से भेजे गए थे RS, अब थामा BJP का दामन; ऐसा रहा है सियासी सफर

कभी नक्सली आंदोलन से जुड़ने वाले मिथुन दा ममता बनर्जी की पार्टी TMC के सांसद भी रह चुके हैं। सारदा घोटाला सामने आने के बाद उन्होंने राजनीति को लगभग अलविदा कह दिया था।

mithun chakravartyसंघ प्रमुख मोहन भागवत के साथ अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती (फोटोः ट्विटर@108Bose)

BJP का दामन थामकर डांसिंग स्टार मिथुन चक्रवर्ती ने राजनीति में अपनी नई पारी का आगाज कर दिया है। मिथुन का राजनीति से लगाव नया नहीं है। कभी नक्सली आंदोलन से जुड़ने वाले मिथुन दा ममता बनर्जी की पार्टी TMC के सांसद भी रह चुके हैं। सारदा घोटाला सामने आने के बाद उन्होंने राजनीति को लगभग अलविदा कह दिया था। पिछले कुछ दिनों से उनके बीजेपी में आने की अटकलें लग रही थीं। मिथुन ने अपने ही अंदाज में उन पर यह कहकर विराम लगा दिया, कोई शक।

एक्टर बनने से पहले मिथुन पहले नक्सली थे। लेकिन एक हादसे में भाई की मौत की वजह से उन्हें अपने परिवार के बीच लौटना पड़ा। इसके बाद उनके ऊपर परिवार को संभालने की जिम्मेदारी आ गई। डांस का उन्हें बहुत शौक था। उन्होंने स्टेज शोज से शुरुआत की और फिर एक्टिंग स्कूल में दाखिला लिया। फिल्म ‘मृगया’ से उन्होंने फिल्मी करियर की शुरुआत की। इस फिल्म के लिए उन्हें नेशनल अवार्ड भी मिला। अपनी पहली फिल्म को इतनी बड़ी कामयाबी दिलाने के बाद उनको लगा कि वो सुपरहिट अभिनेता बन गए हैं। लेकिन ये बात सिर्फ उनकी एक गलतफहमी थी।

मृगया के बाद उनके पास फिल्मों का अकाल पड़ गया। अगले दो-तीन साल तक उन्हें सिर्फ गिनी-चुनी फिल्में ही मिलीं। वो भी फ्लॉप हो गई थीं। इसके बाद उन्होंने अभिनेता बनने का सपना छोड़ दिया। वह डांस में करियर बनाने की सोचने लगे। उन दिनों हेलन का काफी क्रेज था। वो तकरीबन सभी फिल्म में अपना आइटम सॉग्स करती थीं। मिथुन ने भी हेलन को ज्वाइन को कर लिया और वो उनके असिस्टेंट का काम करने लगे। उन्होंने अपना नाम भी बदल लिया। कुछ दिनों बाद उन्हें अमिताभ बच्चन की फिल्म में एक रोल मिला। इसके साथ उनकी गाड़ी चल निकली।

मिथुन एक समय बॉलीवुड के उन अभिनेताओं में से एक थे, जिनके साथ हर बड़ा निर्देशक काम करना चाहता था। वो अपने डांस को लेकर हमेशा चर्चा में रहते थे। उन्हें सुपरस्टार माना जाने लगा। लेकिन कभी उन्होंने वो दिन भी देखे थे, जब उन्हें इस बात की चिंता रहती थी कि क्या वो खाना भी खा पाएंगे या नहीं। फिलहाल मिथुन क्षेत्रीय भाषाओं के साथ कुछ हिंदी फिल्मों में भी काम कर रहे थे। उन्होंने हाउसफुल सीरीज में भी काम किया है। इस फिल्म में वे जग्गू दादा के किरदार के दिखाई दिए थे। परिवार की बात की जाए तो मिथुन ने योगिता बाली से शादी की थी। योगिता इससे पहले गायक किशोर कुमार की पत्नी थीं। योगिता से उनका एक बेटा मिमोह भी है। मिमोह भी फिल्मों में सक्रिय है।

ममता के साथ मिथुन का जुड़ाव 2011 के बाद तब हुआ जब टीएमसी ने बंगाल में सरकार बनाई। ममता ने मिथुन को 2014 में राज्यसभा भेजा। सब कुछ ठीक चल रहा था कि अचानक सारदा घोटाला सामने आ गया। मिथुन उस ग्रुप के ब्रांड अंबेसडर थे जो बंगाल में सारदा को चला रहा था। मामले की विवेचना के दौरान मिथुन से सवाल जवाब किए गए। 2015 में अभिनेता ने 1.19 करोड़ रुपए ईडी को लौटा दिए। यह राशि उस रकम का हिस्सा थी जो ब्रांड अंबेसडर के तौर पर उन्हें टैक्स जमा करने के बाद मिली थी। 2016 में उन्होंने राज्यसभा से त्यागपत्र दे दिया।

Next Stories
1 Samsung Galaxy: सैमसंग ला रहा है दो नई स्मार्टवॉच Galaxy Watch 4 और ACTIVE 4
2 Flipkart Smartphone Carnival sale: पोको एक्स 3, रियलमी, आईफोन और असुस के फोन पर मिलेगा भारी डिस्काउंट, जानें ऑफर्स और छूट
3 JioBook Laptop : रिलायंस JioPhone के बाद ला रहा है सस्ता लैपटॉप, जानें फीचर्स और कीमत
कोरोना LIVE:
X