ताज़ा खबर
 

जम्मू: प्रदर्शनकारियों व पुलिस में हिंसक झड़प, एक की मौत

जम्मू शहर में खालिस्तानी उग्रवादी नेता जरनैल सिंह भिंडरांवाले के पोस्टर हटाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे सिख युवकों और पुलिस के बीच संघर्ष में गुरुवार को एक युवक मारा गया और दो पुलिसकर्मियों समेत छह लोग घायल हो गए। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि हालात तनावपूर्ण हैं और जम्मू शहर के कई हिस्सों में धारा 144 लागू कर दी गई है। कुछ युवकों को हिरासत में लिया गया है।

Author June 5, 2015 8:55 AM
जम्मू में खालिस्तानी नेता जरनैल सिंह भिंडरांवाले के पोस्टर हटाने के खिलाफ गुरुवार को प्रदर्शनकारी युवक पुलिस पर पत्थर फेंकते हुए।

जम्मू शहर में खालिस्तानी उग्रवादी नेता जरनैल सिंह भिंडरांवाले के पोस्टर हटाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे सिख युवकों और पुलिस के बीच संघर्ष में गुरुवार को एक युवक मारा गया और दो पुलिसकर्मियों समेत छह लोग घायल हो गए। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि हालात तनावपूर्ण हैं और जम्मू शहर के कई हिस्सों में धारा 144 लागू कर दी गई है। कुछ युवकों को हिरासत में लिया गया है।

अधिकारियों ने कहा कि शहर के सतवारी इलाके में भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया और जवाब में पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसूगैस के गोले छोड़े। झड़प में एक युवक की मौत हो गई और दो पुलिसकर्मी समेत छह लोग घायल हो गए। हालांकि अस्पताल के सूत्रों ने कहा कि गोली लगने से युवक मारा गया।

अधिकारियों के मुताबिक समस्या तब शुरू हुई जब छह जून को भिंडरांवाले की पुण्यतिथि से पहले समुदाय के एक संगठन द्वारा लगाए गए खालिस्तानी नेता के पोस्टरों को हटाए जाने के खिलाफ लाठियों और कृपाणों से लैस सिख युवक सतवारी आरएस पुरा रोड पर रानीबाग-गांधीगढ़ पट्टी पर इकट्ठा हुए और यातायात अवरुद्ध किया।

पुलिस और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कुछ सिख युवकों ने सतवारी में जम्मू-पठानकोट राजमार्ग रोकने का प्रयास किया। खबरों के मुताबिक इनमें से कुछ ने खालिस्तान समर्थक नारे भी लगाए।

मौके पर भारी पुलिस बल पहुंचा और प्रदर्शनकारियों से सड़क से अवरोधक हटाने को कहा लेकिन सिख युवकों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। इसके बाद संघर्ष शुरू हो गया। पुलिस ने कहा कि हालात तनावपूर्ण हैं और कुछ लोग जम्मू के हालात को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं।

ऐसा पहली बार देखा गया है कि मारे जा चुके खालिस्तानी नेता के पोस्टर जम्मू में लगाए गए। इन पोस्टरों को हटाए जाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कुछ सिख युवकों ने बुधवार को कथित तौर पर एक पुलिस अधिकारी पर हमला कर दिया था जिससे वह जख्मी हो गए।

पुलिस के मुताबिक कुछ सिख युवकों ने धारदार हथियार से पुलिस उप-निरीक्षक अरूण कुमार पर हमला कर दिया जिससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गए। उन्हें दो अन्य पुलिसकर्मियों के साथ जीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सिखों के एक संगठन विशेष के कुछ सदस्यों ने बुधवार को सतवारी आरएस पुरा रोड पर भिंडरांवाले और कुछ अन्य उग्रवादी नेताओं के पोस्टर लगाए थे। सतवारी थाने के प्रभारी ने पोस्टर हटा दिए जिसके बाद सिख युवकों ने प्रदर्शन किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App