ताज़ा खबर
 

डिबेट में मौलाना ने सुबुही खान की हिन्दू लड़के से शादी पर उठाए सवाल, एंकर अमिश देवगन का जवाब – ये लोकतंत्र है करीना कपूर भी करीना खान बन जाती हैं

यासमीन फारुकी ने कहा कि इस्लाम कट्टरपंथी नहीं है...कोई कैसे जीयेगा ये उसकी जिंदगी है...आप मेरे मुंह मत लगीये..

tv debate, hindu, muslimमौलाना रशीद ने मुस्लिम लड़की के हिंदू लड़के से शादी को इस्लाम के खिलाफ बताया। फाइल फोटो

टीवी पर डिबेट के दौरान मौलाना साजिद रशीदी ने मुस्लिम लड़कियों के हिन्दू लड़कों से शादी पर सवाल उठाए तो सुबुही खान ने उनकी बोलती बंद करा दी। दरअसल ‘News18’ पर बहस के दौरान मौलाना ने सुबुही खान की हिन्दू लड़के से शादी पर सवाल उठाए। इसपर जवाब देते हुए सुबुही खान ने कहा कि ‘रशीदी साहब मुझे कह रहे हैं कि कभी मंदिर चली जाती है तो कभी मस्जिद,,मैं उनको जवाब दे दूं कि कहीं मंदिर तो कहीं मस्जिद की तख्ती हम लगा बैठे हैं…हमें ये क्या बनाना था हम ये क्या बना बैठे हैं…परिंदों के शहर में फिरकापरस्ती नहीं मिलती…कभी मंदिर में जा बैठे, कभी मस्जिद में जा बैठे..मैं वो हूं…आपकी तरह मुझे कट्टरवादी मानसिकता लेकर जीने की आदत नहीं है…अगर आपकी नजर में इस्लाम का मतलब आतंकवाद है तो मैं बिल्कुल उनके साथ नहीं हूं..मैं उनके खिलाफ खड़ी हूं।’

इसपर मौलाना ने सवाल उठाया कि कौन से इस्लाम में जायज है हिंदू से शादी करना। इसपर जवाब देते हुए सुबुही खान ने कहा कि मैंने भारत के कानून के मुताबिक हिंदू से शादी की है..मेरा भारत देश में दूसरे पंथ में शादी करना कानूनी है..मैं अपने देश के कानून को मानती हूं…मैं शरिया लॉ को नहीं मानती हूं..मैं इस्लामिक स्टेट को नहीं मानती…’ इसके बाद एंकर अमीश देवगन ने भी बीच में टोकते हुए मौलाना साजिद रशीदी को जवाब दिया कि ‘इस देश में लोकतंत्र है…यहां पर करीना कपूर भी करीना खान बन जाती हैं..जानी-मानी एक्ट्रेस हैं उन्हे आजादी है यह करने की और वो अपने बच्चे का नाम तैमूर भी रख सकती हैं उन्हें आजादी है यह करने की…वो सैफ अली खान से शादी कर सकती हैं उन्हें आजादी है ऐसा करने की..साजिश रशीदी आपको कोई शक है क्या, बोलिए जुबान बंद हो गई आपकी…’

इसी डिबेट में जब मौलाना साजिद रशीदी यासमीन फारूकी को इस्लाम का पाठ पढ़ाने लगे तब उन्होंने भी मौलाना को जवाब दिया। यासमीन फारुकी ने कहा कि इस्लाम कट्टरपंथी नहीं है…कोई कैसे जीयेगा ये उसकी जिंदगी है…आप मेरे मुंह मत लगीये..मैं आपकी बहुत इज्जत करती हूं लेकिन जो किसी औरत की इज्जत नहीं करते आप गलत बात कर रहे हैं…वो बदतमीज हो सकते हैं मैं बदतमीज नहीं हो सकती हूं…आपको किसी औरत से बदतमीजी करने का हक नहीं है…उन्होंने कहा कि इस्लाम किसी पर थोपा नहीं जा सकता वो चाहे मजहब इख्तियार कर सकता है…

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 MP By Elections से पहले BJP को झटका, पारुल साहू Congress में शामिल, कमलनाथ ने कहा- यह घरवापसी; पूरा परिवार है INC में
यह पढ़ा क्या?
X