ताज़ा खबर
 

यूपी: रेप का वीडियो बनाकर इंटरनेट पर डालने के आरोप में दो लड़कियां हिरासत में, गांव में तनाव

घटना के बाद से गांव में फैले तनाव के मद्देनजर भारी तादाद में पुलिसबल की तैनाती की गई है। गांव में दोनों समुदाय के लोगों की रिहाईश है।

प. बंगाल के पास केवल 21 महिला सुरक्षा अधिकारी हैं जो अनुबंध पर कार्यरत हैं और उनके पास कोई सहायक स्टाफ या आधारभूत ढांचा भी नहीं है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बरेली पुलिस ने शनिवार को दो नाबालिग मुस्‍ल‍िम लड़कियों को हिरासत में लिया। इन पर आरोप है कि इन्‍होंने गांव के एक मुस्‍ल‍िम लड़के द्वारा एक नाबालिग हिंदू लड़की के कथित रेप का न केवल वीडियो शूट किया, बल्‍क‍ि इसे सर्कुलेट भी किया। मामला शेरगढ़ पुलिस स्‍टेशन इलाके का है। गिरफ्तार की गई लड़कियों की उम्र 16 और 17 साल है। पीडि़त लड़की की भी उम्र 17 साल है। घटना के बाद से गांव में फैले  तनाव के मद्देनजर भारी तादाद में पुलिसबल की तैनाती की गई है। गांव में दोनों समुदाय के लोगों की रिहाईश है।

मामला उस वक्‍त सामने आया, जब रेप की पीडि़त लड़की के चचेरे भाई ने अपने पड़ोसी के मोबाइल फोन पर वीडियो की क्‍ल‍िपिंग देखी। उसने इस बारे में पीडि़त लड़की के पिता को बताया। इसके बाद, पिता ने शुक्रवार रात पड़ोस के लड़के अमन और दो लड़कियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने रेप, अपराध करने के लिए घर में जबरन घुसने, आईटी एक्‍ट के 66 ए और पॉस्‍को के तहत मामला दर्ज किया है। अमन पर लड़की का रेप करने, जबकि दो लड़कियों पर इस घटनाक्रम का वीडियो बनाने और इसे सर्कुलेट करने का आरोप है। बरेली रेंज के डीआईजी आरकेएस राठौड़ ने कहा कि पुलिस ने 16 और 17 साल की दोनों आरोपी लड़कियो को हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। वहीं, आरोपी अमन की तलाश जारी है जो घटना सामने आने के बाद से फरार चल रहा है।

एडिशनल सुप्रीटेंडेंट ऑफ पुलिस वृजेश कुमार श्रीवास्‍तव ने बताया कि लड़कियों पर आरोप है कि उन्‍होंने एक महीने पहले पीडि़त के घर पर उसका वीडियो शूट किया। पुलिस अभी भी पीडि़त का बयान नहीं दर्ज कर पाई है। दोनों लड़कियां कथित तौर पर वीडियो शूट करने के लिए अमन के साथ पीडि़त लड़की के घर गई थीं। श्रीवास्‍तव के मुताबिक, लड़कियों ने ऐसा करने की बात कबूल कर ली है। शेरगढ़ इलाके के सर्किल ऑफिसर प्रमोद सिंह यादव के मुताबिक, रेप पीडि़त के पिता ने आरोप लगाया है कि 18 दिसंबर को जब उसकी बेटी घर पर अकेली थी और सभी बाहर गए हुए थे, तब उसका रेप हुआ। सीओ के मुताबिक, वीडियो क्‍ल‍िप करीब चार मिनट चौदह सेकंड का है। हिरासत में ली गई लड़की में से एक के पास से मिली मेमोरी चिप में यह वीडियो क्‍ल‍िप मिली है। सीओ ने यह भी कहा कि रेप पीडि़त ने यह नहीं कहा है कि अमन या लड़कियां उसे इस वीडियो के आधार पर ब्‍लैकमेल कर रही थीं। जांच में पता चलेगा कि अमन और आरोपी लड़कियां उसके घर कैसे पहुंचीं?

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App