ताज़ा खबर
 

मायावती ने कहा- जवाब से संतुष्‍ट नहीं, सिर काटकर चढ़ाने का वादा पूरा करें, स्‍मृति ईरानी बोलीं-हिम्‍मत है तो ले जाओ

संसद में गुरुवार को रोहित वेमुला के मामले पर डिबेट के दौरान स्‍मृति ईरानी ने कहा था कि अगर मायावती उनके बयान से संतुष्‍ट नहीं हुईं तो वे अपना सिर काटकर उनके चरणों में रख देंगी।

रोहित वेमुला के मुद्दे पर संसद में चल रही बहस के दूसरे दिन शुक्रवार को भी बीएसपी सुप्रीमो मायावती और मानव संसाधन मंत्री स्‍मृति ईरानी आमने सामने आ गईं। रोहित की आत्‍महत्‍या की जांच करने वाले पैनल में दलित सदस्‍य के न होने का मामला उठाते हुए मायावती ने कहा कि वे मंत्री के इस मामले में दिए गए जवाब से संतुष्‍ट नहीं हैं। मायावती ने यह भी कहा कि अब स्‍मृति ईरानी अपना (सिर काटकर चढ़ाने का) वादा पूरा करें। इस पर स्‍मृति ने कहा, ”मेरे जवाब से संतुष्‍ट नहीं हैं तो सिर कलम करके ले जाने की हिम्‍मत है तो ले लेकर जाओ।”बता दें कि संसद में गुरुवार को इस मामले पर डिबेट के दौरान स्‍मृति ईरानी ने कहा था कि अगर मायावती उनके बयान से संतुष्‍ट नहीं हुईं तो वे अपना सिर काटकर उनके चरणों में रख देंगी।

मायावती ने शुक्रवार को कहा कि स्‍मृति ईरानी ने उनसे अलग से माफी मांगी थी। मायावती ने कहा कि बड़े होने के नाते उन्‍होंने कल माफ कर दिया था, लेकिन अब वे ऐसा नहीं करेंगी। इससे पहले, मायावती के पूछे गए सवाल के जवाब में स्‍मृति ईरानी ने कहा कि यह गलत है कि जांच कमेटी में दलित बिरादरी का कोई सदस्‍य नहीं था। स्‍मृति ने यह भी कहा कि रोहित की कोई फेलोशिप नहीं रोकी गई।

READ ALSO: संसद में मायावती से बोलीं स्‍मृति ईरानी…तो अपना सिर काटकर आपके चरणों में रख दूंगी

Read Also: सीतराम येचुरी बोले- इंदिरा गांधी को थी ‘दुर्गा’ कहे जाने पर आपत्ति, क्‍योंकि दलित महिषासुर को पूजते हैं

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories