मीडिया बलात्कार को ग्लैमराइज करती है: पंकजा मुंडे - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मीडिया बलात्कार को ग्लैमराइज करती है: पंकजा मुंडे

पंकजा मुंडे ने राय दी कि मीडिया को महिलाओं के खिलाफ अपराध को अत्यधिक कवरेज नहीं देना चाहिए क्योंकि यह आपराधिक मनोवृत्ति वाले लोगों में कुछ नया..

Author मुंबई | September 24, 2015 5:30 AM

महाराष्ट्र के ग्रामीण विकास मंत्री पंकजा मुंडे ने राय दी कि मीडिया को महिलाओं के खिलाफ अपराध को अत्यधिक कवरेज नहीं देना चाहिए क्योंकि यह आपराधिक मनोवृत्ति वाले लोगों में कुछ नया करने की ऊर्जा और आनंद का संचार करता है।

संवाददाताओं से बातचीत में मुंडे ने यहां कहा कि मीडिया को उन खबरों को समझना चाहिए जो अपराधियों का महिमामंडन करता है और उन्हें हीरो की तरह महसूस कराता है। मुंडे ने कहा, ‘‘कितने समय तक हम महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित कर सकते हैं जब समाज में आपराधिक मनोवृत्ति बढ़ रही है। महिलाओं की समूची स्थिति जैसी देखी जा रही है वो बद से बदतर होती जा रही है। छोटी-छोटी लड़कियां और यहां तक कि लड़के भी सुरक्षित नहीं हैं।’’

हाल की एक घटना का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि उनके निर्वाचन क्षेत्र में एक पिता के अपनी ही बेटी से बलात्कार करने की शर्मनाक घटना सामने आई है। उन्होंने कहा, ‘‘जब एक पिता ही ऐसा कर सकता है तो उससे बुरा और क्या हो सकता है। मेरा मानना है कि इस तरह की खबरों को अत्यधिक कवरेज नहीं दिया जाना चाहिए क्योंकि यह उन लोगों में हीरो का भाव भरता है जो पहले से ही आपराधिक मनोवृत्ति के हैं। यह उन्हें कुछ नया करने की ऊर्जा और सुख देता है और वे इस तरह का अपराध करते हैं।’’

मुंडे ने कहा कि समाचार को रिपोर्ट करने से पहले कुछ मामलों की संवेदनशीलता का खयाल रखा जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App