मथुरा के शाही ईदगाह में स्थापित करेंगे कृष्ण की प्रतिमा- दक्षिणपंथी संगठन के ऐलान से कृष्ण नगरी का माहौल गरम

ईदगाह में पूजा किए जाने का ऐलान उस वक्त किया गया है जब स्थानीय अदालत 17वीं शताब्दी की मस्जिद को हटाने की मांग वाली याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है।

दक्षिणपंथी संगठन ने छह दिसंबर को शाही मस्जिद ईदगाह में भगवान कृष्ण का जलाभिषेक करने का ऐलान किया है। (फोटो: क्रिएटिव कॉमंस )

मथुरा के शाही ईदगाह में दक्षिणपंथी संगठन ने कृष्ण की प्रतिमा स्थापित किए जाने का ऐलान किया है। दक्षिणपंथी संगठन के इस ऐलान से कृष्ण नगरी का माहौल काफी गरम हो गया है और प्रशासन भी हरकत में आ गई है। पुलिस ने एहतियातन तौर पर धारा 144 लागू कर दिया है और साथ ही लोगों से अपील की जा रही है कि वह 6 दिसंबर तक किसी भी कार्यक्रम में शामिल न हो।

शनिवार को इसी के मद्देनजर मथुरा के जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल और एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने श्रीकृष्ण जन्मभूमि परिसर का निरीक्षण किया और सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। साथ ही सुरक्षा व्यवस्था में लगे सुरक्षाकर्मियों और अधिकारियों को चौकन्ना रहने के निर्देश भी दिए। एसएसपी ने साफ़ कह दिया है कि जिले में पहले से ही धारा 144 लागू है। अफवाह फैलाने वाले और शांति व्यवस्था भंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

प्रशासन ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए लोगों से सहयोग की अपील की है। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने कहा कि अभी तक किसी भी संगठन ने मंदिर या ईदगाह परिसर में किसी भी कार्यक्रम की अनुमति नहीं मांगी है और न ही जिला प्रशासन किसी भी प्रकार के कार्यक्रम करने की अनुमति दे सकता है   

दरअसल दक्षिणपंथी संगठन अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने ऐलान किया है कि आगामी छह दिसंबर को शाही मस्जिद ईदगाह में भगवान कृष्ण का जलाभिषेक होगा और उनकी पूजा की जाएगी। ईदगाह में पूजा किए जाने का ऐलान उस वक्त किया गया है जब स्थानीय अदालत 17वीं शताब्दी की मस्जिद को हटाने की मांग वाली याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है। साथ ही अदालत में श्रीकृष्ण जन्मभूमि परिसर का मालिकाना हक़ भी मांगा गया है।

हिंदू संगठन के ऐलान के बाद मथुरा के सामाजिक सौहार्द पर किसी भी तरह की आंच न आने देने के लिए स्थानीय संगठनों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शहर में सुरक्षा बढ़ाए जाने की अपील की है। मथुरा में कौमी एकता मंच के सदस्यों ने छह दिसंबर तक सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है और कहा है कि श्री कृष्ण जन्मस्थान और शाही ईदगाह के बीच हुए समझौते को करीब 53 साल हो गए हैं। हम इसे तोड़ने नहीं दे सकते हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट