ताज़ा खबर
 

मिशन लोकसभा : विकास के एजंडे पर लौटेगी भाजपा

राज्यों में लोकसभा चुनाव के लिए किए गए कार्यो की भी समीक्षा की जाएगी और आगामी लोकसभा चुनाव के लिए नेताओं को टारगेट भी तय किए जाएंगे। चुनाव नतीजों की समीक्षा के आधार पर संगठन के स्तर पर भी कुछ कदम उठाए जा सकते हैं।

Author December 13, 2018 6:26 AM
पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है. (फोटो सोर्स: एक्सप्रेस आर्काइव)

पंकज रोहिला

पांच राज्यों के चुनाव परिणामों से सबक लेकर भाजपा में लोकसभा की रणनीति को लेकर मंथन शुरू हो गया है। आला नेता 2019 में विकास के एजंडे पर जोर देने की बात उठाने लगे हैं। शीर्ष नेतृत्व ने इसपर काम करना शुरू कर दिया है। गुरुवार को पार्टी अध्यक्ष अमित शाह राज्यों के चुनाव नतीजों की समीक्षा करेंगे। सभी राज्यों के अध्यक्षों व संगठन मंत्रियों से चर्चा की जाएगी। चुनाव परिणाम की रिपोर्ट तैयार करने की प्रक्रिया शुरू की गई है। राज्यों में लोकसभा चुनाव के लिए किए गए कार्यो की भी समीक्षा की जाएगी और आगामी लोकसभा चुनाव के लिए नेताओं को टारगेट भी तय किए जाएंगे। चुनाव नतीजों की समीक्षा के आधार पर संगठन के स्तर पर भी कुछ कदम उठाए जा सकते हैं। राजस्थान में जहां एक प्रतिशत और मध्य प्रदेश में दशमलव पांच प्रतिशत के अंतर से भाजपा सत्ता गंवा बैठी।

छत्तीसगढ़ में पार्टी के वोट कांग्रेस की ओर खिसके हैं और अल्पसंख्यक वोट कांग्रेस की ओर एकजुट हुआ है। राजस्थान की स्थिति पर तर्क यह दिया जा रहा है कि यहां पांच साल में भाजपा 20 सीट से सीधे 100 सीट तक पहुंची थी। यहां सबसे बड़ा नुकसान प्रबंधन की वजह से हुआ। टिकट की वजह से नेताओं में नाराजगी थी। करीब 24 बागियों ने निर्दलीय पर्चा भरा। इनमें से 17 जीत गए हैं।

क्या बोले नेता
लालू यादव व शीला दीक्षित को भी लगातार विजय के बाद नुकसान उठाना पड़ा है। देश के राज्य चुनाव में भी ऐसी ही स्थिति थी। जनता बदलाव चाहती थी। इसके बावजूद भी भाजपा ने अच्छी टक्कर दी है
– रमेश विधूड़ी, सांसद व सहप्रभारी मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश में भाजपा व कांग्रेस की लड़ाई रही और कड़ी टक्कर के बाद दोनों के बीच मामूली अंतर रहा। ये मोदी के खिलाफ नहीं, केवल टिकट बंटवारे की वजह से मामूली दिक्कत रही है, जो परिणाम में भी साफ नजर आ रही है। – सतीश उपाध्याय

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App