ताज़ा खबर
 

‘आपने अंडरवियर में दरवाजा खोला’, एमजे अकबर के खिलाफ एक और महिला सहकर्मी ने लगाए आरोप

Me Too Campaign Movement in India Hindi: तुशिता ने बताया कि वह पहली बार एमजे अकबर से अपने दोस्तों के साथ मिलीं और उसके बाद उन्होंने मुझे काम के सिलसिले में मिलने के लिए एक होटल बुलाया।

me too movement: केन्द्रीय मंत्री एमजे अकबर। (express photo)

केन्द्रीय मंत्री एमजे अकबर द्वारा पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करने के एक दिन बाद ही एक अन्य महिला पत्रकार ने एमजे अकबर के खिलाफ छेड़़छाड़ के आरोप लगा दिए हैं। वेब पोर्टल Scroll पर लिखे अपने एक लेख में पत्रकार तुशिता पटेल ने अपने साथ हुई 3 अलग-अलग घटनाओं का उल्लेख किया। बता दें कि तुशिता पटेल भी The Asian Age की उस टीम का हिस्सा थीं, जिसके हेड एमजे अकबर थे। तुशिता पटेल ने बताया कि किस तरह से एक बार एमजे अकबर अपने अंडरवियर में उसके सामने आ गए थे, वहीं अन्य दो मामलों में एमजे अकबर ने उन्हें जबरदस्ती किस किया था। तुशिता ने एमजे अकबर के खिलाफ आवाज उठाने वाली अन्य महिला पत्रकारों का समर्थन भी किया है।

बता दें कि एमजे अकबर के खिलाफ अभी तक कुल 20 महिलाओं ने छेड़छाड़ और यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। जिसके बाद एमजे अकबर ने उन पर आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर कर दिया है। तुशिता पटेल के अनुसार, ‘पहली घटना साल 1992 में घटी, जब वह कोलकाता के द टेलीग्राफ में ट्रेनी थीं। एमजे अकबर टेलीग्राफ में एडीटर रह चुके थे और साल 1989 में राजनीति ज्वाइन करने के लिए टेलीग्राफ छोड़ चुके थे।’ तुशिता ने बताया कि ‘वह पहली बार एमजे अकबर से अपने दोस्तों के साथ मिलीं और उसके बाद उन्होंने मुझे काम के सिलसिले में मिलने के लिए एक होटल बुलाया।’ पटेल लिखती हैं कि ‘जब उन्होंने डोरबेल बजायी तो उन्होंने जब दरवाजा खोला तो सिर्फ अंडरवियर पहना हुआ था। इसके बाद मैं दरवाजे पर ही डरी हुई और असहज खड़ी रही, जबकि आप एक वीआईपी की तरह मुझे डरते हुए देखकर खुश होते रहे।’

वहीं साल 1993 में घटी एक अन्य घटना में, जब तुशिता पटेल हैदराबाद में डेक्कन क्रोनिकल में सीनियर सब-एडीटर के पद पर थीं और एमजे अकबर वहां एडीटर इन चीफ थे। पटेल ने बताया कि ‘अकबर ने उन्हें होटल बुलाया और मेरे पेज को लेकर डिस्कस करने लगे।’ पटेल लिखती हैं कि ‘अचानक आप उठे और मुझे बाहों में लेकर जबरदस्ती किस किया।’ पटेल ने लिखा कि ‘ऑफिस में अगले दिन तुमने मुझे खाली कॉन्फ्रेंस रुम में बुलाया और फिर से किस किया।’ अपने इस लेख में तुशिता पटेल ने एमजे अकबर पर यौन शोषण के आरोप लगाने वाली महिलाओं का समर्थन किया। तुशिता ने ये भी लिखा कि ‘हम आपको अदालत में देखें…आप भी देखोगे कि हम कौन हैं। जब हम आपको बैरिकेड में दिखेंगे तो आप हमें पहचान लेंगे।’ बता दें कि एमजे अकबर द्वारा प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करने के बाद उन पर आरोप लगाने वाली महिला पत्रकार लामबंद हो गई हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App